Driving License और रजिस्ट्रेशन का स्मार्ट कार्ड मिल सकेगा इस महीने के अंत से

Fallback Image

 सन्मार्ग संवाददाता
कोलकाता : राज्य सरकार के परिवहन विभाग की विशेष पहल के तहत लाेगों को ड्राइविंग लाइसेंस और रजिस्ट्रेशन के स्मार्ट कार्ड मिलेंगे। इस महीने के अंत से ही इस परिसेवा की शुरुआत हो सकती है। इस बारे में परिवहन विभाग के वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि पहले ड्राइविंग लाइसेंस और रजिस्ट्रेशन के कार्ड अलग-अलग जिलों में अलग – अलग तरीके से निकाले जाते थे, लेकिन अब क्यूआर बेस्ड स्मार्ट कार्ड की शुरुआत की जा रही है। इससे परिवहन विभाग अब सीधे तौर पर जुड़ेगा जबकि पहले ऐसा नहीं था। सूत्रों के अनुसार, फिलहाल एनआईसी और वाहन पोर्टल के साथ ही इसे डाक विभाग से जोड़ने का काम किया जा रहा है। यह काम होते ही लोगों को स्मार्ट कार्ड के रूप में ड्राइविंग लाइसेंस और सर्टिफिकेट ऑफ रजिस्ट्रेशन मिल सकेगा।
2020 में बंद कर दिया गया था कार्ड
जानकारी के अनुसार, वर्ष 2020 में ड्राइविंग लाइसेंस का कार्ड देना बंद कर दिया गया था। इसका कारण था कि अलग-अलग जिलों से अलग-अलग प्रकार के कार्ड बनाये जाते थे, ऐसे में कार्ड की गुणवत्ता भी अलग रहती थी। जिलों में अब भी कार्ड दिये जाते हैं, लेकिन कोलकाता में मार्च 2020 से यह बंद कर दिया गया है। अब जिस स्मार्ट कार्ड को जारी किया जायेगा, उसे डाक विभाग द्वारा लोगों तक पहुंचाया जायेगा।
साइज में होगा एटीएम कार्ड की तरह
परिवहन विभाग के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि नये क्यूआर बेस्ड स्मार्ट कार्ड का साइज एटीएम कार्ड की तरह होगा। एक एटीएम कार्ड का साइज लगभग 85.60एमएम × 53.98एमएम (3.370 इंच× 2.125 इंच)होता है। ड्राइविंग लाइसेंस और रजिस्ट्रेशन दोनों ही कार्ड के साइज एक तरह के होंगे।
इस रंग का होगा नया स्मार्ट कार्ड
बताया गया कि नया स्मार्ट कार्ड सिल्वर अथवा सफेद रंग का होगा। ड्राइविंग लाइसेंस और सर्टिफिकेट ऑफ रजिस्ट्रेशन दोनों ही स्मार्ट कार्ड के रंग एक समान होंगे।
पूरे पश्चिम बंगाल के लिए होगी एक यूनिट
पूरे पश्चिम बंगाल के लिए एक ही यूनिट रहेगी जहां से ये स्मार्ट कार्ड डिस्पैच किये जायेंगे। मौजूदा समय में कोलकाता में कार्ड बंद है और मोबाइल पर ही लाइसेंस व रजिस्ट्रेशन के पेपर आ जाते हैं। काफी लोग इन पेपर्स के कार्ड बनवा लेते हैं, इनमें लाइसेंस व रजिस्ट्रेशन संबंधी जानकारियां तो सही रहती हैं, लेकिन कार्ड का परिवहन विभाग से कोई लेना-देना नहीं रहता। हालांकि अब इस महीने के अंत से परिवहन विभाग की ओर से ही स्मार्ट कार्ड दिये जायेंगे। नये सिस्टम की शुरुआत के बाद जो लोग ड्राइविंग लाइसेंस और सर्टिफिकेट ऑफ रजिस्ट्रेशन के लिये आवेदन करेंगे, उन्हें स्मार्ट कार्ड मिलेगा। वहीं जिनके पास पुराना डीएल और आरओसी है, अगर उन्हें कार्ड के रूप में ये चाहिये तो इसके लिये अपने-अपने आरटीओ के पास आवेदन करना होगा।

शेयर करें

मुख्य समाचार

Loksabha Elections : 21 राज्यों की 102 सीटों पर 63% वोटिंग

नई दिल्ली : लोकसभा के फर्स्ट फेज में 21 राज्यों-केंद्र शासित प्रदेशों की 102 सीटों पर वोटिंग पूरी हुई है। सुबह 7 बजे से शाम आगे पढ़ें »

चीन की उड़ी नींद! भारत ने फिलीपींस को भेजा ब्रह्मोस क्रूज मिसाइल

नई दिल्ली: भारत ने फिलीपींस को शक्तिशाली ब्रह्मोस सुपरसोनिक क्रूज मिसाइल की पहली खेप भेज दी है। डिफेंस एक्सपोर्ट में भारत ने ये बड़ा कदम आगे पढ़ें »

ऊपर