राजौरी एनकाउंटर में 2 आतंकी हुए ढेर, सेना के 5 जवान बलिदान

राजौरी: जम्मूृकश्मीर के राजौरी में गुरुवार(23 नवंबर) को सुरक्षाबलों और आतंकियों की मुठभेड़ जारी है। राजौरी के धर्मसाल बेल्ट के बाजीमल इलाके में एक बार फिर से शुरू हो गई। ख़बर लिखे जाने तक 2 आतंकी मारे गए हैं। वहीं ऑपरेशन में सेना के 5 जवान बलिदान हो गए। जानकारी के मुताबिक सुरक्षाबलों ने रात में इलाके की घेराबंदी और तलाशी अभियान चलाया। जंगल का फायदा उठाकर आतंकवादी भागकर दूसरी तरफ न चले जाएं इसके लिए पूरे इलाके को चारों तरफ से घेर लिया है। आतंकियों पर चारों ओर सेना के जवानों की तरफ से पैनी निगाह रखी जा रही है। बताया जा रहा है कि इलाके में 2 से 3 आतंकी छिपे हो सकते हैं।

सेना के ओर से मिली जानकारी के मुताबिक रियासी-राजौरी-पुंछ इलाकों में सड़क कनेक्टिविटी सीमित है, जिसकी वजह से इस ऑपरेशन को अंजाम देने में काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। घने जंगलों की वजह से आतंकियों को छिपने और भागने में आसानी होती है। सेना के जवानों ने आज मुठभेड़ में क्वारी को मार दिया। बताया जा रहा है कि क्वारी जंगलों में बनी गुफाओं में सुरक्षा बलों की नजरों से बचने के लिए छुपता रहा, लेकिन आखिर कार सेना के हाथों मारा गया।

ट्रेंड स्नाइपर है आतंकवादी क्वारी 

क्वारी लश्कर का टॉप कमांडर है और पाकिस्तान का रहने वाला है। इसे डांगरी और कंडी में हुए आतंकी हमले का मास्टरमाइंड माना जा रहा है। क्वारी को आईईडी एक्सपर्ट के तौर पर और ट्रेंड स्नाइपर के तौर पर जाना जाता है। राजौरी और पूंछ के इलाके में अब तक सुरक्षाबलों ने 20 से ज्यादा आतंकियों को न्यूट्रलाइज किया है।

दो कैप्टन सहित चार जवान शहीद
आपको बता दें कि बुधवार को राजौरी जिले में सुरक्षाबलों और आतंकवादियों के बीच मुठभेड़ हुई थी, जिसमें दो कैप्टन सहित चार जवान शहीद हो गए थे। सभी घायलों को उधमपुर में सेना के कमांड अस्पताल में भेज दिया गया है। जहां उनका इलाज किया जा रहा है। वहीं सेना के जवानों ने भी आतंकियों को मुंहतोड़ जवाब दिया। सेना के जवानों ने आतंकियों को घेर रखा है।

इलाके में की गई घेराबंदी

सेना की व्हाइट नाइट कोर ने सोशल मीडिया साइट एक्स(पहले ट्विटर) पर एक पोस्ट शेयर करते हुए कहा कि विशिष्ट खुफिया जानकारी के आधार पर रविवार को राजौरी के गुलाबगढ़ जंगल के कालाकोट इलाके में संयुक्त अभियान शुरू किया गया। वहीं स्थानीय लोगों ने बताया कि आतंकवादियों का पता लगाने के लिए बीते रविवार से ही इलाके में तलाशी अभियान शुरू कर दिया गया था। लोगों ने मुताबिक उन्हें घरों से बाहर न निकलने के लिए भी कहा गया था।
शेयर करें

मुख्य समाचार

Kolkata News : …ताकि भीषण गर्मी में ना हो बिजली की समस्या

- विद्युत की मांग पर मंत्री ने की सीईएससी अधिकारियों के साथ बैठक कोलकाता : भीषण गर्मी में महानगरवासियाें का हाल बेहाल है। रोजाना ही विद्युत आगे पढ़ें »

भाजपा से बदला लेंगे: नक्सलियों की बड़ी धमकी

छत्तीसगढ़ : लोकसभा चुनाव के शुरू होने के 3 दिन पहले 16 अप्रैल को कांकेर में हुए एनकाउंटर के बाद अब नक्सल संगठन ने भाजपा आगे पढ़ें »

ऊपर