इस देश में लागू हुआ राष्ट्रीय आपातकाल, ‘Zombie’ से जुड़ा है मामला

नई दिल्ली : इंसान की हड्डियों से बनाई जाने वाली एक साइकोएक्टिव ड्रग ने पश्चिमी अफ्रीकी देश सिएरा लियोन में एडिक्ट्स को कब्र खोदने के लिए मजबूर कर दिया है। एक रिपोर्ट के मुताबिक, इस भयानक खतरे ने सिएरा लियोन को राष्ट्रीय आपातकाल घोषित करने के लिए मजबूर कर दिया है। फ्रीटाउन में पुलिस अधिकारी ‘जोंबी’ ड्रग को बनाने के लिए कब्रों को खोदने की कोशिश करने वाले लोगों को रोकने के लिए कब्रिस्तानों की सुरक्षा कर रहे हैं। बता दें कि इस ड्रग को कुश कहा जाता है और इसे अलग-अलग प्रकार के विषाक्त पदार्थों से बनाया जाता है, जिसका एक मुख्य हिस्सा इंसान की हड्डियां भी हैं।

कई घंटों तक रहता है इस ड्रग का नशा

यह मादक पदार्थ पश्चिम अफ्रीकी देश में पहली बार लगभग छह साल पहले उभरा था। आउटलेट के मुताबिक, इस ड्रग से एक हिपनोटिक हाई उत्पन्न होता है, जो कई घंटो तक रह सकता है। यह ड्रग देश में एक व्यापक समस्या बन गई है और इसके डीलर कथित तौर पर गंभीर लुटेरे बन गए हैं, जो मांग पूरी करने के लिए हजारों कब्रों से कंकाल चुरा रहे हैं।

देश ने लागू किया आपातकाल

आउटलेट के मुताबिक सिएरा लियोन के राष्ट्रपति जूलियस माडा बायो ने कहा, “हमारा देश वर्तमान में नशीली दवाओं और मादक द्रव्यों के सेवन, विशेष रूप से सिंथेटिक ड्रग कुश के प्रभाव के कारण अस्तित्व के खतरे का सामना कर रहा है।” उन्होंने कहा, “नशीली दवाओं के उपयोगकर्ताओं के बीच “मृत्यु दर में वृद्धि” हई है। उन्होंने यह भी कहा कि नशे को खात्मे के लिए एक टास्क फोर्स का भी गठन किया गया है। इसका मतलब है कि हर जिले में ऐसे केंद्र बनाए जा रहे हैं, जहां नशे की लत से पीड़ित लोगों की देखभाल और सहायता करने के लिए प्रशिक्षित पेशेवरों का पर्याप्त स्टाफ होगा।”

ड्रग की सप्लाई चेन रोकने की कोशिश

साथ ही अधिकारियों को कहा गया है कि इस ड्रग की सप्लाई चेन को रोकने के लिए “जांच, गिरफ्तारियां और अभियोजन” किया जाए। फिलहाल, फ्रीटाउन देश का इकलौता शहर है जहां नशा मुक्ति केंद्र है। 100 बेड वाले इस केंद्र को आर्मी ट्रेनिंग सेंटर में इस साल की शुरुआत में स्थापित किया गया था। पर्याप्त सुविधाओं की कमी के कारण विशेषज्ञों ने कथित तौर पर इसे “पुनर्वास से अधिक एक होल्डिंग सेंटर” के रूप में वर्णित किया है।

आधिकारिक तौर पर इस नशे से किसी की मौत की नहीं जानकारी

सिएरा लियोन साइकेट्रिक अस्पताल के हेड डॉक्टर अब्दुल जल्लोह ने कहा कि राष्ट्रपति की आपातकालीन घोषणा “सही कदम” है और “नशीली दवाओं के उपयोग से निपटने में महत्वपूर्ण” होगी। कुश ड्रग के सेवन से अब तक आधिकारिक तौर पर मौतों की जानकारी नहीं है लेकिन फ्रीटाउन के एक डॉक्टर ने बीबीसी को बताया कि पिछले कुछ महीनों में कई युवाओं की ड्रग का सेवन करने के बाद ऑर्गन फेलियर के कारण मौत हुई है। 2020 से 2023 के बीच कुश से जुड़ी बीमारियों के चलते सिएरा लियोन साइकेट्रिक अस्पताल में प्रवेश 4,000% बढ़ गया है।

 

Visited 108 times, 1 visit(s) today
शेयर करें

मुख्य समाचार

Kolkata Metro Timing : आज से रात 11 बजे के बाद भी चलेगी मेट्रो !

कोलकाता : इस वक्त की बड़ी खबर आ रही है कि मेट्रो रेलवे आज यानी 24 मई से प्रायोगिक तौर पर रात में ब्लू लाइन आगे पढ़ें »

Weather Update: बंगाल में भीषण गर्मी के बीच आज 3 जिलों में बदलेगा मौसम, कहां-कहां होगी बारिश ?

कोलकाता: बंगाल में लोगों को लू और गर्म हवा का सामना करना पड़ रहा है। मौसम विभाग की मानें तो गर्मी की लहर अभी कम आगे पढ़ें »

ऊपर