G-20 ग्रुप में अफ्रीकी यूनियन हुआ शामिल, संबोधन में भारत ने दिया ये बड़ा संदेश

नई दिल्ली: जी20 शिखर सम्मेलन की शुरुआत हो चुकी है। पीएम मोदी ने अपना संबोधन दिया। उन्होंने मोरक्को भूकंप में मारे गए लोगों को श्रद्धांजलि दी। संबोधन के दौरान पीएम ने आतंकवाद, साइबर सिक्योरिटी और ग्लोबल इकोनॉमी पर चर्चा की।

सबसे पहले पीएम ने वैश्विक नेताओं का स्वागत किया। इसके बाद उन्होंने मोरक्को में हुई दर्दनाक घटना पर बात की। बता दें कि मोरक्को में बीते दिन हुए भूकंप की वजह से करीब 300 लोगों की मौत हो गई है। पीएम ने श्रद्धांजलि देते हुए कहा कि इस दुख की घड़ी में पूरा विश्व मोरक्को के साथ है। बता दें कि जी20 समूह में आधिकारिक रूप से अफ्रीकी यूनियन को भी शामिल किया गया। पीएम मोदी ने ऐलान कर इसकी जानकारी दी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने यूनियन के अध्यक्ष को गले लगाकर बधाई भी दी।

Image

‘मोरक्को को हर संभव मदद करेगा भारत’
मोरक्को भूकंप पर पीएम ने कहा कि जी20 की कार्यवाही शुरू करने से पहले, मैं मोरक्को में भूकंप के कारण हुए जानमाल के नुकसान पर अपनी संवेदना व्यक्त करना चाहता हूं। हम प्रार्थना करते हैं कि सभी घायल जल्द से जल्द स्वस्थ्य हों। भारत इस कठिन समय में मोरक्को को हर संभव सहायता देने के लिए तैयार है।

अफ्रीकी यूनियन G-20 समूह में शामिल
प्रधानमंत्री मोदी ने ऐलान किया कि आप सभी की सहमति के साथ आज से अफ्रीकी यूनियन जी20 का स्थायी सदस्य बनने जा रहा है। इसके बाद वहां मौजूद तमाम नेताओं ने तालिया बजाईं। विदेश मंत्री एस जयशंकर अफ्रीकी यूनियन के अध्यक्ष अजाली असौमनी को साथ लेकर आए और पीएम मोदी ने उन्हें गले लगाकर इसके लिए बधाई दी।

दुनिया को दिया भारत का मंत्र
पीएम ने कहा कि जी20 के अध्यक्ष के तौर भारत पूरी दुनिया का आह्वान करता है कि सभी मिलकर ग्लोबल ट्रस्ट डेफिसिट को एक विश्वास, एक भरोसे में बदलें। यह हम सबको साथ मिलकर चलने का समय है। इसलिए सबका साथ, सबका विकास, सबका विश्वास और सबका प्रयास का मंत्र हम सभी के लिए पथ प्रदर्शक बन सके। वैश्विक अर्थव्यवस्था में उतार-चढ़ाव, नॉर्थ-साउथ का डिवाइड हो, ईस्ट-वेस्ट की दूरी हो, आतंकवाद और साइबर सिक्योरिटी हो, हेल्थ, एनर्जी और वाटर सिक्योरिटी हो सभी मुद्दों पर पीएम ने कहा कि आने वाले समय के लिए हमें इन चुनौतियों के ठोस समाधान के लिए आगे बढ़ना होगा।

क्या है आज का प्रोग्राम ?
दुनिया के बड़े-बड़े नेता वैश्विक समस्याओं पर मंथन कर रहे हैं। पहला सेशन ‘वन अर्थ’ के मंथन पर दोपहर 1.30 बजे तक चलेगा। उसके बाद वर्किंग लंच होगा। वहीं दोपहर 3:00 बजे से 4:45 बजे तक भारत मंडपम के लेवल 2 के समिट हॉल में दूसरा सत्र ‘वन फैमिली’ (एक परिवार) होगा। इसके बाद नेता और प्रतिनिधिमंडल के प्रमुख होटलों में लौटेंगे और 7:00 बजे से रात 8:00 बजे तक डिनर होगा। वहीं रात 8:00 बजे से 9:15 बजे तक रात के खाने पर बातचीत होगी। इसके बाद वे सभी साउथ या वेस्ट प्लाजा से होटलों के लिए प्रस्थान करेंगे।

Visited 137 times, 1 visit(s) today
शेयर करें

मुख्य समाचार

Weather Update: बंगाल में भीषण गर्मी के बीच आज 3 जिलों में बदलेगा मौसम, कहां-कहां होगी बारिश ?

कोलकाता: बंगाल में लोगों को लू और गर्म हवा का सामना करना पड़ रहा है। मौसम विभाग की मानें तो गर्मी की लहर अभी कम आगे पढ़ें »

भूकंप के 80 झटकों से हिला ताइवान, 6.3 रही तीव्रता

ताइवान: ताइवान में भूकंप के लगातार 80 झटके महसूस किए गए हैं। नेशनल सेंटर फॉर सीस्मोलॉजी के अनुसार, सोमवार देर रात आए भूकंप की तीव्रता रिक्टर आगे पढ़ें »

ऊपर