7 राज्यों की पुलिस छान रही थी खाक, कोलकाता पुलिस ने धर दबोचा महाठग

कोलकाता : एक मैसेजिंग ऐप पर फर्जी अकाउंट तैयार कर अधिक रिटर्न का लालच देकर 7 राज्यों में लाखों की ठगी करने वाले अभियुक्त को कोलकाता पुलिस की साइबर थाना की पुलिस ने गिरफ्तार किया है। अभियुक्त का नाम प्रसेनजीत दास ठाकुर है। वह पश्चिम मिदनापुर के घाटाल का निवासी है। पुलिस ने अभियुक्त को शनिवार की रात घाटाल के पुष्पता इलाके से गिरफ्तार किया है। पुलिस ने मौके से 1 मोबाइल फोन, 1 वाईफाई, 6 एटीएम कार्ड, 3 चेकबुक और 3 पासबुक बरामद किये हैं।लालबाजार सूत्रों के अनुसार गत 6 जनवरी को हाथीबागान इलाके के निवासी अर्चन दे ने साइबर थाना में 30.18 लाख रुपये ऑनलाइन धोखाधड़ी की शिकायत दर्ज कराई थी।

क्या है पूरा मामला ?

बता दें क‌ि शिकायतकर्ता के अनुसार कुछ महीने पहले उनके टेलीग्राम ऐप पर एक अकाउंट का नोटिफिकेशन प्राप्त हुआ जहां शेयर मार्केट में निवेश किए जाने पर ज्यादा रिटर्न देने का आश्वासन दिया गया था। निवेशकों को रुपये जमा करने के लिए अकाउंट में पांच बैंकों के अकाउंट नम्बर और एक यूपीआई आईडी भी दिया गया था। आरोप है कि अर्चन ने अधिक रिटर्न पाने के लिए करीब 30.18 लाख रुपये उन बैंक अकाउंटों में जमा कर दिए। हालांकि, काफी समय बीत जाने के बाद भी जब उन्हें निवेश किए गए रुपये हासिल नहीं हुए तब वह समझ गए कि उनके साथ ऑनलाइन धोखाधड़ी की गई है। मामले की जांच कर रही साइबर थाना की पुलिस ने जिन बैंक अकाउंट में रुपये जमा किए गए थे उन्हें फौरन फ्रिज करवा कर गबन किए गए रुपयों में से 41 हजार रुपये बरामद किए। जांच के दौरान पुलिस को पता चला कि उक्त बैंक अकाउंट प्रसेनजीत दास ठाकुर के नाम पर है। पुलिस ने तलाशी अभियान चलाकर अभियुक्त को गिरफ्तार कर लिया।

Visited 32 times, 1 visit(s) today
शेयर करें

मुख्य समाचार

वर्क आउट के दौरान नो लाउड म्यूजिक

एक्सरसाइज करते समय ज्यादातर यंगस्टर्स लाउड म्यूजिक सुनना पसंद करते हैं। पार्क हो या जिम सेंटर, दोनों जगह पर म्यूजिक के साथ वर्क आउट एंज्वॉय आगे पढ़ें »

सोमवार को विधि-विधान से करें भगवान शिव की पूजा, 4 बातों का रखे …

कोलकाता : हिंदू धर्म में भगवान शिव की पूजा का बहुत महत्व है। शास्त्रों के अनुसार, भगवान शिव जितने भोले हैं, उतने ही गुस्‍से वाले आगे पढ़ें »

ऊपर