70 साल बाद भारत में फिर सुनाई देगी चीतों की दहाड़, नामीबिया से लाए जाएंगे चीते

नई दिल्ली : भारत में कई दशकों के इंतजार के बाद चीतों की वापसी हो रही है। करीब 70 साल बाद भारत में दोबारा चीता दिखाई देंगे। नामीबिया से करार के चलते 17 सितंबर को 8 चीते भारत लाए जा रहे हैं। इसी दिन पीएम मोदी का जन्मदिन भी है। अब चीतों की भारत वापसी को पीएम मोदी के जन्मदिन का तोहफा बताया जा रहा है। इसी दिन पीएम मोदी की मौजूदगी में सभी चीतों को मध्य प्रदेश के कूनो नेशनल पार्क में छोड़ा जाएगा। अब इन चीतों को लाने के लिए भारत का विशेष विमान नामीबिया पहुंच चुका है। भारत से नामीबिया गए इस विमान को खासतौर पर डिजाइन किया गया है। इस विमान की तस्वीरें सामने आई हैं। इस पर चीते का मुंह प्रिंट किया गया है, जो देखने में काफी आकर्षक नजर आ रहा है। इसी विमान से आठों चीतों को भारत लाया जा रहा है। क्योंकि 70 साल बाद देश को चीते मिल रहे हैं, ऐसे में इसे एक इवेंट की तरह देखा जा रहा है।
चीतों को लाने के लिए 91 करोड़ का बजट
16 सितंबर यानी कल नामीबिया की राजधानी विंडहॉक से इस विशेष विमान के जरिए चीतों को भारत लाया जा रहा है। 8 चीतों में 5 मादा और 3 नर चीते शामिल हैं। सूत्रों के मुताबिक 17 सितंबर सुबह ये 8 चीते जयपुर लैंड करेंगे और वहां से हेलिकॉप्टर के जरिए उन्हें कूनो नेशनल पार्क लाया जाएगा। यह पहली बार होगा जब किसी मांसाहारी पशु को एक महाद्वीप से दूसरे महाद्वीप लाया जा रहा है। 2020 में सुप्रीम कोर्ट ने नामीबिया से चीता लाने को हरी झंडी दे दी थी। फिलहाल इस पूरी परियोजना के लिए सरकार 91 करोड़ का बजट निर्धारित किया है।

 

शेयर करें

मुख्य समाचार

विदेशी में नौकरी दिलाने के नाम पर कोलकाता में युवकों का अपहरण, ली गयी 5 करोड़ से अधिक की फिरौती

अंतरराष्ट्रीय किडनैपिंग व फिरौती वसूलनेवाले गिरोह का फंडाफोड़ न्यू टाउन के फ्लैट से 18 युवकों का उद्धार पंजाब और हरियाणा सहित अन्य राज्यों के युवकों को बनाते आगे पढ़ें »

महानगर में 41 नए ईवी चार्जिंग स्टेशन सथापित करेगा निगम

कोलकाता : महानगर में इलेक्ट्रिक वाहनों की संख्या में बढ़ोतरी के मद्देनजर कोलकाता नगर निगम ने शहर भर में पार्किंग लॉट्स में करीब 41 चार्जिंग आगे पढ़ें »

ऊपर