उबल रहा है संदेशखाली, ड्रोन से की जा रही निगरानी

पुलिस की निगरानी के बाद भी ग्रामीणों ने घरों में तोड़फोड़ व मारपीट करने के लगाये आरोप

शाहजहां, उत्तम और ​शिबू अब भी गिरफ्त से हैं बाहर

बशीरहाट : बशीरहाट के संदेशखाली में गत ​तीन दिनों से फैले असंतोष व तनाव के बाद अब भी संदेशखाली उबल रहा है। ड्रोन उड़ाकर यहां निगरानी की जा रही है। इसे देखते हुए जिला प्रशासन ने शुक्रवार की रात से ही यहां धारा 144 लगा दी है। यहां के माहौल को शांत करने और किसी तरह की अफवाहों को फैलने से रोकने के लिए यहां इंटरनेट सेवा को भी बंद कर दिया गया है। मिली जानकारी के अनुसार संदेशखाली ब्लॉक 1 व ब्लॉक 2 को मिलाकर कुल 16 पंचायत इलाकों में धारा 144 लागू है। वहीं पुलिस द्वारा माइकिंग कर इलाके के लोगों से अपील की जा रही है कि वे घरों में ही रहें। कहीं भी भीड़ लगाने पर सख्त मनाही की गयी है। एक दिन पहले जहां संदेशखाली के धामाखाली, जेलियाखाली में लोग सड़कों पर उतरकर क्षोभ जता रहे थे वहीं इस दिन माहौल अलग हो गया। चारों ओर सन्नाटा पसरा रहा। दुकानें और बाजार बंद कर दिये गये। प्रशासन द्वारा परिस्थितियों पर नजर बनाये रखने को लेकर पुलिस कर्मियों को लगातार प्रभावित इलाकों में रूटमार्च करते हुए देखा गया। वहीं पुलिस ने ड्रोन उड़ाकर भी मछली की भेरियों और पोल्ट्री फाॅर्म सहित पूरे इलाके की नजरदारी की। घटनास्थल पर डीजी एससीआरबी सिद्धनाथ गुप्ता, आइजी एडमिनिस्ट्रेशन एसआर झांझरिया, जीआईजी बारासात रेंज सुमित गुप्ता सहित कई वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों ने भी स्वयं इलाके में पहुंचकर परिस्थितियों का जायजा लिया। प्रशासन द्वारा शांति कायम करने को लेकर भले ही रात से धारा 144 लगाकर इसका सख्ती से पालन करवाया जा रहा है मगर इलाके के लोगों का आरोप है कि देर रात इलाके के सक्रिय समाजविरोधियों ने उनके घरों में तोड़फोड़ की है। समाजविरोधियों ने घर में घुसकर मारपीट की और धमकियां दीं। यहां तक कि आरोप यह भी है कि पुलिस ने भी कई घरों में तोड़फोड़ की है जिसको लेकर लोगों ने मीडिया के सामने शिकायतें कीं। उन्होंने इस दिन भी प्रशासन से शाहजहां और उसके शागिर्दों की गिरफ्तारी की मांग की। लोगों ने आरोप लगाया कि जब तक उनकी गिरफ्तारियां नहीं होती हैं तब तक यहां शांति कायम नहीं हो सकती। उनके लोग रात होते ही तांडव मचा रहे हैं। उल्लेखनीय है कि मामले में राज्य सरकार द्वारा पहले ही कहा जा चुका है कि दोषियों के विरुद्ध सख्त कार्रवाई होगी। किसी तरह की अंशाति नहीं होने दी जायेगी। राज्य पुलिस के एडीजी (कानून व्यवस्था) मनोज वर्मा ने भी दावा किया है कि परिस्थितियां फिलहाल स्वाभाविक हैं। जो लोग अशांति कर रहे हैं उन्हें गिरफ्तार किया जायेगा। हिंसा फैलाने व तोड़फोड़ करने के आरोप में अब तक 13 अभियुक्तों को गिरफ्तार किया गया है हालांकि शाहजहां शेख, ​शिबू हाजरा, उत्तम सरदार की अब तक गिरफ्तारी नहीं हो पायी है। वे लोग इलाके से फरार बताये जा रहे हैं। भाजपा प्रतिनि​धियों के संदेशखाली अभियान को पुलिस द्वारा रोके जाने को लेकर रामपुर इलाके में भी कुछ देर के लिए तनातनी का माहौल बना रहा।

 

Visited 28 times, 1 visit(s) today
शेयर करें

मुख्य समाचार

Loksabha Elections 2024 : …तो क्या आसनसोल में पवन सिंह और अक्षरा सिंह भाजपा की …

- कल जारी हो सकती है दूसरी सूची कोलकाता : पवन सिंह द्वारा आसनसोल के भाजपा उम्मीदवार के तौर पर नाम वापस लिये जाने के बाद आगे पढ़ें »

NIA Raid In Bengaluru: लश्कर मॉड्यूल से जुडे़ तार, 7 राज्यों में NIA की छापेमारी

बेंगलुरु: बताया जा रहा है कि जिन लोगों ने कैफे में ब्लास्ट को अंजाम दिया है, उनके तार लश्कर मॉड्यूल से जुड़े हुए हैं। कर्नाटक आगे पढ़ें »

ऊपर
error: Content is protected !!