भितरकनिका में फिर से देखे गए सफेद मगरमच्छ, संख्या में मामूली वृद्धि

ओडिशा : ओडिशा में भितरकनिका राष्ट्रीय उद्यान ने देश में खुद की पहचान एक बार फिर दुर्लभ अल्बिनो एस्टुअरीन मगरमच्छ (सफेद मगरमच्छ) के पसंदीदा स्थल के तौर पर बना ली है। इस वन्यजीव उद्यान के आर्द्रभूमि के साथ लगते खारे जलाशयों में 20 दुर्लभ सफेद मगरमच्छ फिर से देखे जा रहे हैं। मगरमच्छों की वार्षिक गणना के अनुसार, 2023 में खारे पानी के मगरमच्छों की संख्या में मामूली वृद्धि हुई है। इस दौरान 1,793 मगरमच्छों की गिनती की गई है, जिसमें 20 सफेद ‘एस्टुअरीन’ मगरमच्छ शामिल हैं। वहीं, 2022 में इनकी संख्या 1,784 थी। मगरमच्छ शोधकर्ता डॉ. सुधाकर कार ने कहा कि एस्टुअरीन मगरमच्छ पश्चिम बंगाल के सुंदरबन में पाए जाते हैं। उन्होंने कहा कि इसके अलावा, ये अंडमान द्वीप समूह में मैंग्रोव आर्द्रभूमि में भी पाये जाते हैं। उन्होंने कहा कि हालांकि भितरकनिका के वनक्षेत्रों में मगरमच्छों की संख्या अधिक है। डॉ. सुधाकर कार ने मगरमच्छों की गणना करने वाली टीम का नेतृत्व किया था।

 

शेयर करें

मुख्य समाचार

रेडियो के जरिए लोगों को साइबर क्राइम के प्रति जागरूक कर रही है कोलकाता पुलिस

अगले दो महीने तक रेडियो पर चलेगा विज्ञापन सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : कोलकाता पुलिस के साइबर सेल की ओर से महानगर में विभिन्न तरह के साइबर क्राइम आगे पढ़ें »

इन 5 मौकों पर घर में कभी नहीं बनानी चाहिए रोटी, टूट पड़ता है दुखों का पहाड़

कोलकाता : आपने एकादशी पर अक्षत यानी चावल न बनाने के शास्त्रीय नियमों के बारे में तो सुना ही होगा। लेकिन क्या आपको पता है आगे पढ़ें »

ऊपर