बुजुर्ग के प्राइवेट पार्ट में फंस गया बम, अस्पताल पहुंचा तो कांप उठे डॉक्टर्स और फिर…

नई दिल्ली : फ्रांस में कुछ दिनों पहले हैरतअंगेज मामला सामने आया, जिसे देखकर डॉक्टरों की भी रूह कांप गई। 88 साल के एक बुजुर्ग अस्पताल पहुंचे और उन्होंने डॉक्टरों को बताया कि उनके प्राइवेट पार्ट में फर्स्ट वर्ल्ड वॉर का बम फंसा हुआ है। जैसे ही डॉक्टरों ने यह सुना, वहां अफरा-तफरी मच गई और अस्पताल को खाली कराना पड़ गया। बाद में उन्होंने कर्मचारियों को समझाया कि यह बम डिएक्टिव है और वह कलेक्शन का पार्ट है। यह घटना टॉलन शहर के सेंट मुसे अस्पताल की है। एहतियात के तौर पर कर्मचारियों ने कुछ मरीजों को इमारत से बाहर निकाल दिया और बम निरोधक दस्ते को सूचित किया।
एक कर्मचारी ने लोकल न्यूजपेपर को मामले की जानकारी दी। उसने कहा, ‘हम लोगों के शरीर में कई बार अजीबोगरीब चीजों को फंसे हुए देखते हैं जैसे आम, सेब इत्यादि। लेकिन बम तो कभी नहीं।’ बुजुर्ग के अस्पताल पहुंचने के बाद वहां से कई मरीजों को निकाला गया और आने वाले अन्य मरीजों को दूसरे हॉस्पिटल जाने को कहा गया।
डॉक्टरों ने की सर्जरी
जब बम दस्ते की ओर से इस बात की पुष्टि हो गई कि बम डिफ्यूज है और वह ब्लास्ट नहीं होगा तब डॉक्टरों ने बुजुर्ग की सर्जरी की और बम को बाहर निकाला। दरअसल बम बुजुर्ग के रेक्टम यानी मलाशय में फंस गया था, जिसके बाद उनके पेट का ऑपरेशन किया गया। बम की लंबाई 20 सेमी और चौड़ाई 6 सेमी थी। अपने भाई के घर से बुजुर्ग को यह बम मिला था। उनका ऑपरेशन सफल रहा और अब वह रिकवरी कर रहे हैं।
ऐसे प्राइवेट पार्ट में फंसा बम
1900 की शुरुआत में फ्रांसीसी सैनिक इस बम का इस्तेमाल करते थे। पहले वर्ल्ड वॉर में यह बम कलेक्शन का हिस्सा था। खबरों के मुताबिक बुजुर्ग यौन सुख के लिए बम का इस्तेमाल कर रहा था और वह उनके अंदर ही फंस गया। साल 2021 में ब्रिटेन में भी ऐसा ही मामला सामने आया था। ऐसी ही समस्या के साथ एक शख्स अस्पताल गया था। उसके शरीर में सेकंड वर्ल्ड वॉर का बम फंसा था।

 

Visited 240 times, 1 visit(s) today
शेयर करें

मुख्य समाचार

आईएसपीएल को लेकर उत्साहित हैं बॉलीवुड सितारे, सैफ-अभिषेक ने …

मुंबई : इंडियन स्ट्रीट प्रीमियर लीग (आईएसपीएल) जल्द ही लोगों का मनोरंजन करने के लिए शुरू होने जा रहा है। दर्शकों को इस टेनिस बॉल आगे पढ़ें »

लोकसभा चुनाव से पहले लागू होगा CAA ?

नई दिल्ली: देश में नागरिकता संशोधन अधिनियम (CAA) जल्द लागू हो सकता है। सूत्रों के अनुसार, लोकसभा चुनाव के लिए आदर्श आचार संहिता जारी होने आगे पढ़ें »

ऊपर