मैं एक योद्धा हूं, जरूरत पड़ी तो फिर ऐसा करूंगा, भारत-पाक मैच में झड़प पर बोले- कोच स्टिमक

शेयर करे
बेंगलुरू : भारत और पाकिस्तान के बीच बुधवार रात सैफ चैंपियनशिप फुटबाॅल मैच के दौरान झड़प हो गई। पाकिस्तानी टीम के खिलाड़ी भारतीय टीम के हेड कोच और मैनेजर इगोर स्टीमक से लड़ने पहुंच गए। स्थिति इतनी बिगड़ गयी कि मैच के रेफरी और भारतीय खिलाड़ियों को बीच में आकर मोर्चा संभालना पड़ा। इस दौरान खेल करीब 4 मिनट तक रोकना पड़ा। स्टीमाक को फील्ड से दूर ले जाया गया और रेफरी ने उन्हें रेड कार्ड दिखाया। स्टीमाक को अब भारत के अगले मैच में स्टेडियम से बाहर रहने की सजा दी गई है।
इसी बीच भारत के मुख्य कोच इगोर स्टिमक ने पाकिस्तान के खिलाफ यहां सैफ चैंपियनशिप के पहले मैच में टीम की 4-0 की जीत के दौरान अपनी हरकत का बचाव करते हुए कहा है कि ‘अन्यायपूर्ण फैसलों’ के खिलाफ अपने खिलाड़ियों को बचाने के लिए वह फिर ऐसा करेंगे। गुरुवार को स्टिमक ने ट्वीट किया, ‘फुटबॉल जुनून से जुड़ा है, विशेषकर तब जब आप अपने देश के लिए खेल रहे हों। आप कल के मेरे काम के लिए मेरे से नफरत या प्यार कर सकते हो लेकिन मैं एक योद्धा हूं और अगर मैदान पर अनुचित फैसलों के खिलाफ हमारे खिलाड़ियों को बचाने की जरूरत पड़ेगी तो मैं फिर ऐसा करूंगा।’
बारिश के बीच पहले हाफ में भारत ने सुनील छेत्री के दो गोल से 2-0 की बढ़त बनाई लेकिन स्टिमक के अविवेक के एक क्षण ने अचानक माहौल को गरमा दिया। बेहद अनुभवी कोच और खिलाड़ी स्टिमक ने पाकिस्तान के खिलाड़ी अब्दुल्ला इकबाल से गेंद छीनने का प्रयास किया जबकि वह ‘थ्रो-इन’ ले रहा था। इस पर कुछ मेहमान खिलाड़ियों और कोचिंग स्टाफ के कुछ सदस्यों ने नाराजगी जताई। रैफरी प्रज्जवल छेत्री और अन्य मैच अधिकारियों को इसके बाद हस्तक्षेप करके मामले को शांत कराना पड़ा। खिलाड़ियों के बीच गरमा-गरमी थमने के बाद रैफरी छेत्री ने विरोधी खिलाड़ी को जानबूझकर रोकने के लिए फुटबॉल नियमों के अनुसार स्टिमक को लाल कार्ड दिखाया।
स्टिमक को इसके बाद बाकी मैच के दौरान टचलाइन पर खड़े होने की स्वीकृति नहीं थी और भारत के पूर्व डिफेंडर महेश गवली ने आगे उनकी भूमिका निभाई। भारत और पाकिस्तान के कुछ खिलाड़ियों को भी इस मामले में गैरजरूरी रूप से हस्तक्षेप के लिए पीले कार्ड दिखाए गए। पाकिस्तान की हार के बाद भारत के सहायक कोच गवली ने कहा कि स्टिमक को लाल कार्ड दिखाया जाना थोड़ा कड़ा था लेकिन रैफरी को नियमों के अनुसार काम करना था। गवली ने मैच के बाद प्रेस कांफ्रेंस में कहा, ‘हां, यह अपराध था और अगर आप नियमों के अनुसार चलो तो इसके लिए अधिकतर लाल कार्ड दिखाया जाता है। लेकिन हमें लगता है कि यह कोच के प्रति थोड़ा कड़ा था।
Visited 119 times, 1 visit(s) today
0
0

मुख्य समाचार

कोलकाता: दक्षिण बंगाल भीषण गर्मी से झुलस रहा है। लोगों के लिए सुबह-सुबह तेज धूप में निकलना मुश्किल हो गया
मंगाफ: कुवैत के मंगाफ में बुधवार सुबह एक ब्लिडिंग में लगी भीषण आग में 41 लोगों की मौत हो गई
अयोध्या: राम मंदिर के चलते देश-दुनिया में अयोध्या का अपना अलग स्थान है। ऐसे में इसकी सुरक्षा के लिए तमाम
कोलकाता: पश्चिम बंगाल में अब रद्द की जा चुकी शिक्षकों की भर्ती के मामले में प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने उन
नदिया : नदिया जिले की अंतरराष्ट्रीय सीमा पर बांग्लादेशी मवेशी तस्करों ने बीती रात BSF जवानों पर हमला कर दिया। इस
कोलकाता: राज्य के अधिकांश जिले भीषण गर्मी से तप रहा है। दक्षिण बंगाल के लोग भीषण गर्मी से बेहाल हैं।
नई दिल्ली: हिंदू धर्म शास्त्रों में एकादशी तिथि का विशेष महत्व है। हर माह दोनों पक्षों की एकादशी को एकादशी
हावड़ा: बीते दिन रानीगंज के बाद अब कोलकाता से सटे हावड़ा में दिनदहाड़े डकैती की वारदात हुई है। दरअसल, हावड़ा
नई दिल्ली: सुप्रीम कोर्ट ने NEET गड़बड़ी को लेकर सुनवाई के दौरान नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (NTA) को नोटिस जारी किया
हावड़ा : हाल ही में हुई गार्डनरीच की घटना ने हावड़ा निगम की आंखें खोल दीं। इसके बाद निगम की ओर
कोलकाता: पार्क स्ट्रीट के पार्क सेंटर में भीषण आग लग गई है। घटनास्थल पर दमकल की 9 गाड़ियां मौजूद है।
कोलकाता: मोदी कैबिनेट का गठन हो चुका है। अब केंद्र सरकार की ओर से राज्य के लिए बड़ी खुशखबरी है।
ऊपर