महानगर में घातक सड़क दुर्घटनाओं की संख्या में आयी 25 प्रतिशत की गिरावट

सन्मार्ग संवाददाता
कोलकाता : महानगर में सड़क दुर्घटनाओं पर लगाम कसने के लिए कोलकाता पुलिस की ओर से लगातार कदम उठाए जाते हैं। खासतौर पर सेफ ड्राइव सेव लाइफ अभियान के तहत कोलकाता पुलिस की ओर से साल भर महानगर की सड़कों पर जागरूकता अभियान चलाया जाता है। इसी का नतीजा है कि बीते कुछ सालों में महानगर में सड़क दुर्घटनाओं की संख्या में कमी आयी है। पिछले साल के मुकाबले इस साल के प्रथम 4 महीनों में भी घातक दुर्घटनाओं की संख्या में लगभग 25 प्रतिशत की कमी आयी है। यही नहीं महानगर में रात के समय घटने वाली दुर्घटनाओं पर लगाम कसने के लिए पुलिस की ओर से नाका चेकिंग की जा रही है। इस बीच गुरुवार की रात कोलकाता पुलिस कमिश्नर विनीत कुमार गोयल ने खुद महानगर के विभिन्न इलाकों में घूमकर महानगर की सुरक्षा व्यवस्था का जायजा लिया। उन्होंने विभिन्न जगहों पर चल रही नाका चेंकिग का भी जायजा लिया। हाल ही में महानगर में सड़क दुर्घटनाओं को कम करने के लिए आईआईटी खड़गपुर की तरफ से ट्रैफिक पुलिस कर्मियों के लिए एक विशेष कार्यशाला का आयोजन किया गया। इस दौरान आईआईटी खड़गपुर के विशेषज्ञों ने पुलिस कर्मियों को शहर में होने वाली दुर्घटनाओं को रोकने के लिए कई सुझाव दिए। इस दौरान वाहनों की ओ‍वर स्पीडिंग और राहगीरों की जे वॉकिंग को अधिकतर दुर्घटनाओं का मुख्य कारण बताया गया था। इसके बाद पुलिस की ओर से इन दो चीजों पर काम किया जा रहा है।
वर्ष 2022 के मुकाबले 2023 के 4 महीने में दुर्घटनाओं में 16 मौत हुई कम
कोलकाता ट्रैफिक पुलिस के आंकड़ों की माने वर्ष 2022 में जनवरी से अप्रैल महीने के बीच कुल 59 घातक सड़क दुर्घटनाएं घटी थीं। इनमें 60 लोगों की मौत हुई थी। वहीं वर्ष 2023 में जनवरी से अप्रैल महीने के बीच शहर में 40 घातक सड़क दुर्घटनाएं घटी हैं जिसमें 44 लोगों की मौत हुई है। ऐसे में दोनों साल के मुकाबले इस साल के प्रथम 4 महीने में सड़क दुर्घटनाओं 16 कम मौतें हुई हैं। इस तरह दुर्घटनाओं और उसमें होने वाली मृत्यु दर में 25 प्रत‌िशत की कमी आयी है। पुलिस के अनुसार वर्ष 2022 के जनवरी महीने में 18 सड़क दुर्घटनाओं में 18 लोगों की मौत हुई थी। फरवरी में 16 घटनाओं में 16 की मौत, मार्च में 15 घटनाओं में 15 लोगों की मौत और अप्रैल महीने में 14 सड़क दुर्घटनाओं में 15 लोगों की मौत हुई थी। इस तरह 59 घटनाओं में 60 लोगों की मौत हुई थी । वहीं वर्ष 2023 के जनवरी महीने में घटी 7 सड़क दुर्घटनाओं में 7 लोगों की मौत हुई थी। फरवरी महीने में घटी 16 सड़क दुर्घटनाओं में 16 लोगों की मौत हुई थी। मार्च महीने में घटी 9 सड़क दुर्घटनाओं में 9 लोगों की मौत हुई थी। वहीं अप्रैल 2023 में घटी 8 सड़क दुर्घटनाओं में 12 लोगों की मौत हुई थी।
क्या कहना है पुलिस अधिकारी का
कोलकाता ट्रैफिक पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि ट्रैफिक पुलिस कर्मियों के लगातार प्रयास के कारण महानगर में सड़क दुर्घटना और उसमें होने वाली मौतों की संख्या में काफी कमी आयी है। पुलिस की ओर से लगतार जागरूकता अभियान भी चलाया जा रहा है। इसके अलावा लापरवाही और तेज गति से वाहन चलाने वाले लोगों पर भी कार्रवाई की जा रही है। कोलकाता ट्रैफिक पुलिस महानगर की सड़कों को लोगों के लिए सुरक्षित बनाने के लिए प्रयासरत है।

Visited 114 times, 1 visit(s) today
शेयर करें

मुख्य समाचार

आईएसपीएल को लेकर उत्साहित हैं बॉलीवुड सितारे, सैफ-अभिषेक ने …

मुंबई : इंडियन स्ट्रीट प्रीमियर लीग (आईएसपीएल) जल्द ही लोगों का मनोरंजन करने के लिए शुरू होने जा रहा है। दर्शकों को इस टेनिस बॉल आगे पढ़ें »

लोकसभा चुनाव से पहले लागू होगा CAA ?

नई दिल्ली: देश में नागरिकता संशोधन अधिनियम (CAA) जल्द लागू हो सकता है। सूत्रों के अनुसार, लोकसभा चुनाव के लिए आदर्श आचार संहिता जारी होने आगे पढ़ें »

ऊपर