ब्रह्मोस मिसाइल का सुखोई से सफल परीक्षण

नई दिल्लीः इंडियन एयरफोर्स ने बंगाल की खाड़ी में ब्रह्मोस एयर लॉन्च मिसाइल का सफल परीक्षण किया। यह 400 किलोमीटर तक के टारगेट को निशाना बना सकती है। वायु सेना ने अपने ऑफिशियल बयान में कहा- इस मिसाइल को सुखोई Su-30 फाइटर एयरक्राफ्ट से टेस्ट किया गया है। रक्षा विभाग ने बताया कि टेस्ट के दौरान मिसाइल ने टारगेट की गई शिप को बीचोंबीच मारा। यह मिसाइल के एयर-लॉन्च वर्जन का एंटी-शिप वर्जन है।

अब जानिए टेस्ट से क्या हासिल हुआ
इंडियन नेवी अपने वॉरशिप से 400 किलोमीटर दूर तक के दुश्मन जहाजों को ध्वस्त कर सकेगी। वॉरशिप से सुखोई इस मिसाइल को लेकर उड़ेगा और दुश्मन के जहाज को आसानी से निशाना बना लेगा।

सेना की ताकत बढ़ी
इस मिसाइल के परीक्षण से एयरफोर्स ने जमीन और समुद्री टारगेटों को लंबी दूरी से निशाना बनाने की उपलब्धि हासिल कर ली है। अगर कभी युद्ध की स्थिति बनी तो इंडियन एयरफोर्स की रणनीतिक को सुखोई और यह मिसाइल मजबूती प्रदान करेगी। रक्षा मंत्रालय ने कहा- इस परीक्षण एयरफोर्स, नौसेना, DRDO, BAPL और HAL की संयुक्त उपलब्धि है।

इसी साल मई की शुरुआत में भारत ने ब्रह्मोस एयर लॉन्च मिसाइल का सफल परीक्षण Su-30 MKI फाइटर एयरक्राफ्ट से किया था। यह ब्रह्मोस मिसाइल का सुखोई से पहला टेस्ट था।

 

 

Visited 65 times, 1 visit(s) today
शेयर करें

मुख्य समाचार

सिर्फ गर्दन का व्यायाम हमें इतने रोगों से रख सकता है दूर

कोलकाता : रीढ़ की हड्डी को कशेरूक दंड या मेरूदंड कहा जाता है। इससे समस्त कंकाल को सहारा मिलता है। रीढ़ की हड्डी या मेरूदंड आगे पढ़ें »

गुरुवार के दिन विष्णु भगवान की करें पूजा, इन 3 बातों को रखें ध्यान

नई दिल्ली: गुरुवार के दिन का हिंदूओं में विशेष महत्व है। गुरुवार के दिन भगवान विष्णु और देवताओं के गुरु बृहस्पति देव की पूजा होती आगे पढ़ें »

ऊपर