IPL 2024 में KKR की कमजोरी और ताकत क्या है ?

कोलकाता: 2021 को छोड़कर बीते कई IPL सीजन में KKR की टीम बहुत शानदार प्रदर्शन नहीं कर पाई है। हालांकि, इस बार 2024 के लिए कप्तान श्रेयस अय्यर और मेंटर गौतम गंभीर के रूप में टीम फ्रेंचाइजी ने इन्हें शामिल किया है। इस बार कोलकाता नाईट राइडर्स की टीम कितनी मजबूत नजर आ रही है और टीम की क्या कमजोरी है इस बार में आपको आगे बताते हैं।

KKR की ताकत

फिनिशर

कोलकाता नाइट राइडर्स के पास रिंकू सिंह और कैरेबियाई दिग्गज आंद्रे रसेल के रूप में टी20 क्रिकेट के दो सबसे खतरनाक फिनिशर मौजूद हैं। रिंकू ने पिछले साल ब्रेक-आउट सीज़न का आनंद लिया और अकेले दम पर टीम को कई मैच जिताए। बाएं हाथ के बल्लेबाज रिंकू ने 14 मैचों में 149.53 की शानदार स्ट्राइक रेट से 474 रन बनाए। उन्होंने चार अर्धशतक बनाए और रन बनाने के मामले में भी लगातार बने रहे। उन्हें उनके शानदार सीज़न के लिए पुरस्कृत किया गया फिर उन्हें टीम इंडिया में भी जगह मिली। रिंकू IPL के 17वें सीजन में कैसा प्रदर्शन कर सकते हैं इसका अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि वे हाल के कुछ मैचों में टीम इंडिया के लिए कितनी शानदार बल्लेबाजी किये हैं।

 

दूसरी ओर, रसेल पिछले कुछ सालों से KKR के लिए लगातार अच्छा प्रदर्शन करने वालों में से एक रहे हैं और उनसे इस सीज़न में बेहतर प्रदर्शन की उम्मीद होगी। कैरेबियन के खतरनाक बॉल-स्ट्राइकर का IPL करियर स्ट्राइक रेट 174.00 है।

स्पिनर्स

अपने शानदार फिनिशरों के अलावा, केकेआर के पास तीन बेहतर स्पिनर भी हैं। सुनील नरेन, वरुण चक्रवर्ती और सुयश शर्मा KKR की गेंदबाजी आक्रमण को एक मजबूत रूप प्रदान करते हैं हालांकि टीम बहुत हद तक मिशेल स्टार्क पर निर्भर रहेगी। जिनकी गेंदबाजी की धार के आगे कई बल्लेबाज घुटने टेंक देते हैं।

सुनील नारायण बढ़ायेंगे KKR की ताकत

इस सीजन के लिए सुनील नरेन KKR टीम के सबसे अनुभवी खिलाड़ियों में से एक हैं। इस अनुभवी खिलाड़ी ने पिछले कुछ सालों में 162 आईपीएल मैचों में 6.73 की प्रभावशाली इकॉनमी रेट से 163 विकेट हासिल किए हैं। आईपीएल 2023 संस्करण के दौरान 14 मैचों में 11 विकेट के साथ, नरेन के लिए वह टूर्नामेंट बेहद निराशाजनक रहा था और वह इस सीजन में खुद को भुनाना चाहेंगे।

केकेआर के मिस्ट्री स्पिनर वरुण उनके सबसे बड़े हथियारों में से एक हैं। वरुण के तरकश में बहुत सारे तीर हैं और ज्यादातर बल्लेबाज उनके आगे संघर्ष करते हैं। उन्होंने 56 मैचों में 7.45 की इकॉनमी रेट से 62 विकेट लिए हैं और उनके नाम चार विकेट और पांच विकेट भी दर्ज हैं।

ये भी पढ़ें: IPL 2024: आज ईडन में SRH के खिलाफ दहाड़ेगी KKR, जानें संभावित प्लेइंग इलेवन

KKR की कमजोरियों

मिचेल स्टार्क पर जरूरत से ज्यादा निर्भरता

केकेआर के तेज गेंदबाज पिछले सीज़न के दौरान पावरप्ले में शुरुआती बढ़त बनाने में असमर्थ रहे और डेथ ओवरों में भी रनों के प्रवाह को रोकने के लिए संघर्ष करते रहे। इसे ठीक करने के लिए, केकेआर ने आईपीएल 2024 की नीलामी में स्टार्क को 24.75 करोड़ रुपये में खरीदा।

हालांकि, स्टार्क को छोड़कर तेज गेंदबाज हर्षित राणा और चेतन सकारिया ने कुछ खास प्रदर्शन नहीं किया है। उनके विदेशी खिलाड़ी दुष्मंथा चमीरा अभी तक टीम में शामिल नहीं हुए हैं क्योंकि वह चोट से जूझ रहे हैं और इसलिए केकेआर स्टार्क पर अधिक निर्भर दिखाई दे रही है।

कैप्टन की फिटनेस

केकेआर को पिछले सीज़न में एक बड़ा झटका लगा था जब श्रेयस अय्यर पीठ की चोट के कारण पूरे टूर्नामेंट से बाहर हो गए थे और इस समस्या को ठीक करने के लिए उन्हें सर्जरी करानी पड़ी थी। नेतृत्व में अचानक बदलाव से टीम को नुकसान हुआ और केकेआर प्लेऑफ में जगह बनाने में असफल रही। हालांकि श्रेयस इस सीज़न की शुरुआत से ही उपलब्ध हैं, लेकिन वह पीठ की ऐंठन से जूझते हुए टूर्नामेंट में आ रहे हैं।

आईपीएल 2024 से पहले श्रेयस को पीठ की समस्या का सामना करना पड़ा और उन्हें मुंबई के लिए रणजी ट्रॉफी क्वार्टर से चूकना पड़ा। वह सेमीफाइनल और फाइनल में पहुंचे लेकिन उसी समस्या के कारण विदर्भ के खिलाफ फाइनल के चौथे और पांचवें दिन मैदान पर नहीं उतर सके। केकेआर को इस सीजन में आगे बढ़ने के लिए श्रेयस का फिट होना जरूरी है क्योंकि उनके चोटिल होने से टीम की मुश्किलें बढ़ सकती है।

अवसर

मुंबई इंडियंस (पांच बार की आईपीएल चैंपियन) और चेन्नई सुपर किंग्स (पांच बार की आईपीएल विजेता) के अलावा, केकेआर टूर्नामेंट के इतिहास में तीसरी सबसे सफल फ्रेंचाइजी रही है। केकेआर ने 2012 में पहली बार आईपीएल जीता और 2014 में भी वही उपलब्धि दोहराई और एक बड़ी ताकत बनकर उभरी।

हालांकि, उसके बाद से वे अपने प्रशंसकों की उम्मीदों पर खरे नहीं उतरे हैं। 2014 के शानदार सीज़न के बाद, केकेआर केवल एक बार फाइनल में पहुंचने में सफल रही और ऐसा 2021 सीज़न के दौरान हुआ जहां वे चेन्नई सुपर किंग्स से हार गए। इसलिए, 2024 का सीज़न KKR के लिए एक और अवसर है ट्रॉफी अपने नाम करने के लिए।

टूर्नामेंट के 17वें संस्करण में गौतम गंभीर और केकेआर के बीच पुनर्मिलन देखा गया है। यह गंभीर ही थे जिन्होंने उन्हें 2012 और 2014 में दो खिताबों तक पहुंचाया और अब टीम के मेंटर के रूप में फिर से शामिल हुए हैं।

इन बातों को रखना होगा खास ध्यान

केकेआर ने हाल ही में टूर्नामेंट में 12 ओपनिंग जोड़ी को आजमाया है, जिससे पता चलता है कि उन्हें अभी भी एक ओपनिंग जोड़ी पर ध्यान देने की जरूरत है जो टीम के शुरुआती स्कोर को ताकत दे सके। इस सीज़न में कोलकाता का अभियान शुरू होने वाला है और एक बार फिर नई ओपनिंग जोड़ी को आज़माने की संभावना है। उनके पास विदेशी ओपनिंग विकल्प के रूप में फिल साल्ट और रहमानुल्लाह गुरबाज़ हैं, लेकिन दोनों में से केवल एक को ही प्लेइंग इलेवन में जगह मिलने की संभावना है। अगर KKR को सीज़न की शुरुआत में अपनी शुरुआती जोड़ी नहीं मिलती है तो इससे उनके मध्य और निचले मध्य क्रम पर अत्यधिक दबाव पड़ेगा।

Visited 43 times, 1 visit(s) today
शेयर करें

मुख्य समाचार

Weather Update: बंगाल में भीषण गर्मी के बीच आज 3 जिलों में बदलेगा मौसम, कहां-कहां होगी बारिश ?

कोलकाता: बंगाल में लोगों को लू और गर्म हवा का सामना करना पड़ रहा है। मौसम विभाग की मानें तो गर्मी की लहर अभी कम आगे पढ़ें »

Heatwave in West Bengal: बंगाल के कई जिलों में गर्मी को लेकर ऑरेंज-रेड अलर्ट जारी

कोलकाता: बंगाल में कई दिनों से प्रचंड गर्मी का प्रकोप है। लोग इस उम्मीद में कि जल्द बारिश हो, लेकिन बारिश को लेकर अलीपुर मौसम आगे पढ़ें »

ऊपर