ऐसे ले भरपूर सेक्स लाइफ का मजा

कोलकाता : पुरुषों में कामोत्तेजना और इजैक्यूलेशन के दौरान पेशाब के रास्ते से निकलने वाले सफेद लसलसे तरल द्रव को वीर्य कहा जाता है। यह प्रोस्टेट ग्लैंड और अन्य पुरुष प्रजनन अंगों से स्पर्म (शुक्राणु) और तरल पदार्थ ग्रहण करके बनता है। आमतौर पर वीर्य गाढ़ा एवं सफेद रंग का होता है। हालांकि, कई स्थितियों में इसके रंग और क्वालिटी में बदलाव हो सकता है। वीर्य का पतला होना कम शुक्राणुओं के होने का लक्षण है, जिससे प्रजनन क्षमता पर असर पड़ता है। वीर्य की क्वालिटी और शुक्राणुओं की संख्या बढ़ना पुरुषों की हेल्दी सेक्स लाइफ के लिए बहुत जरूरी है। इसलिए यहां जानिए सीमन की क्वालिटी बढ़ाने के उपाय…

पर्याप्त तौर पर आराम करें
हमारा शरीर ज्यादातर जरूरी कम सोने के दौरान करता है और इसमें वीर्य का निर्माण भी शामिल है। 8 घंटे की नींद मनुष्य के शरीर के लिए बहुत जरूरी होती है। यदि आप वीर्य की मात्रा को बढ़ाना चाहते हैं, तो अपने शरीर को पर्याप्त मात्रा में आराम करने दें।
टेंशन और स्ट्रेस फ्री रहें
तनाव जानलेवा होता है। हालांकि, आप इसे कुछ समय के लिए संभाल सकते हैं, लेकिन आपके वीर्य के लिए इसे झेलना मुश्किल होता है। टेंशन वीर्य उत्पन्न करने वाले हार्मोन को कम कर देता है। इसलिए टेंशन फ्री रहने की कोशिश करें। इसके लिए मेडिटेशन, योग और एक्सरसाइज करना बहुत फायदेमंद होता है।
फोलिक एसिड सप्लीमेंट का सेवन करें
फोलिक एसिड (विटामिन B9) वीर्य की मात्रा बढ़ाने में मददगार साबित होता है। फोलिक एसिड हरी सब्जियों, फलियों, अनाजों और नारंगी के रस में पाया जाता है। अपने आहार में फोलिक एसिड को शामिल करें।
विटामिन डी और कैल्शियम
विटामिन डी और कैल्शियम वीर्य की गुणवत्ता में वृद्धि करते हैं और इनकी मदद से वीर्य के पतलेपन की समस्या को दूर किया जा सकता है। इसलिए अपने भोजन में विटामिन डी और कैल्शियम को शामिल करें। विटामिन डी और कैल्शियम को सप्लीमेंट के तौर पर भी लिया जा सकता है। दिन में कुछ समय धूप में व्यतीत करके भी विटामिन डी प्राप्त कर सकते हैं। दही, केला, टोंड मिल्क, सालमन, अस्परागस का अधिक मात्रा में सेवन करके से आप कैल्शियम और विटामिन डी की जरूरत को पूरा कर सकते है।
एंटीऑक्सीडेंट युक्त खाद्य पदार्थ
एंटीऑक्सीडेंट युक्त खाद्य पदार्थ के सेवन से शरीर में कोशिकाओं को हानि पहुंचाने वाले फ्री रेडिकल्स नष्ट हो जाते हैं। विभिन्न प्रकार के विटामिन और खनिज एंटीऑक्सीडेंट की तरह ही काम करते हैं। एंटीऑक्सीडेंट्स से वीर्य संबंधी समस्याएं कम होती हैं और शुक्राणुओं की संख्या में तेजी से वृद्धि होती है। अपने खानपान में जिनसेंग,अश्वगंधा, ओमेगा 3 फैटी एसिड्स से भरपूर पम्पकिन सीड्स, गोजी बेरीज इन चीजों का प्रयोग करें।

 

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

मिनी भारत है भवानीपुर, यहीं से शुरू होगी दिल्ली की लड़ाई : ममता

कहा : निष्पक्ष चुनाव हुआ होता तो 30 सीट भी न जीत पाती भाजपा 6 महीने में विधायक बनना जरूरी, इसके बिना सीएम पद उचित नहीं लोगों आगे पढ़ें »

ऊपर