भाटपाड़ा में सरेआम गुंडई, नगरपालिका में ही दो पार्षदों में मारपीट

Fallback Image
शेयर करे

जनता ने देखा यह तमाशा
दोनों पक्षों ने करवायी है पुलिस में शिकायत दर्ज
सन्मार्ग संवाददाता
भाटपाड़ा : भाटपाड़ा नगरपालिका के पार्षदों में आये दिन मनमुवाव और पार्षदों द्वारा आरोप-प्रत्यारोप सामने आते हैं मगर बुधवार को मामला हाथापाई तक पहुंच गया। सरेआम गुंडई करते दिखे पार्षद और जनता ने यह सब तमाशा देखा। जनता की सेवा की शपथ लेने वाले इन जनप्रतिनिधियों ने पालिका भवन में भी गुंडई दिखायी, जिसे देख सभी भौंचक्के हो गये।विचारों का मतभेद होने पर भी पालिका भवन ने नागरिकों के हित व विकास कार्यों की बात होनी चाहिए थी जबकि इसके बजाय यहां पार्षदों ने एक दूसरे को अपनी शक्ति​ दिखानी शुरू कर दी है। आरोप है कि तृणमूल पार्षद सतेन राय, पार्षद तरुण साव व अभिमन्यु तिवारी के बीच इसदिन मारपीट हुई। पार्षद सतेन राय का दावा है कि उन्हें घूंसों से मारा गया है ​जिससे उन्हें गले और कंधे में गंभीर चोट आयी है। वे फिलहाल भाटपाड़ा अस्पताल में भर्ती हैं। पार्षद का आरोप है कि उनके वार्ड में एक जमीन को लेकर पारिवारिक तनाव है जिसमें उन्होंने एक पक्ष की शिकायत सुनने के बाद भी सभी को बराबर भाग करने की राय दी है। वहीं इस मामले में पार्षद तरुण साव एक पक्ष की ओर से दबाव बना रहे हैं। वे वार्ड में कई और समाजविरोधी क्रियाकलाप कर रहे हैं जिसको लेकर उन्होंने लोगों के सामने शिकायतें रखी थीं। इसदिन जब वे बोर्ड मीटिंग में शामिल होने के लिए पहुंचे तो पार्षद तरुण साव व अभिमन्यु तिवारी ने उन पर टोंट टिटकारी शुरू कर दी। उन्होंने जब प्रतिवाद किया तो दोनों उन्हें एक सीआईसी के कमरे में खींच ले गये और उन्हें पीटने लगे। उन्होंने बताया कि दोनों के विरुद्ध पुलिस में एफआईआर दर्ज करवाया गया है। वहीं पार्षद अभिमन्यु तिवारी ने बताया कि सतेन राय के खिलाफ रुपये उगाही शिकायतें आ रहीं हैं। इसदिन जब वे पालिका में पहुंचे तो उन्हें कहा गया कि आपके विरुद्ध लोगों की ऐसी शिकायतें आ रही हैं,यह सुनकर ही वह भड़क गये और गालीगलौज करते हुए हाथापाई शुरू कर दी। उन्होंने खुद ही अपने कपड़े फाड़ दिये। पार्षद अभिमन्यु तिवारी ने कहा कि उनकी ओर से भी पुलिस में शिकायत दर्ज करवायी गयी है जबकि पार्षद तरुण साव ने मारपीट की बात से इनकार किया है। मामले में पालिका के वाइस चेयरमैन देवज्योति घोष ने कहा कि दुर्भाग्य जनक है। जनप्रतिनिधियों से जनता यह उम्मीद नहीं करती। उन्हें और अधिक जिम्मेदार होना होगा, यह सब ठीक नहीं हुआ। बैरकपुर जिला भाजपा संगठन अध्यक्ष संदीप बनर्जी ने कहा कि दरअसल भाटपाड़ा में सांसद और विधायक दो पक्षों में सारे पार्षद बंट गये हैं। वे जनसेवा नहीं बल्कि अपनी-अपनी जेब भरने में ज्यादा लगे हैं। भाटपाड़ा के लोग आतंक में जीने को मजबूर हैं। विकास के नाम पर यहां कुछ नहीं हो रहा। ऐसी घटनाएं होना यहां लाजमी है। घटना को लेकर पुलिस का कहना है कि दोनों पक्षों की शिकायतों पर छानबीन शुरू की गयी है।

Visited 37 times, 1 visit(s) today
0
0

मुख्य समाचार

कोलकाता: बीते दिन प्रतिबंधित इस्लामिक आतंकी संगठन अंसार अल इस्लाम से जुड़ा 'शहादत' मॉड्यूल का बंगाल पुलिस ने खुलासा किया
नई दिल्ली: सोनाक्षी सिन्हा और जहीर इकबाल एक साथ नई जिंदगी शुरू करने जा रहे हैं। आज दोनों शादी के
नई दिल्ली: NEET-UG परीक्षा में कथित गड़बड़ियों की व्यापक जांच CBI को सौंपे जाने के बाद एजेंसी ने कार्रवाई शुरू
कोलकाता: लंबे इंतजार के बाद आखिरकार दक्षिण बंगाल में मानसून दस्तक दे चुका है। पिछले कुछ दिनों से छिटपुट बारिश
कोलकाता: यात्रियों के लिए अच्छी खबर है, सियालदह स्टेशन पर प्लेटफॉर्म नंबर 1, 2, 5 से 12 कोच की EMU
कोलकाता: डलहौसी इलाके के गर्स्टिन प्लेस स्थित 50 साल से अधिक पुराने मकान में शनिवार तड़के भयानक आग लग गयी।
नई दिल्ली: ICC मेन्स T20 विश्व कप 2024 में सुपर 8 में 23 जून (रविवार) को अफगानिस्तान ने बड़ा उलटफेर
पुरी : हर साल ज्येष्ठ माह की पूर्णिमा के दिन भगवान जगन्नाथ के साथ ही बलभद्र जी, सुभद्राजी और सूदर्शन
मेयर ने कहा, अवैध रूफटॉप रेस्तरां को किया जायेगा ध्वस्त, शुरू हुआ सर्वे कोलकाता : कोलकाता नगर निगम ने छत
12 साल की शिवानी हावड़ा के मुसलमानपाड़ा की रहनेवाली है बेंटरा थाने में दर्ज की गयी शिकायत, परिवार के साथ
कोलकाता : कंचनजंघा एक्सप्रेस हादसे का असर अब तक रेल सेवाओं पर देखने को मिल रहा है। एक और जहां
कोलकाता : ब्लू लाइन पर रात्रि सेवाओं का समय 24 जून से 20 मिनट आगे बढ़ाया जा रहा है। सोमवार
ऊपर