‘कलियुग की मीरा’ ने कान्हा से रचाया ब्याह

नई दिल्ली: भगवान श्रीकृष्ण को लोग अलग-अलग नामों से बुलाते हैं और उनके अलग-अलग अवतार हैं। कोई उन्हें बालगोपाल कहता है, कोई उन्हें भगवान विष्णु, तो कोई उन्हें मर्यादा पुरषोत्तम राम। नाम अलग-अलग, लेकिन लोगों के मन को मोह लेने वाले केवल एक- ‘गिरधारी’। कान्हा से प्रेम तो हर कोई करता है, लेकिन राधा और मीरा जैसा प्रेम आज तक कोई नहीं कर पाया, जिसके बारे में हमें ग्रंथों और पुराणों में पढ़ने और सुनने को मिलता है। वो तो द्वापर युग की बात थी, लेकिन अगर हम ये कहें कि कलियुग की मीरा भी अस्तित्व में हैं, तो ये कहना गलत नहीं होगा।

दरअसल, हाल ही में जयपुर से एक मामला सामने आया है, जिसमें ठाकुरजी के प्रेम की दीवानी पूजा सिंह ने अपने ईष्ट से ब्याह रचा लिया है। इस शादी में सारे रस्मों-रिवाज के साथ-साथ बाकायदा बारात निकाली गई, जिसमें 311 लोग शामिल हुए। आज हम इसी शादी की बात करने वाले हैं, जिसमें मदनमोहन कलियुग में दूल्हेराजा बने हैं।

मामला जयपुर के गोविंदगढ़ में स्थित ग्राम नरसिंहपुरा से सामने आया है जहां 8 दिसम्बर को पूजा ने ठाकुरजी की मूर्ति रखकर शादी की सभी रस्में निभाई, जिनमें हल्दी, मेंहदी से लेकर फेरे तक शामिल थे। जहां एक तरफ पूजा शादी के लिए बिल्कुल दुल्हन की तरह तैयार हुई। वहीं, ठाकुरजी की भी एक दूल्हे की तरह पूरी साज-सज्जा की गई। पूजा ने रस्म के मुताबिक, चंदन से अपनी मांग भरी और शादी के बाद ठाकुरजी को पति मानने का संकल्प लिया। साथ ही कहा कि वो अपनी आखिरी सांस तक भगवान की भक्ति में लीन रहेंगी।

 

शेयर करें

मुख्य समाचार

फिलहाल जेल में ही रहेंगे अनुब्रत, जमानत के लिए आवेदन ‌ही नहीं किया

आसनसोलः आसनसोल की विशेष अदालत ने गौ तस्करी के मामले में अनुब्रत मंडल को जेल भेजने का आदेश दिया है। अनुब्रत 17 फरवरी तक जेल आगे पढ़ें »

दिल्ली एयरपोर्ट पर स्पाइसजेट स्टाफ और यात्रियों के बीच तीखी बहस, इस वजह से हुआ हंगामा

पटनाः पटना जाने वाली स्पाइसजेट की उड़ान के यात्रियों और एयरलाइन कर्मचारियों के बीच शुक्रवार सुबह (3 फरवरी) सुबह दिल्ली हवाईअड्डे पर तीखी बहस हुई। आगे पढ़ें »

ऊपर