शराबी पिता ने कि बच्चे की हत्या; दादी की शिकायत पर हुआ गिरफ्तार

कोलकाता: पश्चिम बंगाल की राजधानी में एक पिता की दरिंदगी का मामला सामने आया है। बाथरूम जाने की जिद करने पर शराबी पिता ने बेटे की हत्या कर दी और फिर उसे बोरे में बंद कर ठिकाने लगा दिया। बाद में दीदी की शिकायत के बाद पुलिस ने उसे गिरफ्तार किया है। पुलिस ने इस मामले की जांच की और गोरबा कब्रिस्तान से बच्चे के शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम कराया। फिर शनिवार की रात तिलजला से विजय बराल नाम के आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया। गिरफ्तारी के बाद पूछताछ जारी है।

बच्चे के पिता ने अपने बेटे की हत्या करने की बात कबूल कर ली है। उसने अपने कबूलनामे में कहा कि घटना वाले दिन वह घर में शराब पी रहा था। उस समय लड़के ने बाथरूम ले जाने की जिद की। फिर उसने अपने बेटे को जोरदार थप्पड़ मारा। इससे बच्चा बेहोश हो गया। उसके बाद विजय ने अपने बेटे के शव को बस्ते में बंदकर ठिकाने लगा दिया।

ऐसे किया दादी ने पिता की दरिंदगी का खुलासा
पुलिस और स्थानीय सूत्रों के अनुसार 6 नवंबर को आनंदपुर थाना क्षेत्र में बच्चे का शव बरामद किया गया था। एक दिन बाद बच्चे की दादी ने थाने में शिकायत दर्ज कराई। पहले तो बच्चे के माता-पिता ने दावा किया कि उनका बच्चा बाथरूम में एक बाल्टी पानी में डूब गया था, लेकिन घटना ने तब मोड़ ले लिया जब बच्चे की दादी ने थाने में शिकायत दर्ज कराई। बच्ची की दादी ने थाने में फोन कर शक जताया। उन्होंने दावा किया कि बच्चे की मौत बाल्टी में गिरने से नहीं हुई है। यह हत्या का मामला है।

जांच के बाद पुलिस को पता चला कि घटना की रात बच्चे के पिता घर पर थे। मां काम पर गई थी। बच्चा अपने पिता के साथ घर पर था. इसलिए दीदी को किसी बात पर शक हो गया। हत्या का मामला दर्ज होने के बाद पुलिस ने बच्चे के शव को कब्र से निकाल कर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। रिपोर्ट मिलने के बाद पिता को गिरफ्तार कर लिया गया।

शेयर करें

मुख्य समाचार

पहले इलाज, फिर होगी कागजी प्रकिया – ममता

कोलकाता : एसएसकेएम अस्पताल के ट्राॅमा केयर सेंटर के इंतजाम पर सीएम ममता बनर्जी ने असंतोष जताया है और साफ निर्देेश दिया है कि पहले आगे पढ़ें »

चंदन की तस्करी : हावड़ा से मुख्य अभियुक्त समेत 4 गिरफ्तार

सलकिया स्कूल रोड के एक गोदाम से मिली चोरी हुई 1.80 क्विंटल चंदन की लकड़ी सन्मार्ग संवाददाता हावड़ा : पुरुलिया जिले की बाघमुंडी पुलिस ने चंदन की आगे पढ़ें »

ऊपर