हेल्थ के लिए कमल ककड़ी के यह है चमतकारी फायदे

कोलकाता: पोटेशियम, फास्फोरस, मैंगनीज, थायमिन, पैंटोथेनिक एसिड, विटामिन बी 6 और विटामिन सी के साथ कमल ककड़ी  प्रोटीन का एक जरूरी स्रोत है। कमल की जड़ एक प्रकार की पानी जड़ वाली सब्जी है जो आकार में एक लंबे स्क्वैश के समान होती है। कमल की जड़ एक सब्जी है जिसमें एक कुरकुरी बनावट और हल्का मीठा स्वाद होता है। कमल की जड़ कैलोरी में बहुत कम और कोलेस्ट्रॉल फ्री होती है। इसमें पाए जाने वाले विटामिन, मिनरल्स और पोषक तत्वों शरीर के लिए बेहद फायदेमंद होते हैं। जानिए कमल ककड़ी के चमतकारी फायदे-

1. हेल्दी स्किन और बाल
कमल ककड़ी खाने से स्किन और बालों में चमक आती है। यह बी और सी विटामिन का अच्छा स्रोत है। विटामिन सी शरीर में कोलेजन प्रोडक्शन को उत्तेजित करता है, जो स्किन को सॉफ्ट बनाने में मदद करते हैं।

2. मेंटेन होगा वेट

इसमें कैलोरी की मात्रा बहुत कम और फाइबर ज्‍यादा होता है। ऐसे में कमल ककड़ी का यह गुण आपको भूख का एहसास नहीं होने देता है। ये आपके पाचन तंत्र को उत्तेजित करने में भी मदद करती है, जिससे वजन कम करने में मदद मिलती है।

3. मल त्याग में मदद
कमल ककड़ी में फाइबर की मात्रा ज्यादा होती है, जो पाचन को उत्तेजित करने में मदद करता है। यह कब्ज की समस्या को कम करने में मदद करता है। इसी के साथ ये आंतों की मांसपेशियों में पेरिस्टाल्टिक मूवमेंट को उत्तेजित करता है, जिससे आसान मल त्याग में मदद मिलती है।

4. इंफेक्शन होगी ठीक
कमल ककड़ी शरीर से अलग-अलग संक्रमणों और फंगल इंफेक्शन जैसे चेचक, कुष्ठ रोग और दाद से बचा सकते हैं। यह एंटीऑक्सिडेंट का एक अच्छा स्रोत है क्योंकि इसमें पर्याप्त मात्रा में विटामिन सी होता है। हालांकि अगर आप औषधीय तौर पर इसे खा रहे हैं तो डॉक्टर से सलाह जरूर लें।

5. ब्लड प्रेशर कम होता है
कमल ककड़ी में पोटेशियम का अच्छा स्रोत होता है। ऐसे में यह आपके ब्लड से खराब कोलेस्ट्रॉल को कम करने में मदद करता है। इसे खाने से दिल के दौरे का खतरा कम होता है और इससे धमनियों में रुकावट को रोका जा सकता है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

लालू यादव का सिंगापुर में किडनी ट्रांसप्लांट सफल, बेटी रोहणी ने की डोनेट

सिंगापुर : पूर्व रेल मंत्री, बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री और राष्ट्रीय जनता दल के राष्ट्रीय अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव सिंगापुर में किडनी ट्रांसप्लांट कराने के आगे पढ़ें »

संसद में अचानक महिला एमपी को पीटने लगा विपक्षी दल का सांसद

नई दिल्ली : किसी भी देश की संसद में नेताओं को एक दूसरे से बहसबाजी करते हुए अक्सर देखा जाता है। लेकिन सदन में एक आगे पढ़ें »

ऊपर