पौष्टिक हो सुबह का नाश्ता

रात के भोजन एवं सुबह के नाश्ते के बीच का अंतर 10 से 12 घंटे तक हो जाता है। हमारा शरीर निद्रावस्था में भी ऊर्जा को खर्च करता है, अतएव इस दीर्घ अंतराल के कारण शरीर को पौष्टिक व तगड़े नाश्ते की जरूरत होती है। इस वक्त वसायुक्त जलपान या दही परांठा भी खाया जा सकता है। इससे शरीर को जरूरत लायक ऊर्जा मिल जाएगी। पौष्टिक नाश्ता करने वाला व्यक्ति भोजन के समय ठूंस-ठूंस कर खाने एवं मोटापे का शिकार होने से बच जाता है। पौष्टिक नाश्ते के अभाव में व्यक्ति भोजन के समय बहुत ज्यादा भोजन करता है और मोटा हो जाता है। अतएव मोटापे से बचने एवं शरीर का ख्याल रखते हुए सुबह पौष्टिक नाश्ता कीजिए।

दिल का दौरा कम कोलेस्ट्राॅल से भी

रक्त में कोलेस्ट्रॉल का अधिक बढ़ना दिल के दौरे का कारण बनता है किंतु इसका कम होना हृदयाघात का भी कारण बन सकता है। रक्त में कोलेस्ट्रॉल के अधिक बढ़ने से दिल का दौरा पड़ता है, यह अनेक अवसरों पर देखा-परखा गया है। इस अधिक कोलेस्ट्रॉल की स्थिति में एलडीएल कोलेस्ट्रॉल मस्तिष्क की धमनियों में रक्त का थक्का बन वहां फंस जाता है जिससे यह क्लाट दिल के दौरे का कारण बनता है। इसे 200 के आसपास रहना चाहिए किंतु उसके अत्यंत कम होने पर रक्त धमनियां मजबूत न होकर अत्यंत निर्बल हो जाती हैं। ऐसी स्थिति भी दिल के दौरे का कारण बनती है इसलिए शरीर में 200 के आसपास कोलेस्ट्रॉल की उपस्थिति जरूरी हो जाती है। इस निष्कर्ष ने पूर्व की आम धारणा को शक के घेरे में ला खड़ा किया है। अतएव कम कोलेस्ट्रॉल को दिमागी दौरे को रोकने में सहायक नहीं अपितु खतरनाक बताया गया है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

धन वृद्धि के लिए एक कटोरी पानी का टोटका जरूर अपनाए !

कोलकाता : घर में काम आने वाली छोटी-छोटी चीजें ऐसी होती हैं जिनसे घर में सुख-समृद्धि आती है। ये चीजें बड़े काम की हैं, इनके आगे पढ़ें »

माघ पूर्णिमाः अच्छी किस्मत के लिए आज करें ये काम, घर आएंगी खुशियां

कोलकाताः हिन्दू धर्म में पूर्णिमा तिथि का विशेष महत्व होता है। कहा जाता है कि इस दिन पवित्र नदियों में स्नान करने, दान और ध्यान आगे पढ़ें »

ऊपर