छत्तीसगढ़ में एक कॉल पर घर बैठे बनेगा 5 साल तक के बच्चों का आधार कार्ड

छत्तीसगढ़: मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की मंशानुरूप नागरिकों को आवश्यक सेवाएं घर पर ही उपलब्ध कराने के लिए 1 नवंबर से मुख्यमंत्री मितान योजना में एक और सेवा को जोड़ी गई है। इस योजना के तहत अब 5 साल तक के बच्चों का आधार मितान द्वारा घर आकर बनाया जाएगा। टोल फ्री नंबर 14545 पर कॉल कर अपनी सुविधानुसार अपॉइंटमेंट बुक किया जा सकता है। आवेदक द्वारा दी गई नियत तिथि और समय अनुसार मितान घर आकर बच्चों का आधार पंजीकरण करने आएंगे। पंजीकरण प्रक्रिया पूर्ण होने के कुछ ही दिनों में बच्चे का आधार आवेदक द्वारा दिए गए पते पर आ जाएगा।

बच्चों का आधार बनाने के लिए यह दस्तावेज है आवश्यक

मुख्यमंत्री मितान योजना के माध्यम से 5 साल तक के बच्चों का आधार बनाने के लिए निम्न दस्तावेज आवश्यक हैं कि राशन कार्ड, सीजीएसएस/ स्टेट गवर्नमेंट/ ईसीएचएस/ ईएसआईसी/मेडिकल कार्ड, आर्मी कैंटीन कार्ड, पासपोर्ट, बर्थ सर्टिफिकेट, राज्य अथवा केंद्र सरकार द्वारा जारी परिवार से संबंधित दस्तावेज बच्चों के आधार पंजीकरण के समय माता, पिता मे से किसी एक का आधार नंबर एवं बायोमेट्रिक अनिवार्य होगा।

बच्चों का आधार बनाने के लाभ
5 साल तक के बच्चों का आधार बनाने से विभिन्न शासकीय योजनाओं का लाभ लेने के लिए महत्वपूर्ण होता है। छोटे बच्चों का आधार बनाने से यह एक डिजिटल फोटो पहचान के रूप में भी काम आता है। इसके अतिरिक्त पासपोर्ट, पेन कार्ड, बैंक खाता के लिए भी आधार कार्ड उपयोगी रहेगा। इस योजना में अब तक जन्म प्रमाण-पत्र,मृत्यु प्रमाण-पत्र,विवाह प्रमाण-पत्र,जाति प्रमाण-पत्र,निवास प्रमाण-पत्र जैसे ज़रूरी सेवाएं घर बैठे मिल रही हैं। मालूम हो कि मुख्यमंत्री मितान योजना को फिलहाल प्रदेश के 14 नगर निगमों में शुरू किया गया है, जिसे बाद मे प्रदेश के सभी नगरीय निकायों में शुरू किया जाएगा।

शेयर करें

मुख्य समाचार

अब डेढ़ मिनट के अंतराल पर छूटेगी कोलकाता मेट्रो

मेट्रो स्टेशनों पर मिलेगी वाईफाई की सुविधा नार्थ-साउथ मेट्रो में बदले जा रहे हैं सिग्नलिंग सिस्टम इसके लिए पहले ही बुलाए जा चुके हैं टेंडर सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : आगे पढ़ें »

राष्ट्रीय राजनीति की ओर : 12 को मेघालय जाएंगी ममता

पार्टी कर्मियों के साथ करेंगी बैठक सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : तृणमूल कांग्रेस की प्रमुख व मुख्यमंत्री ममता बनर्जी अगले हफ्ते 12 दिसंबर को मेघालय जाने वाली है। आगे पढ़ें »

ऊपर