Board exams Tips for parents and students : बोर्ड परीक्षाओं के दौरान माता-पिता ऐसे रखें अपने बच्चों का ख्याल

कोलकाता : बोर्ड परीक्षाओं का दौर छात्रों के लिए कठिन होने के साथ-साथ माता-पिता के लिए भी चुनौतीपूर्ण होता है। अभिभावक इस बात को लेकर चिंतित होते हैं कि वे परीक्षा के दौरान अपने बच्चों की मदद कैसे करें और उन्हें पढ़ाई के लिए सही माहौल कैसे दें। आज हम आपको परीक्षा के दौरान बच्चों का ख्याल रखने के कुछ सुझाव देने जा रहे हैं, जिनका उपयोग कर बच्चों को तनाव मुक्त रखा जा सकता है।
बच्चों पर दबाव न डालें
बोर्ड परीक्षाओं के दौरान माता-पिता बच्चों को टोकने लग जाते हैं और ज्यादा अंक लाने के लिए दबाव डालते हैं। विशेषज्ञों की सलाह है कि बच्चों पर हमेशा अव्वल रहने का अनावश्यक दबाव न डालें। अभिभावकों को समझना चाहिए कि हर बच्चे की अलग क्षमताएं होती हैं और उनका बच्चा अपनी सीमा के अनुसार ही प्रदर्शन कर पाएगा। बच्चे पर दबाव डालने की बजाय आप उसे अच्छा प्रदर्शन करने के लिए थोड़ा प्रलोभन दे सकते हैं।
बच्चों का उत्साह बढ़ाएं
बोर्ड परीक्षा के समय बच्चे तनाव में होते हैं। कई बार बच्चे पढ़ाई करते समय हतोत्साहित हो जाते हैं। ऐसी स्थिति में अपने बच्चे का उत्साह बढ़ाए। घर का माहौल सकारात्मक रखें और अपने बच्चे को सफल हो चुके लोगों के संघर्ष की कहानियां सुनाएं। अगर कोई परीक्षा बिगड़ गई है तो उसे समझाते हुए आगे की परीक्षाओं पर ध्यान केंद्रित करने को कहें। उन्हें समझाएं कि परीक्षा के लिए जीवन दांव पर लगाने की जरूरत नहीं है।

 

परीक्षा का डर न दिखाएं
परीक्षा के दौरान कई घरों का माहौल असामान्य हो जाता है। माता-पिता पहले से ज्यादा सावधान हो जाते हैं। हर चीज में बच्चों को समझाने लगते हैं। बच्चों का टीवी देखना, मोबाइल चलाना और बाहर जाना बंद कर देते हैं। इस तरह के माहौल से बच्चे परेशान हो जाते हैं, वे ठीक से पढ़ाई नहीं कर पाते और परीक्षा में गलती हो जाती है। माता-पिता को सलाह दी जाती है कि वे बच्चों के सामने सामान्य रूप से पेश आएं।
अभिभावक न करें ये काम
बच्चों को पढ़ाई के लिए शांतिपूर्ण माहौल चाहिए, इसलिए परीक्षाओं के दौरान अभिभावकों को मेहमान या रिश्तेदारों को घर नहीं बुलाना चाहिए। अभिभावक कोई भी ऐसा का काम न करें, जिससे पढ़ाई में बाधा पहुंचे। ऊंची आवाज में टीवी देखने, गाने सुनने से बचना चाहिए।

समय देने से सुधरेगा प्रदर्शन
परीक्षा के दौरान बच्चों को पूरा समय दें। अगर वे किसी परेशानी में हैं तो उसका हल ढूंढे। पढ़ाई में दिक्कत आने पर उन्हें समझाएं। लगातार पढ़ते रहने से तनाव बढ़ता है, इसलिए बच्चों को थोड़ा फ्री टाइम दें। बच्चों के स्टडी रूम से छेड़छाड़ न करें। सुनिश्चित करें कि बच्चे के पास सभी स्टेशनरी सामान हो। स्टडी रूम को साफ बनाएं रखें। बच्चों को समय पर परीक्षा केंद्र छोड़ने और लेने जाएं।
पौष्टिक आहार और नींद का रखें ख्याल
बोर्ड परीक्षा के दौरान बच्चे दिन-रात मेहनत करते हैं और दिमाग को काम करने के लिए ऊर्जा की जरूरत होती है, ऐसे में बच्चों को आसानी से पचने वाला और पौष्टिक आहार दें। बच्चों की डाइट में दूध, सूखे मेवे, ओट्स और दालें शामिल करें। उन्हें जंक फूड और कोल्ड ड्रिंक्स आदि बिल्कुल न दें। इनमें मौजूद शक्कर और नमक आलस बढ़ाता है। माता-पिता के लिए ये सुनिश्चित करना जरूरी है कि परीक्षा से पहले उनका बच्चा पूरी नींद ले।

Visited 75 times, 1 visit(s) today
शेयर करें

मुख्य समाचार

लोकसभा चुनाव पर आज EC करने जा रहा प्रेस कॉन्फ्रेंस, क्या तारीखों का होगा ऐलान ?

नई दिल्ली: लोकसभा चुनाव की तारीखों को लेकर मंगलवार 5 मार्च को अहम ऐलान हो सकता है। आज चुनाव आयोग की ओर से एक अहम आगे पढ़ें »

Calcutta University : 7 दिनों के भीतर कॉलेजों को एकत्र करना होगा रजिस्ट्रेशन सर्टिफिकेट

कोलकाता : अपने चार वर्षीय डिग्री कार्यक्रम के तहत परीक्षा प्रणाली को त्रुटि मुक्त बनाने के लिए, कलकत्ता विश्वविद्यालय (सीयू) ने अपने कॉलेजों को इस आगे पढ़ें »

ऊपर
error: Content is protected !!