अनुब्रत ने रिश्तेदारों के अकाउंट में कराये थे 17 करोड़ रुपये

दस्तावेजों की छानबीन में हुआ नया खुलासा, फिर बैंक अधिकारियों को तलब करेगा सीबीआई
सन्मार्ग संवाददाता
कोलकाता : मवेशी तस्करी मामले में अनुब्रत मंडल के खिलाफ सीबीआई के अधिकारियों के पास कुछ और पुख्ता सबूत मिले हैं। सीबीआई सूत्रों की माने तो पिछले सालों में अनुब्रत मंडल और उनके रिश्तेदारों के एकाउंट में 17 करोड़ रुपए हुए जमा किये गये हैं। इस मामले में दो राष्ट्रीय बैंकों व एक निजी बैंक के अधिकारी को सीबीआई की टीम तलब कर सकती है। इससे पहले भी सीबीआई की टीम ने इन बैंकों के अधिकारियों से पूछताछ की थी। इस बारे में अधिकारियों ने सीबीआई की टीम को बताया था कि उस वक्त कोई अधिकारी थे। इस पर सीबीआई की टीम ने उन अधिकारियों को भी डिटेल्स मांगा था। सीबीआई की टीम ने इससे पहले 17 करोड़ के एफडी के साथ अनुब्रत के पास से सोना भी बरामद किया था। केन्द्रीय एजेंसी के मुताबिक कई बार देखा गया है कि मवेशी तस्करी का रुपया बांग्लादेश से सोने की तस्करी के माध्यम से पहुंचाया गया था। इसके अलावा भी कई नयी जानकारियां सीबीआई के अधिकारियों को मिली है। कुल एक दर्जन बैंक खातों की जानकारी सीबीआई को और लगी है। इनमें से अधिकतर उनके रिश्तेदारों के हैं। इन खातों में 2017 से 2021 के बीच कुल 16 करोड़ 45 लाख रुपये जमा हुए हैं।
आयकर ने पहले ही 80 संपत्तियों को बताया था बेनामी एक्ट के तहत
आयकर सूत्रों की माने तो 50 हजार से अधिक रुपये जमा करने पर पैन कार्ड बैंक मांगता है। इसके बाद एक साल में 10 लाख की अगर नकदी जमा की जाए तो इसकी जानकारी आयकर विभाग के पास देनी होती है। आयकर की टीम अनुब्रत मंडल के खिलाफ पहले भी कार्रवाई कर चुकी है। उनकी कई बेनामी संपत्तियों का भी आयकर सहित कई अन्य एजेेंसियों के पास पूरी जानकारी है। आयकर ने पहले ही अनुब्रत से जुड़े हुई लगभग 80 संपत्तियों को बेनामी एक्ट के तहत बताया था। सीबीआई सूत्रों की माने तो अनुब्रत दिवंगत पत्नी और बेटी सुकन्या के नाम पर करोड़ों रुपये जमा करवाये थे। इसके अलावा आरोप है कि एक और ​रिश्तेदार विद्युत बरण गायन के अकाउंट में भी रुपये जमा करवाए गये थे। सेंट्रल इंटेलिजेंस एजेंसी इतनी बड़ी रकम के स्रोत की जांच कर रही है। सीबीआई सूत्रों का कहना है कि इतनी बड़ी रकम सभी नियमों को ताक पर रखकर जमा की गयी और इसके बाद भी कोई कार्रवाई नहीं हुई, इस बारे में सीबीआई की टीम बैंक अधिकारियों से पूछताछ करेगी। सीबीआई को शक है कि बैंक का कोई कर्मी भी इसमें मिला हो सकता है। उल्लेखनीय है कि सीबीआई की टीम पहले भी उनके व उनकी बेटी के बैंक अकाउंट को फ्रिज कर दिया है। उन खातों में फिक्स्ड डिपॉजिट सहित करोड़ों रुपये थे। अब धीरे-धीरे सीबीआई की टीम उनके रिश्तेदारों के अकाउंट पर न​जर डाले हुए हैं। जल्द ही सीबीआई की टीम बड़ी कार्रवाई कर सकती है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

एनामुल हक से तिहाड़ जेल में आज सीआईडी अधिकारी करेंगे पूछताछ

मवेशी तस्करी मामले में पूछताछ करने के ‌लिए दिल्ली पहुंचे सीआईडी अधिकारी सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : मवेशी तस्करी मामले में मुख्य अभियुक्त एमानुल हक से पूछताछ के आगे पढ़ें »

बीमारियों को दूर रखता है आपके किचन में रखा लहसुन, जानिए चमत्कारी लाभ

नई दिल्ली : लहसुन में एंटी-ऑक्सीडेंट्स और एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण पाए जाते हैं। इससे शरीर में हो रहे दर्द को कम करने में मदद मिलती है। आगे पढ़ें »

ऊपर