क्या आप भी जल्दी-जल्दी खाना खाते हैं? खाना खाने में वैसे कितना टाइम लगना चाहिए?

कोलकाताः स्वास्थ्य ही हमारी पूंजी है और इसी स्वास्थ्य के लिए हम खाना खाते हैं ,लेकिन आजकल की भागदौड़ भरी जिंदगी में हम आराम से और धीरे-धीरे खाना खाना तो बिल्कुल भूल ही गए हैं। खाना खाने को हम किसी काम की तरह जल्दी बाजी में निपटा देते हैं। यही वजह है कि आज इंसान बीमार है। लोगों को 100 तरह की परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। अगर आप भी फास्ट ईटर हैं तो आपको इससे जुड़ी कुछ बातें जरूर जाननी चाहिए।

खाना खाने के लिए औसत कितना समय लेना चाहिए?

एक्सपर्ट और विशेषज्ञों के मुताबिक खाना खाने के समय आपको कम से कम 30 से 35 मिनट का समय जरूर लेना चाहिए। इस दौरान आपको बिल्कुल रिलैक्स होकर भोजन को खूब चबाकर खाना चाहिए। एक्सपर्ट कहते हैं कि भोजन को आनंद लेते हुए सेवन करने से ये शरीर में लगता भी है और आपको खाने ने मजा भी आता है। खाना खाते समय आपको दिमाग को शांत रखते हुए थाने पर ध्यान केंद्रित करना चाहिए। खाने को आराम-आराम से धीरे-धीरे खाना चाहिए क्योंकि जल्दी बाजी में खाने से आपके खाने का कण सांस वाली नली में फंस सकता है, जल्दी बाजी में खाना खाने से पाचन क्रिया पर बहुत ज्यादा दबाव पड़ता है, जिससे भोजन को पचने में अधिक समय लगता है।

भोजन की गति को धीमा करने के सुझाव

अपने भोजन को 30 मिनट तक बढ़ाने के लिए टाइमर का उपयोग करें या घड़ी देखें।

भोजन के आधार पर प्रत्येक निवाले को 15 से 30 बार चबाने की कोशिश करें।

हर कुछ खाने के निवाले के साथ पानी के घूंट लें। यह आपको भरा हुआ महसूस करने में भी मदद कर सकता है।

क्या कहती है स्टडी?

एक अलग अध्ययन से यह बात सामने आई, खाने की गति में कमी से वजन बढ़ना कम हो गया और मोटापे को रोका गया। जापान के एक विश्वविद्यालय के शोधकर्ताओं ने टाइप 2 मधुमेह वाले 59,717 लोगों के डेटा की जांच की। शोधकर्ताओं ने लोगों से खुद को फास्ट ईटर्स, मीडियम ईटर्स या स्लो ईटर्स के रूप में वर्णित करने के लिए कहा, जो लोग धीरे-धीरे खाने वाले थे उनमें मोटापे का जोखिम सबसे कम था। जो लोग स्वयं को मध्यम-खाने वाले के रूप में वर्णित करते हैं, उनमें थोड़ा अधिक जोखिम था, लेकिन सबसे अधिक जोखिम तेजी से खाने वाले समूह में था।

जल्दी में खाने से हो सकती है ये परेशानियां

अगर आप खाना धीरे और चबा कर खाते हैं तो इससे आपका डाइजेशन सही रहता है, लेकिन जल्दी बाजी में खाना खाने से या चबाने के बजाय निगल जाने से डाइजेशन बिगड़ सकता है। सीने में जलन, अपच और गैस जैसी दिक्कतें होने की संभावना रहती है।

जल्दी-जल्दी खाने से आपको डायबिटीज का भी खतरा हो सकता है। खाना जल्दी खाने से शरीर में इंसुलिन का प्रभाव कम होने और ब्लड ग्लूकोस के बढ़ने की संभावना बनी रहती है, इसके चलते आप डायबिटीज के शिकार हो सकते हैं।

जल्दी में खाना खाने से इंसान मेटाबोलिक सिंड्रोम का शिकार हो जाता है। ऐसे में उसे हाई ब्लड प्रेशर की समस्या होने लगती है, और हाई ब्लड प्रेशर की वजह से ही हार्ट अटैक का खतरा बढ़ जाता है।
जल्दी जल्दी खाने की आदत कैसे बदले

– अपने खाने के लिए समय नियमित करें।

– दिन में जितनी बार भी खाते हैं उसके हिसाब से अपना समय तय करें।

– खाते समय किसी अन्य चीजों के बारे में ना सोचे।

– ट्रैवल के वक्त खाने से बचें।

 

Visited 524 times, 1 visit(s) today
शेयर करें

मुख्य समाचार

Kolkata Metro Timing : आज से रात 11 बजे के बाद भी चलेगी मेट्रो !

कोलकाता : इस वक्त की बड़ी खबर आ रही है कि मेट्रो रेलवे आज यानी 24 मई से प्रायोगिक तौर पर रात में ब्लू लाइन आगे पढ़ें »

Weather Update: बंगाल में भीषण गर्मी के बीच आज 3 जिलों में बदलेगा मौसम, कहां-कहां होगी बारिश ?

कोलकाता: बंगाल में लोगों को लू और गर्म हवा का सामना करना पड़ रहा है। मौसम विभाग की मानें तो गर्मी की लहर अभी कम आगे पढ़ें »

PM Modi Roadshow in Kolkata : अब से बस थोड़ी देर बाद पीएम मोदी का रोड शो

’10-15 रुपये कमाने के लिए सोचना पड़ता…’ IPL सैलरी को लेकर Rinku Singh ने दे दिया …

राम रहीम डेरा मैनेजर की हत्या के केस में बरी

650 से अधिक यात्री बदरीनाथ के दर्शन किए बिना ही लौटे घर, क्या है मामला??

मिजोरम में बारिश ने मचायी तबाही, 12 लोगों की मौत, कई लोग हो गए लापता….

Kolkata: बैंक घोटाले को लेकर व्यवसायी के ठिकानों पर ED ने मारा छापा…

Kolkata News : दो देशों की पुलिस के लिए गुत्थी बना सांसद हत्याकांड

मेट्रो ने स्टेशन में जलजमाव का दोष मढ़ा केएमसी पर, मेयर ने बारिश को ठहराया जिम्मेदार

एयरपोर्ट खुला लेकिन क्राॅस विंड ने रोके रखा उड़ानों को, 12 उड़ानें डायवर्ट

Cyclone Remal : चक्रवात गुजर गया लेकिन जिलों में छोड़ गया गहरा निशान

ऊपर