उच्च माध्यमिक छात्रों के लिए बड़ी खबर… तो अगले सेमेस्टर में नहीं बैठ पाएंगे

कोलकाता: बंगाल की उच्च माध्यमिक सेमेस्टर प्रणाली में बड़ा बदलाव होने वाला है। उच्च माध्यमिक शिक्षा परिषद ने दो महीने पहले जो निर्णय लिया गया था, उसे पलटते हुए अब उच्च माध्यमिक में पुनः पास या फेल का सिस्टम लागू हो सकता है। उच्च पदस्थ सूत्रों ने यह जानकारी दी।
बताते चलें कि सेमेस्टर प्रणाली में पहले यह नियम था कि अंतिम सेमेस्टर में ओवरऑल पासिंग मार्क्स प्राप्त करने पर विद्यार्थियों का पास माना जाता था और उन्हें अगली कक्षा में बैठने दिया जाता था। किन्तु अब ऐसा नहीं होगा। पहले यह भी नियम था कि छात्रों को पहले सेमेस्टर में 35, दूसरे सेमेस्टर में 35 और प्रोजेक्ट में मात्र 30 अंक प्राप्त करने होते थे, इसका अर्थ यह हुआ कि अगर छात्र शून्य अंक भी पाते, तभी भी दूसरे सेमेस्टर में बैठने का मौका मिल जाता था। लेकिन, अब हर सेमेस्टर में हर सब्जेक्ट में छात्र को उत्तीर्ण होना होगा।
…तो अगले सेमेस्टर में नहीं बैठ पाएंगे
परिषद सूत्रों के अनुसार यदि आप प्रत्येक सेमेस्टर उत्तीर्ण नहीं करते हैं, तो आप अगले सेमेस्टर के लिए पात्र नहीं होंगे। परिषद के अध्यक्ष चिरंजीव भट्टाचार्य ने कहा कि कोई भी परीक्षा में नहीं बैठा या परीक्षा में बैठने के बावजूद उसे शून्य या 2-3 अंक ही मिले, फिर भी वह पास हो जाता था। हो सकता है कि उसे सेमेस्टर में पढ़ाई करने में रुचि ही न हो। ऐसे ही कुछ कमेंट्स मिले। उसके आधार पर विभिन्न शिक्षक संगठनों, शिक्षाविदों से इस बारे में बात की है। सभी से फीडबैक लिये जा रहे हैं। कुछ बैठकें करने के बाद अंतिम निर्णय लिए जाएंगे।

 

Visited 25 times, 1 visit(s) today
शेयर करें

मुख्य समाचार

सिर्फ गर्दन का व्यायाम हमें इतने रोगों से रख सकता है दूर

कोलकाता : रीढ़ की हड्डी को कशेरूक दंड या मेरूदंड कहा जाता है। इससे समस्त कंकाल को सहारा मिलता है। रीढ़ की हड्डी या मेरूदंड आगे पढ़ें »

गुरुवार के दिन विष्णु भगवान की करें पूजा, इन 3 बातों को रखें ध्यान

नई दिल्ली: गुरुवार के दिन का हिंदूओं में विशेष महत्व है। गुरुवार के दिन भगवान विष्णु और देवताओं के गुरु बृहस्पति देव की पूजा होती आगे पढ़ें »

ऊपर