खालिस्तानी खतरों के बीच पूर्व रॉ और NIA प्रमुख को मिली Z श्रेणी की सुरक्षा

नई दिल्ली: खालिस्तानी संगठनों से बढ़ते खतरों को देखते हुए सरकार ने पूर्व रॉ और NIA प्रमुख की सुरक्षा को बढ़ा दिया है। केंद्रीय खुफिया एजेंसी को पता चला था कि कुछ अधिकारियों पर खालिस्तानी समूहों से खतरा मंडरा रहा है। इस कारण पूर्व रॉ प्रमुख सामंत गोयल और पूर्व एनआईए प्रमुख दिनकर गुप्ता को जेड श्रेणी की सुरक्षा दी गई है। अब इन दो पूर्व शीर्ष अधिकारियों को CRPF सुरक्षा प्रदान कर रही है जो कुछ सप्ताह पहले सेवानिवृत्त हुए थे।

राजनयिकों को धमकी देते रहे हैं खालिस्तानी

खालिस्तानी समर्थक संगठन पहले से ही कनाडा, ब्रिटेन में विभिन्न भारतीय राजनयिकों को धमकी दे देते रहे हैं और हिंसक विरोध प्रदर्शन और सोशल मीडिया के माध्यम से खुलेआम भी धमकी देते रहे हैं। दोनों अधिकारियों ने अतिसंवेदनशील पदों पर काम किया है। NIA खालिस्तानी आतंकवादी समूहों के खिलाफ केंद्रीय एजेंसी द्वारा दायर विभिन्न मामलों की जांच कर रही है। खालिस्तानी नेता गुरपतवंत सिंह पन्नू की हत्या के कथित प्रयास के लिए पूर्व रॉ प्रमुख का नाम पहले ही अंतरराष्ट्रीय मीडिया द्वारा घसीटा जा चुका है।

यह भी पढ़ें: Mob Lynching in Bengal : संतोषपुर स्टेशन पर युवक को पीट-पीटकर मार डाला, वजह जानकर …

कैसी होती है Z कैटेगरी सुरक्षा

Z कैटेगरी स्तर की सुरक्षा में 22 सुरक्षाकर्मी शामिल होते हैं, जिसमें नेशनल सिक्योरिटी गार्ड (एनएसजी) के 4 से 5 कमांडों भी होते हैं। अतिरिक्त सुरक्षा दिल्ली पुलिस या CISF की ओर से मुहैया कराई जाती है। सुरक्षा में एक एस्कॉर्ट कार भी शामिल होती है। कमांडोज सब मशीनगन और आधुनिक संचार के साधनों से लैस रहते हैं। इसके अलावा इन्हें मार्शल ऑर्ट से प्रशिक्षित किया जाता है। इनके पास बगैर हथियार के लड़ने का भी अनुभव होता है।

 

Visited 18 times, 1 visit(s) today
शेयर करें

Leave a Reply

मुख्य समाचार

Kolkata Metro Timing : आज से रात 11 बजे के बाद भी चलेगी मेट्रो !

कोलकाता : इस वक्त की बड़ी खबर आ रही है कि मेट्रो रेलवे आज यानी 24 मई से प्रायोगिक तौर पर रात में ब्लू लाइन आगे पढ़ें »

Weather Update: बंगाल में भीषण गर्मी के बीच आज 3 जिलों में बदलेगा मौसम, कहां-कहां होगी बारिश ?

कोलकाता: बंगाल में लोगों को लू और गर्म हवा का सामना करना पड़ रहा है। मौसम विभाग की मानें तो गर्मी की लहर अभी कम आगे पढ़ें »

ऊपर