डायबिटिज अवेयरनेस वीक: कम उम्र में नहीं होना है ‘डायबिटीज़’ का शिकार, तो…

कोलकाता : दुनियाभर में डायबिटीज़ के मामले तेज़ी से बढ़ रहे हैं, और अब चिंता की बात यह है कि पहले की तरह डायबिटीज़ सिर्फ उम्रदराज़ लोगों में ही नहीं, बल्कि युवाओं में भी देखी जा रही है। डायबिटीज़ यूके के मुताबिक, 2016-17 में युवाओं में 120,000 डायबिटीज़ के मामले आए थे, जो 2020-21 में बढ़कर 148,000 हो गए यानी 23 फीसदी बढ़ गए। जिससे साफ है कि अब युवा भी तेज़ी से डायबिटीज़ की चपेट में आ रहे हैं।
कम उम्र में क्यों बढ़ रहे हैं डायबिटीज़ के मामले?
कम उम्र में जो लोग डायबिटीज़ के शिकार हो रहे हैं, उसके पीछे मुख्य वजह है मोटापा। और मोटापा आता है जंक, प्रोसेस्ड, मीठे और फैट्स युक्त फूड्स से। इसके अलावा एक्सरसाइज़ की कमी भी वज़न बढ़ाती है। नौजवान लोगों में तनाव भी डायबिटीज़ का कारण बन रहा है। आमतौर पर जिन लोगों को कम उम्र में टाइप-2 डायबिटीज़ हो जाती है, उनके परिवार में भी डायबिटीज़ का इतिहास होता है।
नौजवान लोगों में डायबिटीज़ के लक्षण कैसे होते हैं?
टाइप-2 डायबिटीज़ के लक्षण और संकेत युवाओं में वैसे ही होते हैं जैसे उम्रदराज़ लोगों में दिखाई देते हैं। डायबिटीज़ के शुरुआती लक्षणो में ज़्यादा प्यास लगना, ज़्यादा पेशाब आना, थकावट महसूस होना, घाव का न भरना और पैरों में सुन महसूस होना। इसके अलावा लोगों की आंखें भी कमज़ोर हो सकती हैं और उन्हें धुंदला दिखाई दे सकता है।
क्या कम उम्र में डायबिटीज़ से बचा जा सकता है?
डायबिटीज़ एक लाइफस्टाइल से जुड़ी बीमारी है, जिससे बचना बिल्कुल संभव है। अपनी डाइट में ज़्यादा से ज़्यादा हेल्दी खाने को शामिल करें और कार्ब्स और कैलोरी के सेवन को कम करें।
40 की उम्र से पहले ऐसे करें डायबिटीज़ से बचाव
1. फिज़ीकल एक्टीविटी को दें अहमियत
शारीरिक गतिविधि हमारी ज़िंदगी की सबसे ज़रूरी दवा है। हम में से ज़्यादातर लोग बिज़ी लाइफस्टाइल की वजह से एक्सरसाइज़ का समय नहीं निकाल पाते हैं। रोज़ हल्का ही सही लेकिन कुछ देर व्यायाम ज़रूर करें, जैसे ब्रिस्क वॉकिंग, घर के काम, बागबानी, भारी सामान को उठाना, डांस आदि। आप किसी एक्सपर्ट की सलाह भी ले सकते हैं।
2. लंबाई के हिसाब से सही वज़न रखें
अगर आपकी हाईट के हिसाब से आपका वज़न ज़्यादा है, तो इसे कम करने की कोशिश करें। इससे आपका मेटाबॉलिज़्म बेहतर होगा और आप हेल्दी जीवन जी सकेंगे। डाइट में प्रोटीन का सेवन बढ़ाएं और अतिरिक्त कार्ब्स को कम करें। क्रेश डाइट से बचें और ज़रूरी कैलोरीज़ और पोषण को शामिल करें।
3. स्मोकिंग छोड़ें
डायबिटीज़ से बचने के लिए तंबाकू का किसी भी तरह का सेवन बंद करना ज़रूरी है। स्मोकिंग खासतौर पर, इसके अलावा अगर आप तंबाकू का और किसी भी तरह से सेवन करते हैं, तो उसे भी बंद करें।
4. तनाव से बचने की कोशिश करें
तनाव सभी की ज़िंदगी में होता है, हम सभी किसी न किसी दिक्कतों से गुज़रते रहते हैं। ज़िंदगी में मुश्किलों को ख़त्म नहीं किया जा सकता, लेकिन इससे बचने के लिए दूसरे उपाय ज़रूर ढूंढ़े जा सकते हैं। आप गाने सुनें, डांस, ध्यान, योग करें और इसके अलावा काउंसलिंग की भी मदद ले सकते हैं।
5. नींद पूरी लें
अच्छी सेहत के लिए ज़रूरी है कि हमारी रात की नींद पूरी हो। डायबिटीज़ से बचने के लिए रोज़ कम से कम 7 घंटे की नींद ज़रूर लें।

 

शेयर करें

मुख्य समाचार

सीएए लागू होने से कोई नहीं रोक सकता : शुभेंदु

कहा, साबित करें ​कि मैंने सीएम के पैर छूए सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : विधानसभा में सौजन्यता की राजनीति को भूलते हुए शनिवार को विपक्ष के नेता शुभेंदु आगे पढ़ें »

हाई कोर्ट ने खड़े किए हाथ, कहा : सुप्रीम कोर्ट जाएं

हीरा की रद्दगी और रेरा की बहाली से जुड़ा एक उलझा हुआ सवाल सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : सुप्रीम कोर्ट ने इसी साल चार मई को पश्चिम बंगाल आगे पढ़ें »

ऊपर