ललन सिंह ने जदयू अध्यक्ष पद से दिया इस्तीफा, अब सीएम नीतीश कुमार ही …

नई दिल्ली : नई दिल्ली में आज यानी शुक्रवार को जदयू के राष्ट्रीय पदाधिकारियों की अहम बैठक समाप्त हो गई है। इस अहम बैठक में आज जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष ललन सिंह ने अध्यक्ष पद से इस्तीफा दे दिया। उन्होंने मीटिंग में नीतीश कुमार के नाम का प्रस्ताव रखा है। अब मुख्यमंत्री नीतीश कुमार खुद पार्टी की कमान संभालेंगे। वहीं, ललन सिंह ने इस्तीफे की वजह भी बताई है। उन्होंने कहा कि आगामी लोकसभा चुनाव की सक्रियता को लेकर मैंने यह फैसला लिया है। मुझे चुनाव की तैयारी करनी है।

केसी त्यागी ने बताई मीटिंग से जुड़ी अहम बातें

जदयू नेता केसी त्यागी ने कहा कि आज जदयू की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक होगी, जिसमें देश के मौजूदा राजनीतिक परिदृश्य और वित्तीय माहौल पर चर्चा होगी और अन्य राज्यों के लिए सीट बंटवारे पर भी चर्चा होगी। दिल्ली के कॉन्स्टिट्यूशन क्लब में जदयू की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक के अंदर के दृश्य सामने आए हैं। बैठक में बिहार के सीएम नीतीश कुमार, जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष राजीव रंजन (ललन) सिंह और पार्टी के अन्य नेता शामिल हुए।

क्यों हो गया ललन सिंह का इस्तीफा?

दरअसल, पिछले कुछ दिनों से मुख्यमंत्री नीतीश कुमार खासे सक्रिय थे। उन्होंने करीब एक दर्जन मंत्रियों से अलग-अलग मुलाकात की थी। इन नेताओं से संगठन को लेकर चर्चा की गई और उसके बाद बदलाव की तैयारी शुरू की गई। कहा जा रहा है कि इन नेताओं की तरफ से कहा गया कि अब पार्टी की कमान उन्हें (नीतीश) अपने हाथों में ले लेना चाहिए। चूंकि आम चुनाव नजदीक हैं और नीतीश ही राष्ट्रीय स्तर पर पार्टी का चेहरा हैं। इसलिए गठबंधन से लेकर अन्य जरूरी निर्णय नीतीश कुमार को ही लेना है। वहीं, ललन सिंह खुद लोकसभा का चुनाव लड़ेंगे। लिहाजा, उनके पास पार्टी की गतिविधियों के लिए समय नहीं होगा। तमाम पहलुओं पर विचार करने के बाद नीतीश कुमार पार्टी अध्यक्ष बनने को तैयार हुए। इससे पहले नीतीश ने ललन सिंह से उनके घर जाकर मुलाकात की थी और उन्हें यह फैसला बता दिया था। बाकी पूरी स्क्रिप्ट पर दिल्ली में जाकर मुहर लगा दी गई।

जदयू में आगे क्या होने की संभावना…

जदयू के विश्वस्त सूत्रों के मुताबिक, बैठक में कई अन्य फैसले भी लिए जा सकते हैं। इनमें प्रमुख हैं…
– बैठक में नीतीश कुमार को लोकसभा चुनाव और संगठन से जुड़े सभी फैसलों के लिए अधिकृत किया जाएगा।

– सीट शेयरिंग और उम्मीदवारों के चयन के लिए भी नीतीश कुमार को अधिकृत किया जाएगा।
– एक अन्य प्रस्ताव में नीतीश कुमार को पार्टी से जुड़ी सभी शक्तियां देने का प्रस्ताव है और गठबंधन पर फैसले के लिए नीतीश अधिकृत किए जाएंगे। जनता दल राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक से ठीक पहले नीतीश कुमार के घर पार्टी अध्यक्ष ललन सिंह मिलने पहुंचे थे।

सारे अधिकार नीतीश के पास!

सीट शेयरिंग, गठबंधन और उम्मीदवारों के चयन और सिंबल जारी करने का अधिकार राष्ट्रीय अध्यक्ष के पास होता है। नीतीश कुमार के अध्यक्ष बनने से यह सारे अधिकार उनके पास होंगे। इससे पहले गुरुवार को नीतीश कुमार पटना से दिल्ली पहुंचे और यहां बंद कमरे में उनकी ललन सिंह के साथ काफी देर तक बातचीत हुई।

 

Visited 28 times, 1 visit(s) today
शेयर करें

मुख्य समाचार

IND vs PAK T20 World Cup: भारत-पाकिस्तान मैच के टिकट का दाम सुनकर चौंक जाएंगे

नई दिल्ली: न्यूयॉर्क में होने वाले ICC टी-20 विश्वकप में भारत और पाकिस्तान की टीमें भिड़ेंगी। अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (ICC) अमेरिका में क्रिकेट को बढ़ावा आगे पढ़ें »

IPL 2024: KKR के खिलाड़ियों को गौतम गंभीर ने दे डाली नसीहत, बोले…

कोलकाता: 22 मार्च से IPL शुरू होने जा रहा है। पूर्व भारतीय क्रिकेटर गौतम गंभीर की घर वापसी हुई। पिछले सीजन तक लखनऊ सुपर जायंट्स आगे पढ़ें »

ऊपर
error: Content is protected !!