भारतीय टीम की खराब गेंदबाजी और टूटा वर्ल्ड कप का सपना

नई दिल्ली : टी20 वर्ल्ड कप का दूसरा सेमीफाइनल भारत और इंग्लैंड के बीच गुरुवार को एडिलेड में खेला गया। इंग्लैंड ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी का फैसला किया। टीम इंडिया ने 20 ओवर में छह विकेट पर 168 रन बनाए। जवाब में इंग्लैंड की टीम 16 ओवर में बिना विकेट गंवाए 170 रन बना लिए।

टी-20 वर्ल्ड कप में भारत की हार 
टी-20 वर्ल्ड कप 2022 में भारत का सफर खत्म हो गया है। इंग्लैंड ने दूसरे सेमीफाइनल में भारत को बुरी तरह मात दी है। एलेक्स हेल्स और जोस बटलर के आगे टीम इंडिया की बॉलिंग यूनिट ने घुटने टेक दिए और भारत को एक बुरी हार झेलनी पड़ी है। भारत ने इस मैच में पहले बल्लेबाजी करते हुए 168 का स्कोर बनाया था, जवाब में इंग्लैंड ने बेहद ही आसानी से इस लक्ष्य को हासिल कर लिया है।

14 ओवर के बाद इंग्लैंड का स्कोर 154/0
इंग्लैंड टीम ने 14 ओवर के बाद 154 रन बिना किसी नुकसान के बना लिए हैं। जोस बटलर 70 रन और एलेक्स हेल्स 80 रन बनाकर क्रीज पर मौजूद हैं।
इंग्लैंड ने पक्की की अपनी जीत ?
इंग्लैंड के खिलाफ टीम इंडिया ने पूरी तरह सरेंडर कर दिया है। एलेक्स हेल्स के बाद अब जोस बटलर की भी फिफ्टी हो गई है। इंग्लैंड को अब 42 बॉल में सिर्फ 29 रनों की जरूरत है। टीम इंडिया के हाथ से मैच और वर्ल्ड कप दोनों ही निकलते हुए नज़र आ रहे हैं।
इंग्लैंड का स्कोर 91/0
इंग्लैंड की पारी के 9 ओवर खत्म हो गए हैं और स्कोर 91 पर पहुंच गया है। इंग्लैंड के लिए एलेक्स हेल्स ने फिफ्टी जमा दी है, जबकि जोस बटलर भी 36 रनों के स्कोर पर खेल रहे हैं भारतीय बॉलर्स ने पूरी तरह घुटने टेक दिए हैं और अब इंग्लैंड को मैच जीतने के लिए सिर्फ 78 रनों की जरूरत है।
इंग्लैंड के बल्लेबाजों के आगे पस्त हुए भारतीय बॉलर्स
इंग्लैंड की पारी के 7 ओवर खत्म हो गए हैं और स्कोर बिना विकेट खोए 75 रन हो गया है। एलेक्स हेल्स 42 रन बनाकर और जोस बटलर 29 रन बनाकर क्रीज पर मौजूद हैं। अब जीत के लिए सिर्फ 94 रनों की जरूरत है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

लालू यादव का सिंगापुर में किडनी ट्रांसप्लांट सफल, बेटी रोहणी ने की डोनेट

सिंगापुर : पूर्व रेल मंत्री, बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री और राष्ट्रीय जनता दल के राष्ट्रीय अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव सिंगापुर में किडनी ट्रांसप्लांट कराने के आगे पढ़ें »

संसद में अचानक महिला एमपी को पीटने लगा विपक्षी दल का सांसद

नई दिल्ली : किसी भी देश की संसद में नेताओं को एक दूसरे से बहसबाजी करते हुए अक्सर देखा जाता है। लेकिन सदन में एक आगे पढ़ें »

ऊपर