अब्दू रोजिक का शो में छलका दर्द, बुरे दिनों को याद कर कहा- ‘मुझे कचरा मानकर…’

नई दिल्ली : ‘बिग बॉस 16’ में अब्दू रोजिक दर्शकों के पसंदीदा कंटेस्टेंट बनते जा रहे हैं। आपको बता दें कि वो 19 साल के हैं लेकिन इस उम्र में उनकी समझारी और पॉजिटिव जीने का तरीका लोगों को उनका कायल कर रहा है। इतना ही नहीं वो अपनी बातों से लोगों को काफी मोटिवेट भी करते हैं। दरअसल, ‘बिग बॉस’ के बीते एपिसोड में अब्दू रोजिक और एमसी स्टैन के बीच एक शानदार मोमेंट देखने को मिला। आपको बता दें कि शो के शुरुआत से ही एमसी स्टैन काफी बुझे-बुझे से थे। इसके अलावा वो किसी भी टास्क में न के बराबर ही भाग ले रहे हैं। इतना ही नहीं वो इस हफ्ते घर से बेघर होने के लिए नॉमिनेटेड भी हैं। हालांकि, ‘बिग बॉस’ ने उन्हें अपने आपको बचाने का एक मौका भी दिया लेकिन उन्होंने उस मौके को खो दिया। इसके बाद से एमसी स्टैन काफी दुखी हैं। वहीं, इसके बाद अब्दू रोजिक एमसी स्टैन के पास आकर उन्हें समझाने और मोटिवेट करने की कोशिश करते हैं।
एमसी स्टैन को मोटिवेट करते हुए अब्दू ने अपने बारे में बात की और बताया कि उन्हें सोशल मीडिया पर कितना ट्रोल किया जाता था। लेकिन फिर भी वो हमेशा पॉजिटिव ही रहते थे। अब्दू ने एमसी से कहा- ‘मुझे फेम और पैसे नहीं चाहिएं। सोशल मीडिया पर बहुत से लोग मेरे बारे में बुरी बातें कहते हैं। कुछ लोग कहते हैं मैं कचरा हूं। इससे भी बहुत बुरे-बुरे कमेंट्स मेरे लिए आते हैं, मगर मुझे इससे और हिम्मत मिलती है’।
अब्दू ने आगे कहा- ‘लाइफ में हमेशा सिर्फ खुशियां ही नहीं होतीं। बुरे पल भी होते हैं। मुझे ‘बिग बॉस’ बहुत पसंद है। मैं यहां दूसरे लोगों के बारे में जान सकता हूं। भले ही इस घर से बाहर मैं एक सेलिब्रिटी हूं लेकिन ‘बिग बॉस’ के घर में हस सब एक जैसे ही हैं। यहां हम सब काम करते हैं। हर वक्त आप बड़े स्टार नहीं होते और हर समय आपके पास पैसे भी नहीं होते। खैर, अब्दू की ये बातें फैंस को बहुत पसंद आ रही हैं। ये कहना गलत नहीं है कि लोग ‘बिग बॉस’ में अब्दू को काफी पसंद कर रहे हैं।

 

शेयर करें

मुख्य समाचार

साल्टलेक में फेक कॉल सेंटर का भंडाफोड़, 4 गिरफ्तार

विधाननगर : साल्टलेक और न्यूटाउन में कुकुरमुत्ते की तरह फर्जी कॉल सेंटर का व्यवसाय फैल गया है। आये दिन पुलिस की ओर से अभियान चलाकर आगे पढ़ें »

टेट 2014 : 824 की अवैध नियुक्ति, हाई कोर्ट में रिट

सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : हाई कोर्ट में दायर एक रिट में आरोप लगाया गया है कि 2014 के टेट में अवैध नियुक्तियां दी गई हैं। इसकी आगे पढ़ें »

ऊपर