आधे हावड़ा का बदल गया रास्ता, जानिये क्या है कारण

हावड़ा : गंगा के नीचे मेट्रो सेवा शुरू हुए अभी एक महीना भी नहीं बीता है और इतने समय में ही हावड़ा शहर के एक बड़े हिस्से का आने-जाने का रास्ता बदल गया है। हावड़ा मैदान से लोग मेट्रो से कोलकाता जा रहे हैं। नतीजतन, हावड़ा मैदान के ऑटो में भले ही भीड़ होती है, हालांकि यात्रियों के लिए कई मिनट तक इंतजार करना पड़ता है लेकिन हावड़ा स्टेशन के पास बस स्टैंड तक के ऑटो में यात्री खास नहीं होते। हावड़ा बस स्टैंड से वापसी में कई रूटों को यात्री नहीं मिल रहे हैं। शिवपुर हो या सलकिया-लोग हावड़ा स्टेशन की ओर जाने के बजाय हावड़ा मैदान आ रहे हैं। इसलिए इस रूट के ऑटो चालकों की आय काफी कम हो गयी है। सलकिया, बांधाघाट, पिलखाना, मालीपांचघड़ा, बामुनगाछी से हावड़ा स्टेशन और हावड़ा मैदान तक दोनों मार्गों पर ऑटो हैं। हालांकि हावड़ा मैदान से हावड़ा तक के बीच कोई ऑटो रूट नहीं है। दरअसल शिवपुर से ऑटो एक रूट में हावड़ा मैदान होते हुए हावड़ा स्टेशन तक आता है। मेट्रो शुरू होने के बाद से हावड़ा मैदान रूट के ऑटो में भीड़ बढ़ रही है। परंतु सबसे ज्यादा समस्या हावड़ा मैदान से स्टेशन जाने वाले ऑटो ड्राइवरों को हो रही है। क्योंकि उनके अनुसार यात्रियों की संख्या 50 प्रतिशत तक घट गयी है।वहीं हावड़ा से मैदान आने में भी यही समस्या है कि यात्रिायों की संख्या न के बराबर हो गयी है। हालाँकि, मेट्रो जब रात 9 बजे बंद हो जा रही है तो उसके बाद हावड़ा बस स्टैंड से यात्री पहले की तरह ही मिल रहे हैं, लेकिन बाकी दिन की तस्वीर ड्राइवरों के लिए बिल्कुल भी अच्छी नहीं है।

क्या कहा यात्रियों ने?

पहले कई लोग समय बचाने के लिए बस से हावड़ा मैदान आते थे और हावड़ा स्टेशन तक ऑटो लेते थे। फिर वहां से बस पकड़ते थे। ऐसे ही एक यात्री शेखर सिंह ने कहा कि अब जब मेट्रो की सुविधा हो गयी है तो वे अब मैदान से हावड़ा के लिए ऑटो नहीं लेते हैं। रोहित जायसवाल ने कहा कि उनके लिए 10 रुपये न्यूनतम किराया है क्योंकि वे अब एसी मेट्रो से 12 मिनट में धर्मतला पहुंच जा रहे हैं। एक अन्य यात्री आजाद अंसारी ने कहा कि वे ऑटो व बसों के धक्कों से बच गये हैं। अब उन्हें इतनी कड़कती धूप में उनके नखरे सह कर सफर नहीं करना पड़ता है।

क्या कहा ऑटो ड्राइवरों ने?

अली असगर नामक एक ऑटो ड्राइवर ने कहा कि हावड़ा मैदान के लिए यात्री मिल रहे हैं लेकिन हावड़ा मैदान से हावड़ा जाने के लिए यात्रियों की संख्या 50 प्रतिशत घट गयी है यहां तक की यह कहा जा सकता है ​कि यह संख्या शाम तक न के बराबर रहती है। वहीं सोनू साव नामक ड्राइवर ने कहा कि हम मैदान से स्टेशन तक का 10 रुपये किराया लेते हैं और लोगों को जब इस रूट के लिए 5 रुपये ही देने हो और सफर एसी का होतो कोई क्यो नहीं करेगा। ऐसे में हमारे रोजगार पर सवाल खड़े हो जा रहे हैं। मेट्राे के चालू होने से उम्मीद थी कि यात्रियों की संख्या बढ़ेगी मगर एक रूट को छोड़कर बाकियों में हालत खराब है।क्या कहना है ऑटो यूनियन का : इस बारे में आईएनटीटीयूसी के डिस्ट्रिक प्रेसिडेंट अरविंद दास ने कहा कि विकास का काम निरंतर चलता रहेगा। भविष्य में कभी भी ऑटो ड्राइवरों को अगर इस प्रकार की परेशानी होती है तो उनकी रोजीरोटी के लिए उनके रूट में इजाफा कर दिया जाता है।

Visited 4,737 times, 1 visit(s) today
शेयर करें

मुख्य समाचार

Kolkata Metro Timing : आज से रात 11 बजे के बाद भी चलेगी मेट्रो !

कोलकाता : इस वक्त की बड़ी खबर आ रही है कि मेट्रो रेलवे आज यानी 24 मई से प्रायोगिक तौर पर रात में ब्लू लाइन आगे पढ़ें »

Weather Update: बंगाल में भीषण गर्मी के बीच आज 3 जिलों में बदलेगा मौसम, कहां-कहां होगी बारिश ?

कोलकाता: बंगाल में लोगों को लू और गर्म हवा का सामना करना पड़ रहा है। मौसम विभाग की मानें तो गर्मी की लहर अभी कम आगे पढ़ें »

ऊपर