Durga Puja 2023 : अब एक क्लिक में पता चलेगा किस पूजा पंडाल में है कितनी भीड़

शेयर करे

कोलकाता : दुर्गा पूूजा में अब महज 21 दिनों का समय बाकी है। महानगर सहित पूरे बंगाल के लोग दुर्गा पूजा के रंग में रंग गए हैं। लोग प्लानिंग में जुट गए हैं कि वे किस दिन किन पंडालों का दर्शन करेंगे, क्या खाएंगे, क्या पहनेंगे वगैरह-वगैरह। अगर आप भी इस बार दुर्गा पूजा के दौरान कोलकाता आने की योजना बना रहे हैं तो आपके लिए अच्छी खबर है क्योंकि इस बार आपको घर बैठे इस बात की जानकारी मिल जाएगी कि कौन से पंडाल में कितनी भीड़ है। महानगर के लोगों को यह सौगात दे रहा है कोलकाता पुलिस। दरअसल, कोलकाता पुलिस ने पूजा क्यू सिस्टम की शुरुआत की है।
…ताकि दर्शनार्थियों को ना हो असुविधा
कई बार देखा जाता है कि महानगर में पूजा पंडाल घूमने आने वाले लोग पंडालों के बाहर लगने वाली भीड़ से परेशान हो जाते हैं। कई बार ज्यादा भीड़ होने के कारण वे घंटों तक एक ही पूजा पंडाल के लाइन में खड़े रहते हैं और अपने दूसरे मनचाहे पंडाल में घूम नहीं पाते हैं। ऐसे में इस बार पूजा के दौरान दर्शनार्थ‌ियों की सुविधा के लिए नया सिस्टम चालू किया जा रहा है। कोलकाता पुलिस कमिश्नर विनीत कुमार गोयल के नेतृत्व में कोलकाता पुलिस के रिसर्च एंड डेवलपमेंट विंग एवं ई-गवर्नेंस सेल के अधिकारियों ने इस सिस्टम को तैयार किया है। इस सिस्टम के तहत कोलकाता पुलिस महानगर के करीब 16 बड़े पूजा पंडालों में किस समय कितने लोगों की भीड़ है और वहां पर कितनी लम्बी लाइन लगी है, इसके रियल टाइम की जानकारी लोगों को देगी। इसके लिए पूरी तैयारी कर ली गयी है।
पुलिस को दी जा रही है ट्रैनिंग
कोलकाता पुलिस के रिसर्च एंड डेवलपमेंट विंग के सदस्य इस बार दुर्गा पूजा में ‘पूजा क्यू वेटिंग टाइम एंड डिस्प्ले सिस्टम’ को लागू करेंगे। इसके लिए पिछले कई महीनों से आर एंड डी टीम के प्रभारी व ज्वाइंट सीपी (ओ) सैयद वकार रजा के नेतृत्व में रिसर्च चल रहा था। फिलहाल विभिन्न पुलिस स्टेशन के पुलिस कर्मियों को सिस्टम के ऐप चलाने की ट्रेन‌िंग दी जा रही है।
क्या है पूजा क्यू डिस्प्ले सिस्टम
– यह एक ऐप आधारित सिस्टम है जिसे कोलकाता पुलिस के अधिकारियों ने तैयार किया है।
– इस ऐप में जीपीएस मॉन‌िटरिंग रखी गयी है।
– इस सिस्टम के तहत हर पूजा पंडाल में दो तरह से लोगों की भीड़ और उनके पंडाल तक पहुंचने के समय की रीडिंग की जाएगी।
– पुलिस के अनुसार हर पंडाल के बाहर दो पुलिस कर्मी तैनात रहेंगे। उनके मोबाइल पर पूजा क्यू ‌डिस्प्ले सिस्टम के लिए बने ऐप डाउनलोड रहेंगे। एक व्यक्ति पूजा पंडाल के बाहर लगने वाली भीड़ के अंतिम छोर पर अपने मोबाइल में ऐप ऑन करके खड़ा हो जाएगा। इसका फीड सीधे लालबाजार स्थित कंट्रोल रूम में चला जाएगा।
– वहीं, दूसरा व्यक्ति भीड़ के साथ उसके अंत‌िम छोर से पंडाल के अंदर तक जाएगा। उसका जीपीएस फीडबैक भी पुलिस को मिलेगा।
– ऐसे में अंत‌िम छोर से अंदर जाने तक का समय उपलब्ध होने के बाद पुलिस उसे सेंट्रल सर्वर से अपने विभिन्न सोशल मीडिया अकाउंट, ट्रैफिक पुलिस की वेबसाइट, विभिन्न क्रॉसिंग पर लगे ट्रैफिक साइनेज बोर्ड व जा‌एंट स्क्रीन पर डिस्प्ले करेगी।
– इस पद्धति के तहत पुलिस हर दो घंटे में भीड़ के साथ अपने आदमी को भेजकर रियल टाइम की मॉनिटरिंग करेगी। – पुलिस की ओर से हर मिनट पर विभिन्न पूजा पंडालों के बाहर होने वाली भीड़ की जानकारी साझा की जाएगी ताकि लोग अपनी सह‌ूलियत के अनुसार पूजा पंडाल की कतार में खडे़ हों।
शहर के महत्वपूर्ण क्रॉसिंग व सोशल मीडिया पर दी जाएगी जानकारी
पुलिस सूत्रों के अनुसार इस साल दुर्गा पूजा के पंचमी के दिन से इस नए सिस्टम का इस्तेमाल किया जाएगा। इस साल महानगर के 16 महत्वपूर्ण पूजा पंडालों में उमड़ी लोगों की भीड़ और वहां पर कतार में खड़े लोगों की रियल टाइम, वेटिंग टाइम के बारे में विभिन्न महत्वपूर्ण क्रॉसिंग और सोशल मीडिया पर जानकारी दी जाएगी।
इन पूजा पंडालों में होगा पूजा क्यू सिस्टम का इस्तेमाल
जिन पूजा पंडालों में पूजा क्यू सिस्टम का इस्तेमाल होगा उनमें चेतला अग्रणी, सुरुचि संघ, देशप्रिय पार्क, टाला, कॉलेज स्क्वायर, मुदियाली, हिंदुस्तान पार्क जैसे बड़े पूजा पंडाल शामिल हैं। इससे आम नागरिक और दर्शनार्थी अपनी सु‌विधा के अनुसार भीड़-भाड़ वाले पूजा पंडालों में पहुंचेंगे।
क्या कहना है ज्वाइंट सीपी (ओ) का
कोलकाता पुलिस के ज्वा‌इंट सीपी (ओ) सैयद वकार रजा ने बताया कि गत मंगलवार को अलीपुर स्थित पीटीएस में पुलिस कर्मियों को पूजा क्यू सिस्टम के लिए बने ऐप को चलाने की ट्रेनिंग दी गयी। इसके अलावा दो-तीन स्थानों पर इसका ट्रायल किया गया। उन्होंने बताया कि इस स‌िस्टम के जरिए विभिन्न पूजा पंडालों में लोगों की कितनी भीड़ है और कतार में खड़े रहने पर पंडाल में इंट्री करने में उन्हें कितना समय लगेगा, इसकी जानकारी कोलकाता पुलिस अपने सभी सोशल मीडिया अकाउंट, वेबसाइट पर देगी। इसके अलावा महानगर के विभिन्न क्रॉसिंग पर लगे ट्रैफिक के डिस्प्ले बोर्ड व साइनेज बोर्ड पर भी इसकी जानकारी दी जाएगी। पुलिस की ओर से अन्य संस्थाओं से भी इसे डिस्प्ले करने की बात चल रही है।

Visited 235 times, 1 visit(s) today
0
0

मुख्य समाचार

कोलकाता : बेलघरिया के रथतल्ला मोड़ के पास चलती कार पर गोलीबारी की गई है। व्यवसाई अजय मंडल को लक्ष्य
कोलकाता : यात्रियों की अतिरिक्त भीड़ को कम करने के लिए पूर्व रेलवे की ओर से शनिवार और रविवार को
बड़े भाई को बचाने के चक्कर में छोटा भाई समुद्र में डूबा दीघा : दीघा समुद्र में डूब रहे बड़े
कोलकाता : खास कोलकाता में बीच सड़क पर गोली चली है। कोलकाता के मिर्जा गालिब स्ट्रीट पर शुक्रवार आधी रात
कोलकाता: दक्षिण बंगाल में कई दिनों से भीषण गर्मी पड़ रही है। ऐसे में लोगों के मन में ये सवाल
नई दिल्ली: इटली में G7 शिखर सम्मेलन का आयोजन हो रहा है। इसमें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी शामिल हुए हैं।
कोलकाता: पश्चिम बंगाल के राज्यपाल सी। वी। आनंद बोस ने शुक्रवार को मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को पत्र लिखकर पूछा कि
गर्मी के कारण मॉल और रेस्टोरेंट बिजनेस 25% तक हुआ कम महानगर के मॉल में फूड कोर्ट है काफी खाली
कोलकाता : महानगर में पर्यटन को बढ़ावा देने और प्लास्टिक से ढके फूड स्टालों से छुटकारा पाने के लिए कोलकाता
नई दिल्ली: आधार कार्ड आज के समय में सबसे महत्वपूर्म दस्तावेज बन चुका है। यह आपकी नागरिकता का प्रमाण होने
कोलकाताः कसबा स्थित Acropolis शॉपिंग मॉल के फूड कोर्ट में लगी भयावह आग, लोगों को सीढ़ी से उतारा जा रहा
नई दिल्ली: कुवैत में हुए अग्निकांड में मारे गए 45 भारतीयों के शव लेकर भारतीय वायुसेना (IAF) का विमान केरल
ऊपर