नहीं चाहते रात में बार-बार टूटे आपकी नींद, तो आज से ही खाना शुरू करें ये फूड

कोलकाता : दुनिया में ऐसा शायद ही कोई हो, जो हर दिन नई चुनौतियों का सामना ना करते है। इससे शरीर की एनर्जी लेवल कम होती है, जिसका सीधा असर शारीरिक के साथ-साथ मानसिक स्वास्थ्य पर पड़ता है। हालांकि रात में पर्याप्त नींद लेना से दैनिक आधार पर होने वाली इस एनर्जी की कमी को दूर रखा जा सकता है। लेकिन कई बार ऐसा नहीं हो पाता। कई अध्ययनों में पाया गया है कि किसी भी व्यक्ति को ठीक से काम करने के लिए रात में कम से कम 7 घंटे की नींद जरूर लेनी चाहिए। ठीक ढंग से ना सोने के कारण आपका मन काम में नहीं लगेगा और तनाव का स्तर बढ़ेगा। अगर आपको भी रात में अच्छी नींद नहीं आती है तो तुरंत खाना शुरू कर दें नीचे बताए गए मसाले।

1. अश्वगंधा
अश्वगंधा एक बहुत प्रसिद्ध भारतीय जड़ी बूटी है जिसका उपयोग तनाव को दूर करने और एंग्जाइटी जैसी मानसिक स्वास्थ्य समस्या को ठीक करने के लिए किया जाता रहा है। यह एक एडाप्टोजेनिक जड़ी बूटी है जो हमारे शरीर को तनाव के लक्षणों से लड़ने में मदद कर सकती है। चूंकि यह तनाव और चिंता के लक्षणों में मदद कर सकता है, इसलिए नींद लाने में इसकी प्रमुख भूमिका होती है।

2. जायफल
जायफल एक और आवश्यक मसाला है जिसमें नींद लाने वाले गुण होते हैं। इसके गुण हमारी नसों को शांत करने और तनाव दूर करने में मदद कर सकते हैं। यह नींद को प्रभावी ढंग से प्रेरित और गुणवत्ता में सुधार दोनों में मदद कर सकता है। आप हल्दी वाले दूध में एक चुटकी जायफल मिला सकते हैं और सोने से पहले इसे सकते हैं। इससे आप पूरी रात अच्छी तरह सो पाएंगे।

3. पुदीने के पत्ते
पुदीने में मन शांत करने वाले गुण पाए जाते हैं, जिससे तनाव और एंग्जाइटी को दूर करने में मदद मिल सकती है। पुदीने में मौजूद मेन्थॉल मांसपेशियों को आराम देने में मदद करता है और यह प्रकृति में एंटीस्पास्मोडिक है। इससे शांति से सोने में मदद मिलती है। सोने से पहले एक कप सुखदायक पुदीने की चाय पिएं और रात को अच्छी नींद का आनंद लें।

4. जीरा
भारतीय रसोई में आसानी से उपलब्ध और प्रभावशाली मसालों में से एक जीरा है। इसके सेवन से मेटाबॉलिज्म बूस्ट होता है, पाचन अच्छा होता है और एसिड रिफ्लक्स को रोकता है। इसके अलावा, जीरा नींद को प्रेरित करने के लिए भी जाना जाता है। इसके गुण तनाव और चिंता को कम करने में मदद कर सकते हैं।

5. सौंफ
सौंफ में मन को शांत करने वाले गुण पाए जाते हैं। यह हमारी मांसपेशियों को आराम देने में हमारी मदद कर सकता है जिसमें हमारी पाचन मांसपेशियां भी शामिल हैं। ऐसे गुण अनिद्रा, तनाव या एंग्जाइटी जैसे समस्याओं से पीड़ित लोगों पर सकारात्मक भूमिका निभाते हैं।

 

शेयर करें

मुख्य समाचार

Loksabha Elections : 21 राज्यों की 102 सीटों पर 63% वोटिंग

नई दिल्ली : लोकसभा के फर्स्ट फेज में 21 राज्यों-केंद्र शासित प्रदेशों की 102 सीटों पर वोटिंग पूरी हुई है। सुबह 7 बजे से शाम आगे पढ़ें »

चीन की उड़ी नींद! भारत ने फिलीपींस को भेजा ब्रह्मोस क्रूज मिसाइल

नई दिल्ली: भारत ने फिलीपींस को शक्तिशाली ब्रह्मोस सुपरसोनिक क्रूज मिसाइल की पहली खेप भेज दी है। डिफेंस एक्सपोर्ट में भारत ने ये बड़ा कदम आगे पढ़ें »

ऊपर