प्राइवेट पार्ट में रंग डालना सेक्स नहीं, 7 साल की बच्ची से दुष्कर्म के आरोपी को…

मुंबईः बॉम्बे हाईकोर्ट ने सात साल की बच्ची से अप्राकृतिक यौन दुराचार के आरोपी रफीक अफजल शेख को जमानत दी है। आरोपी के खिलाफ नवी मुंबई के कोपरखैरने पुलिस स्टेशन में नाबालिग पर यौन उत्पीड़न का मामला दर्ज किया गया था। पीड़िता (सात साल) की मां की शिकायत पर आरोपी के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई थी। एफआईआर में पीड़िता की मां ने कहा है- 30 सितंबर 2019 को मेरी सात साल की बेटी अपने अन्य साथियों के साथ घर के बाहर खेल रही थी। इसी दौरान दाढ़ी वाला एक इंसान आया, जिसने उसे अपने घर में बुलाया। वहां उसने बेटी को निर्वस्त्र कर उसके साथ अप्राकृतिक यौन दुराचार किया। बच्ची के चिल्लाने पर उसने उसे पीटा और आवाज बाहर न जाए इसके लिए उसका मुंह दबाया। वारदात के बाद जब बेटी बाहर आई तो वहां उसके साथी इंतजार कर रहे थे। बेटी ने घर पहुंचकर इस पूरी घटना की जानकारी दी। इसके बाद परिजनों ने उस दाढ़ी वाले की व्यक्ति की तलाश शुरू की। इसी दौरान चौकीदार ने बताया कि आरोपी पड़ोस के अपार्टमेंट में रहता है।
मेडिकल रिपोर्ट में पाया गया कि बच्ची के साथ यौन उत्पीड़न की यह घटना 27 सिंतबर को हुई, ना कि 30 सितंबर को। पीड़िता की मां के मुताबिक पीड़िता की दोस्त उसे पास के एक घर में 50 साल के एक आदमी के पास ले गई। उसने कहा कि वह पैसे देगा। जब पीड़िता वहां गई तो उस आदमी ने उसके कपड़े उतारे और उसके प्राइवेट पार्ट पर लाल रंग का पानी डाल दिया। न्यायमूर्ति भक्ति डांगरे ने कहा कि प्राइवेट पार्ट को हाथ से खोलना और उसमें कुछ पदार्थ डालने का आरोप ‘सेक्स’ के दायरे में नहीं आते। हालांकि यौन दुराचार की जिन अन्य धाराओं के तहत आरोपी पर मुकदमा चलाया जा रहा था, उनमें दोषी ठहराए जाने पर पांच साल तक की कैद का प्रावधान है। आरोपी लगभग तीन साल से जेल में बंद है। वह जमानत पर रिहा होने का हकदार है।

 

शेयर करें

मुख्य समाचार

अब दूसरे मामले में नौशाद सिद्दीकी को 6 दिनों की पुलिस हिरासत

पंचायत चुनाव तक मुझे जेल में रखना चाहती है तृणमूल - नौशाद सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : भांगड़ से आईएसएफ विधायक नौशाद सिद्दीकी को शुक्रवार को 6 दिनों आगे पढ़ें »

शुभेंदु के बाद दिलीप और मिठुन ने भी कहा, ‘अल्पसंख्यक विरोधी नहीं है भाजपा’

सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : राज्य में पंचायत चुनाव होने वाले हैं और अगले साल लोकसभा चुनाव भी है। ऐसे में भाजपा अभी से खुद को आगे पढ़ें »

ऊपर