बंगाल की वो 8 सीटें जहां वोट का अंतर रहा सबसे कम

शेयर करे

कोलकाता: लोकसभा चुनाव में बंगाल में TMC को 29 सीटें मिली है और BJP को 12 सीटें, दोनों पार्टियों की जीत में बड़ा अंतर है। 42 सीटों में से 8 सीटें ऐसी हैं जहां पर जीत का अंतर 50,000 से भी कम है। यही नहीं एक स्थान पर तो 5567 वोटों के अंतर से करीबी मुकाबला देखने को मिला। बंगाल में एक लोकसभा क्षेत्र में औसत मतदाता संख्या 16 -17 लाख है। बंगाल की 42 लोकसभा सीटों में से 8 सीटों पर मामूली अंतर से फैसला हुआ। इस बारे में राजनीतिक विशेषज्ञ बताते हैं कि इन आठ सीटों पर अगर फैसला इधर या उधर गया होता तो परिणाम दोनों पार्टियों के लिए चिंता का विषय बन जाता। कुछ स्थानों पर प्रत्याशियों ने शुरू से ही बढ़त बना कर रखी थी तो कुछ स्थानों पर हार वाले मार्जिन के साथ फिर से जीत की ओर प्रत्याशियों को बढ़ते देखा गया। इस चुनाव में इन सीटों को काफी अहम माना गया है क्योंकि यहां एक- दूसरे के साथ बराबर की टक्कर देखी गयी।

आरामबाग में 6399 वोट से हारे BJP प्रत्याशी

अगला सबसे करीबी अंतर 6,399 वोटों का था, जिसने आरामबाग सीट का फैसला किया। यहां, TMC की मिताली बाग ने दिन भर चले कांटे के मुकाबले में BJP के अरूप कांति दीगर को हराया। बालुरघाट सीट पर भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष सुकांत मजूमदार ने जोरदार जीत दर्ज की। TMC के बिप्लब मित्रा आखिरकार 10,386 वोटों के अंतर से चुनाव हार गए। अगला सबसे करीबी मुकाबला भी भाजपा के पक्ष में रहा। ज्योतिर्मय सिंह महतो ने पार्टी के लिए पुरुलिया सीट जीती, उन्होंने टीएमसी के निकटतम प्रतिद्वंद्वी शांतिराम महतो को 17,079 वोटों से हराया। तृणमूल ने अगली तीन करीबी अंतर वाली सीटें जीतीं। उम्मीदवार जून मा​लिया ने मिदनापुर सीट जीती, उन्होंने भाजपा की अग्निमित्रा पॉल को 27,191 वोटों से हराया।

ये भी पढ़ें: Rain Forecast in Bengal: बंगाल के कई जिलों में आंधी-तूफान का अलर्ट, कब गर्मी से मिलेगी राहत ?

निसिथ प्रमाणिक 39,250 वोट से हारे

TMC के अरूप चक्रवर्ती ने बांकुड़ा सीट पर भाजपा के केंद्रीय मंत्री सुभाष सरकार को 32,778 वोटों से हराया। तृणमूल के जगदीश चंद्र बर्मा बासुनिया ने भी एक अन्य केंद्रीय मंत्री निसिथ प्रमाणिक को कूचबिहार सीट पर 39,250 मतों के अंतर से हराया। राज्य विधानसभा में विपक्ष के नेता शुभेन्दु अधिकारी के भाई भाजपा के सौमेंदु अधिकारी 47,764 मतों के अंतर से प्रतिष्ठित कांथी सीट को बरकरार रखने में सफल रहे। उनकी जीत का मार्जिन अधिकारी के गढ़ माने जाने वाले इस क्षेत्र में परिवार की अपेक्षा से बहुत कम है। टीएमसी के उत्तम बारिक ने मंगलवार देर शाम तक भाजपा को असमंजस में रखा, जब आखिरकार परिणाम सौमेंदु के पक्ष में घोषित किया गया। इस तरह से इन 8 सीटों ने दोनों ओर के नेताओं की दिल की धड़कन पूरे दिन बढ़ाए रखीं।

सौमित्र सबसे कम अंतर से जीते

पश्चिम बंगाल की 42 लोकसभा सीटों में से बिष्णुपुर लोकसभा निर्वाचन क्षेत्र में भाजपा के सौमित्र खां और उनकी पूर्व पत्नी एवं टीएमसी की उम्मीदवार सुजाता मंडल के बीच हुए चुनावी मुकाबले में हार-जीत का अंतर सबसे कम रहा। सौमित्र खां ने बिष्णुपुर लोकसभा निर्वाचन क्षेत्र पर केवल 5,567 मतों के अंतर से जीत हासिल की। खान ने 2014 में टीएमसी उम्मीदवार के रूप में बिष्णुपुर से जीत हासिल की थी।

 

रिपोर्ट- नेहा सिंह

 

Visited 147 times, 1 visit(s) today
0
0

मुख्य समाचार

नई दिल्ली: हर साल 21 जून को इंटरनेशनल योग दिवस मनाते हैं। हमारे ऋषियों-मुनियों द्वारा योग को विकसित किया गया
कोलकाता : मेट्रो रेलवे द्वारा चलाये जा रहे स्पेशल नाइट मेट्रो के समय को 20 मिनट कम कर दिया गया
कोलकाता: पश्चिम बंगाल के न्यू जलपाईगुड़ी के पास 17 जून को हुए ट्रेन हादसे ने देशवासियों को झकझोर कर रख
कोलकाता : अगले दो से तीन घंटों में कोलकाता में हल्की बारिश होने वाली है। शहर के अधिक हिस्सों में
पटना: नीट पेपर लीक मामला पूरे देशभर में छाया हुआ है। बिहार के डिप्टी सीएम विजय सिन्हा ने बड़ा दावा
कोलकाता : मानसून दस्तक देने वाला है। इससे पहले इसे लेकर तैयारियों को पूरा करने का निर्देश शहरी विकास तथा
कोलकाता: मौसम विभाग के पूर्वानुमान पर लोगों का भरोसा खत्म हो गया है। पिछले कुछ दिनों से बारिश का पूर्वानुमान
पटना: नीतीश सरकार को पटना हाईकोर्ट से बड़ा झटका लगा है। बिहार में आरक्षण का दायरा बढ़ाए जाने के नीतीश
नोएडा: देश के उत्तरी हिस्सों में भीषण गर्मी पड़ रही है। नोएडा में अलग-अलग जगहों पर बीते मंगलवार को 14
कोलकाता: बंगाल में लोकसभा चुनाव के नतीजे वाले दिन डेबरा में पुलिस कस्टडी में BJP कार्यकर्ता की मौत हुई थी।
कोलकाता: दक्षिण बंगाल के अधिकांश हिस्सों में आज सुबह से ही आसमान में बादल मंडरा रहा है। धूप नहीं होने
नई दिल्ली: NEET परीक्षा को लेकर दायर कई याचिकाओं पर सुप्रीम कोर्ट ने सुनवाई के दौरान काउंसलिंग रोकने और तत्काल
ऊपर