मंगलवार के दिन हनुमान जी की पूजा में जरूर …

कोलकाताः धार्मिक दृष्टि से मंगलवार हनुमान जी का दिन है। इस दिन हनुमान जी के भक्त उनके लिए मंगलवार का व्रत रखते हैं और उनकी विधि-विधान से पूजा करते हैं। मान्यता है कि हनुमानजी अपने भक्तों की सारी पीड़ाएं और संकटों को दूर करते हैं। इसलिए उन्हें संकट मोचक नाम से भी पुकारा जाता है। लेकिन हनुमान जी की पूजा में कई बातों का ध्यान रखना जरूरी होता है। आइए जानते हैं मंगलवार के दिन हनुमान जी की पूजा के नियम :-
हनुमान साधना में तन के साथ मन की शुद्धता एवं पवित्रता होना भी बहुत अनिवार्य है। हनुमान जी की साधना करने के दौरान ब्रह्मचर्य का पूर्ण पालन करना बहुत आवश्यक होता है। हनुमान जी की पूजा पूर्ण आस्था, श्रद्धा और सेवा भाव के साथ करनी चाहिए। हनुमान जी को अर्पित किया जाने वाला प्रसाद शुद्ध घी का बना होना चाहिए।

  • जो प्रसाद हनुमान जी को अर्पित करें उसे साधक को भी ग्रहण करना चाहिए। हनुमान जी को तिल या चमेली के तेल में मिले हुए सिंदूर का लेपन करना चाहिए। हनुमान जी का तिलक करने के लिए केसर के साथ लाल चंदन घिसकर लगाना चाहिए।
  • मंगलवार को गलती से भी उड़द दाल का सेवन नहीं करना चाहिए। इस दिन उड़द खाने से शनि मंगल का संयोग आपकी सेहत के लिए कष्टकारी हो सकता है। उड़द का संबंध शनि से है। इसके अलावा मंगलवार को दूध से बनी चीजें दान भी नहीं करनी चाहिए।
  • मंगलवार का दिन राम भक्त हनुमान जी को समर्पित किया जाता है। इस दिन भूलकर भी नाखून, बाल या दाढ़ी नहीं कटवानी चाहिए। माना जाता है कि इससे हनुमान जी रूष्ट हो जाते हैं।
  • मंगलवार के दिन बड़े भाई से झगड़ा न करें। मंगल का संबंध बड़े भाई से माना गया है। भाई से विवाद मंगल को खराब करता है जिससे दुर्घटना और कष्ट का सामना करना पड़ता है। पारिवारिक जीवन में परेशानी बढ़ती है।
  • मंगलवार का दिन बहुत ही पवित्र माना गया है। इस दिन भूलकर भी मांस-मदिरा या अन्य किसी भी प्रकार की नशीली चीजों का प्रयोग नहीं करना चाहिए। यदि कोई व्यक्ति ऐसा करता है तो उसे नुकसान का सामना करना पड़ सकता है।
  • मंगलवार के दिन शृंगार का सामान खरीदना भी शुभ नहीं माना जाता है। मान्यता अनुसार इस दिन श्रंगार का सामान खरीदने से वैवाहिक जीवन में समस्याएं आने लगती हैं।
शेयर करें

मुख्य समाचार

डायमण्ड हार्बर में सुकांत के सामने भिड़े भाजपाई, पार्टी ने कहा, राजनीतिक विवाद नहीं

डायमण्ड हार्बर में सुकांत के सामने भिड़े भाजपाई, पार्टी ने कहा, राजनीतिक विवाद नहीं सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : शनिवार को डायमण्ड हार्बर में प्रदेश भाजपा अध्यक्ष सुकांत आगे पढ़ें »

घर के सामने जमा होता है पानी, सौरभ ने मेयर को दी चिट्ठी

सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : महानगर की सड़क पर जलजमाव की समस्या कोई नयी नहीं है। फिलहाल मानसून का समय आने में देरी है, लेकिन सौरभ गांगुली आगे पढ़ें »

ऊपर