तिलजला हत्याकांड : पुलिस व जनता में झड़प, पुलिस वाहन में तोड़फोड़ व आगजनी

घंटों तक चला रेल व सड़क अवरोध
पुलिस की कार व अन्य वाहनों में लगायी गयी आग
प्रदर्शन के दौरान पकड़े गये तीन लोगों की रिहाई की मांग की
लोगों ने हत्या के अभियुक्त को उन्हें सौंपने की मांग की
सन्मार्ग संवाददाता
कोलकाता : महानगर में एक 6 साल की बच्ची की हत्या को केन्द्र कर सोमवार को तिलजला का बंडेल गेट इलाका रणक्षेत्र में तब्दील हो गया। लोगों ने प्रदर्शन के दौरान इलाके के ट्रैफिक पुलिस के पोस्ट में तोड़फोड़ की। उग्र भीड़ ने कई प‌ुल‌िस वाहनों में तोड़फोड़ कर एक पुलिस कार और दो बाइक में आग लगा दी। इसके अलावा और तीन वाहनों में तोड़फोड़ की गयी। प्रदर्शनकारियों ने करया थाना प्रभारी के वाहन के आग लगा दी थी। लोगों ने पुलिस कर्मियों को लक्ष्य कर पथराव किया। पथराव में कई पुलिस कर्मी घायल हुए हैं। आरोप है कि बाइक व कार में आग लगने की खबर पाकर मौके पर पहुंचे दमकल के वाहन को लक्ष्य कर प्रदर्शनकारियों ने पथराव किया। इसके कारण बंडेल गेट फ्लाईओवर पर दमकल के वाहन को रिवर्स गियर में वापस जाना पड़ा। बाद में कोलकाता पुलिस के वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों के नेतृत्व में भारी संख्या में पहुंचे पुलिस कर्मियों ने लाठीचार्ज कर उत्तेज‌ित भीड़ को खदेड़ा। ‌इस दौरान पुलिस की ओर से कई आंसू गैस के गोले भी दागे गए। पुलिस की तत्परता से प्रदर्शनकारियों द्वारा किए जा रहे रेल अवरोध को हटाया गया। इलाके में उत्तेजना के माहौल को देखते हुए रैफ ने रूट मार्च किया। ज्वाइंट सीपी हेडक्वार्टर्स संतोष पांडेय ने कहा कि प्रदर्शनकारियों को पहले पुलिस ने काफी समझाने की कोशिश की लेकिन जब वे नहीं माने तब पुलिस की ओर से बाध्य होकर कार्रवाई की गयी। उग्र भीड़ को नियंत्रित करने के लिए कोलकाता पुलिस के ज्वाइंट सीपी ट्रैफिक रूपेश कुमार, डीसी जादवपुर बिदिसा कालिता, डीसी एसईडी शुभंकर भट्टाचार्य, डीसी ईडी आरिश बिलाल, डीसी बेहला सौम्य राय सहित अन्य अधिकारी इलाके में तैनात थे।
लोगों ने रेल व सड़क अवरोध कर किया प्रदर्शन
सोमवार की दोपहर स्थानीय लोगों ने कई घंटे तक बालीगंज व पार्क सर्कस स्टेशन के बीच रेल अवरोध कर प्रदर्शन किया। इसके कारण सियालदह दक्षिण शाखा में ट्रेन सेवाएं प्रभावित रहीं। लोगों द्वारा ट्रेन अवरोध के कारण सियालदह आने वाले यात्रियों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ा। बालीगंज व पार्क सर्कस स्टेशन के बीच ट्रेन अवरोध होने के कारण लोग ट्रेन से उतर कर पैदल ही अपने गंतव्य के लिए रवाना हो गए। पुलिस और आरपीएफ अधिकारियों ने प्रदर्शनकारियों को समझाने की काफी कोशिश की, लेकिन वे कोई बात मानने को तैयार नहीं थे। बाद में कोलकाता पुलिस द्वारा आंसू गैस के गोले दागने एवं लाठीचार्ज करने पर स्थिति स्वाभाविक हुई। इससे पहले प्रदर्शनकारी रेल अवरोध कर रविवार की रात तिलजला थाने में तोड़फोड़ के मामले में पकड़े गए तीन स्थानीय लोगों की अविलंब रिहाई, हत्या के अभियुक्त को उन्हें सौंपने की मांग कर रहे थे। प्रदर्शनकारियों के अनुसार जब तक उन तीन स्थानीय लोगों नहीं छोड़ा जाएगा तब तक वे लोग प्रदर्शन करते रहेंगे। इससे पहले सोमवार की सुबह स्थानीय लोगों ने पिकनिक गार्डन रोड पर सड़क अवरोध कर प्रदर्शन किया। प्रदर्शन के दौरान कुछ लोग एक बस की छत पर चढ़ गए। कई लोगों ने सड़क पर बैठकर अवरोध कर दिया। लोगों ने पुलिस पर निष्क्र‌ियता का भी आरोप लगाया। लोगों का कहना था कि रविवार की सुबह बच्ची की गुमशुदगी की शिकायत दर्ज कराने पर भी पुलिस ने ठीक से कार्रवाई नहीं की। बाद में बच्ची का शव मिलने पर उन्होंने थाने के बाहर प्रदर्शन किया। इसके बाद पुलिस ने उन लोगों पर लाठीचार्ज कर किया। इसके साथ ही दो महिला सहित तीन लोगों को गिरफ्तार किया गया।

Visited 97 times, 1 visit(s) today
शेयर करें

मुख्य समाचार

Weather Update: बंगाल में भीषण गर्मी के बीच आज 3 जिलों में बदलेगा मौसम, कहां-कहां होगी बारिश ?

कोलकाता: बंगाल में लोगों को लू और गर्म हवा का सामना करना पड़ रहा है। मौसम विभाग की मानें तो गर्मी की लहर अभी कम आगे पढ़ें »

EPFO से 3 दिन में मिलेंगे 1 लाख रुपए, बदल गया नियम

नई दिल्ली: EPFO अपने नियमों में फिर एक बदलाव हुआ है। इसके तहत मेंबर्स के अकाउंट में तीन दिन के भीतर एक लाख रुपए आ आगे पढ़ें »

ऊपर