हर बात पर बंगाल में भेजी जाती है केंद्रीय टीम, भड़कीं मुख्यमंत्री

सन्मार्ग संवाददाता
अलीपुरदुआर : बंगाल में केंद्रीय टीमों के लगातार दौरे से सीएम ममता बनर्जी काफी बिफरी हैं। गुरुवार को अलीपुरदुआर की जनसभा से सीएम ने केंद्र सरकार पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि यहां हर बात पर केंद्रीय टीम भेजी जाती है। स्थिति ऐसी है कि मच्छर काटने से भी केंद्रीय टीम आ और जा रही है। एक चॉकलेट भी फटता है तो यहां एनआईए की टीम आ जाती है। ममता बनर्जी ने केंद्र से आने वाली जांच टीमों को लेकर सवाल खड़े करते हुए कहा कि हाईकोर्ट में मामले पर जांच बार काउंसिल आफ इंडिया की टीम भेज दी। अगर कुछ होगा तो कलकत्ता हाईकोर्ट के चीफ जस्टिस देखेंगे। जब यूपी में किसी महिला के साथ अत्याचार होता है तो वहां कितनी टीम भेजी जाती है ?
6000 करोड़ है बकाया, हमें भिक्षा नहीं हक चाहिए
ममता बनर्जी ने कहा कि केंद्र सरकार फंड नहीं दे रही है। सौ दिन रोजगार का
6000 करोड़ रुपये बकाया है। हमलाेग केंद्र के सामने भीख नहीं मांगेंगे लेकिन हक का पैसा देना होगा। केंद्र सरकार यहां से टैक्स लेकर चली जाती है और यहां रेड करवाती है। राज्य की जनता को ही विभिन्न तरह से वंचित कर रखा जा रहा है। अपने संबोधन में मुख्यमंत्री ने कहा कि वह हासीमारा में एयरपोर्ट तैयार करना चाहती हैं। कूचबिहार में एयरपोर्ट निर्माण के लिए उन्होंने निवेश किया है।
हम जो कहते हैं वह करते हैं
मुख्यमंत्री ने कहा कि हमारी पार्टी चुनाव के एक साल पहले लोगों को यह बताने नहीं आती है कि हम आपके लिए हैं। हम पहले से ही आपलोगों के साथ हैं और आगे भी साथ रहेंगे। हमलोग जो कहते हैं वह करते हैं।
हर जगह दिखती है केवल उनकी ही तस्वीरें
नाम लिये बिना ममता बनर्जी ने कहा कि सभी जगहों पर केवल उनका ही चेहरा रहता है। राशन से लेकर सभी जगह एक ही चेहरा दिखता है। यदि सभी जगह एक ही चेहरा दिखता है, तो फिर मरने के बाद भी वही चेहरा दिखे।

शेयर करें

मुख्य समाचार

हाते खोड़ी कार्यक्रम के बाद ही दिल्ली पहुंचे राज्यपाल

परीक्षा पे चर्चा कार्यक्रम में वर्चुअल रूप से हुए शामिल, पीएम मोदी को सराहा सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता/नई दिल्ली : राज्यपाल डॉ. सी.वी. आनंदा बोस गुरुवार को हाते आगे पढ़ें »

हावड़ा-पुरी के बीच दौड़ेगी 8 कोच की नई मिनी वंदे भारत ट्रेन

हावड़ा : भारतीय रेलवे 2 रूटों पर मिनी वंदे भारत एक्सप्रेस ट्रेन चलाने चल रही है। हावड़ा-न्यूजलपाईगुड़ी के बाद अब रेलवे मंत्रालय अगले महीने से आगे पढ़ें »

ऊपर