एक करोड़ का फ्लैट अयन ने अपने बेटे की गर्लफ्रेंड के नाम पर था खरीदा, जांच में खुलासा

सन्मार्ग संवाददाता
कोलकाता : एसएससी मामला कुछ लोगों के लिए धन कूबेर की तरह था। इससे एक या दो नहीं बल्कि दर्जनों में लोग करोड़पति बने हैं। हाल ही में ईडी की टीम को इस मामले में गिरफ्तार अयन शील की एक और प्रोपर्टी का पता चला है। सूत्रों की माने तो अयन शील ने अपने बेटे की गर्लफ्रेंड के नाम पर एक करोड़ का फ्लैट खरीदा था। यह फ्लैट दक्षिण कोलकाता में हैं। इससे जुड़े काग​जातों को लेकर आने के लिए अयन के बेटे अभिषेक की गर्लफ्रेंड ईमोन गांगुली को कहा गया है। इस बारे में गत सप्ताह में ईमोन से ईडी की टीम ने पूछताछ की थी।
ईमोन ने ईडी को बताया, कई दस्तावेजों पर बिना बताए साइन करवाए गये थे
इस बारे में ईमोन ने ईडी अधिकारी को बताया है कि उन्हें नहीं पता कि उनके नाम पर अयन ने कितनी संपत्ति खरीदी है। उनसे कई दस्तावेजों पर हस्ताक्षर करवाए गये थे। इसमें हो सकता है कि उनके नाम पर कुछ संपत्तियां खरीदी गयी हो। ईडी सूत्रों के मुताबिक, ईमोन इस संपत्ति की मालिक कैसे बनी, इस बारे में स्पष्टीकरण मांगा गया है। 19 मार्च को अयन शील की गिरफ्तारी के बाद से ईडी अयन के बेटे अभिषेक और उसकी दोस्त ईमोन की भूमिका पर नजर रखे हुए है। उत्तरपाड़ा निवासी ईमोन के पिता राज्य के शहरी विकास विभाग के पूर्व संयुक्त निदेशक थे। उल्लेखनीय है कि अयन का बेटा ईमोन के साथ संयुक्त स्वामित्व में कई व्यवसायों में शामिल है।
फिर ईडी कर सकती है तलब
इनमें दुर्गापुर एक्सप्रेसवे के साथ एक पेट्रोल पंप और ‘फॉसिल्स’ नामक एक कंपनी शामिल है। पिछले हफ्ते, ईमोन को जांचकर्ताओं ने सीजीओ कॉम्प्लेक्स में बुलाया था। वहां उनसे कई घंटे तक पूछताछ की। पूछताछ में इमोन ने स्वीकार किया कि उनके नाम पर करोड़ों रुपए की संपत्ति हो सकती है लेकिन इसके बारे में उन्हें ज्यादा नहीं पता है। ईमोन ने दावा किया कि उसे नहीं पता कि फ्लैट क्यों खरीदा गया था। ईमोन ने यहां तक ​​दावा किया कि वह अयन शील से मिले सारे पैसे लौटाने को वह तैयार है। जांचकर्ताओं का मानना ​​है कि बेटे अभिषेक और उसकी गर्लफ्रेंड ईमोन ने भर्ती घोटाले में अयन शील के काले धन को सफेद किया।
एसएससी के रुपये से खरीदी गये थे महंगे फ्लैट
उन्हें लगता है कि उन्होंने भर्ती भ्रष्टाचार के पैसे को विभिन्न तरीकों से निवेश किया है। जांचकर्ताओं का मानना ​​है कि ईमोन से पूछताछ करने पर और जानकारी मिल सकती है। साथ ही इस भ्रष्टाचार में ईमोन के पिता विभाष गांगुली से भी ईडी पूछताछ कर सकती है। ईडी सूत्रों का कहना है कि ईमोन के पिता ने अयन शील को नगरपालिका में नियुक्ति का टेंडर दिलाने में मदद की थी। इसके बदले अयन शील ने अपनी बेटी के माध्यम से अपने पिता को भ्रष्टाचार का पैसा दिया।

Visited 97 times, 1 visit(s) today
शेयर करें

मुख्य समाचार

Budhwar ke Upay: बुधवार के दिन करें ये 5 उपाय, करियर व कारोबार के लिए …

कोलकाताः बुधवार का दिन प्रथम पूजनीय भगवान गणेश और लाल किताब के अनुसार मां दुर्गा को समर्पित है लेकिन इसके देवता बुध है। बुध ग्रह आगे पढ़ें »

IPL 2024 को लेकर सामने आई बड़ी जानकारी, इस तारीख से खेला जाएगा

नई दिल्ली: भारत समेत दुनियाभर के क्रिकेट प्रेमियों के लिए बड़ी खुशखबरी है। IPL 2024 को लेकर बड़ी खबर सामने आ रही है। IPL के आगे पढ़ें »

ऊपर