अब एक्वाटिका में होगा अरिजीत सिंह का कॉन्सर्ट !

तृणमूल ने कहा, ‘गेरुआ’ गाने की वजह से ईको पार्क में रद्द नहीं हुआ अरिजीत का कॉन्सर्ट
अतिरिक्त सुरक्षा व्यवस्था मुहैया करवाना था बड़ा चैलेंज
सन्मार्ग संवाददाता
कोलकाता : अरिजीत सिंह के रद्द हुए कॉन्सर्ट को लेकर राजनीति कम होने का नाम नहीं ले रही है। यह कॉन्सर्ट ईको पार्क में होना था जो अब संभवत: एक्वाटिका में होने की बात चल रही है। बताया जा रहा है कि अरिजीत सिंह के आयोजक अब एक्वाटिका जाकर देख रहे हैं कि वहां कॉन्सर्ट होगा कि नहीं।
इधर इस मुद्दे पर भाजपा व बाकी राजनीतिक दलों की तरफ से जहां इसके लिए राजनीतिक रंग देने की बात कही जा रही है वहीं तृणमूल के प्रवक्ता कुणाल घोष ने उल्टे भाजपा को आड़े हाथों लिया। विपक्ष द्वारा आरोप लगाया जा रहा है कि कोलकाता इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल में अरिजीत ने रंग दे तू मोहे गेरुआ गाना गाया था जिसकी वजह से उसके कॉन्सर्ट को ईको पार्क में करने की अनुमति नहीं दी गयी। इस पर कुणाल ने सफाई देते हुए कहा कि गेरुआ गाने की वजह से ईको पार्क में अरिजीत का कॉन्सर्ट रद्द नहीं हुआ बल्कि वहां सरकार की तरफ से अतिरिक्त सुरक्षा व्यवस्था मुहैया करना बड़ा चैलेंज होता इसलिए वहां कॉन्सर्ट की अनुमति नहीं दी गयी।
कुणाल ने कहा कि अरिजीत ने गेरुआ गाना फिल्म फे​स्टिवल में 15 दिसंबर को गाया था जबकि उसका रिफंड 5 लाख रुपया 8 दिसंबर को हुआ था। भाजपा रंग की राजनीति कर रही है जबकि रंग पर किसी की कॉपीराइट नहीं होती है।
कुणाल ने कहा कि सिर्फ अरिजीत नहीं सलमान खान का भी कॉन्सर्ट वहां होना था जिसे सुरक्षा के मद्देनजर अनुमति नहीं दी गयी, उसका रिफंड 3 लाख रुपये भी लौटा दिया गया। कुणाल ने कहा कि दोनों को ही ईको पार्क की जगह मिलन मेला में कॉन्सर्ट करने की सलाह दी गयी थी जिसे उनके आयोजकों ने अस्वीकार कर दिया।

शेयर करें

मुख्य समाचार

‘तापस भाजपा का ‌आदमी है, अदालत में भी यही कहूंगा’

कोलकाताः तापस मंडल का भाजपा से 'सांठगांठ' है। शिक्षक भर्ती भ्रष्टाचार मामले में फंसे तृणमूल युवा नेता कुंतल घोष ने शुक्रवार को सीजीओ परिसर से आगे पढ़ें »

बड़ी खबर : कोलकाता में चिकन पॉक्स से मरने वालों की संख्या 26 हुई

कोलकाताः  क्या कोविड के तरह ही चिकल पॉक्स भी लोगों में बढ़े जा रहा है? क्या इसके संक्रमण का तरीके भी कोविड के जैसे ही आगे पढ़ें »

ऊपर