West Bengal Weather: दक्षिण बंगाल के 7 जिलों में बारिश के आसार, कोलकाता में कैसा रहेगा मौसम ?

कोलकाता:  दक्षिण बंगाल में बुधवार को हल्की बारिश के बाद आज गुरुवार सुबह तापमान में फिर गिरावट नजर आई। कई जिलों में दोपहर में तापमान बढ़ जाता है, लेकिन सुबह और शाम को तापमान कम हो जाता है। क्या इस सप्ताह के आखिरी कुछ दिनों में बारिश होगी? या फिर बढ़ेगी गर्मी? आइए एक नजर डालते हैं कि किन जिलों में बारिश होने की संभावना है।

दक्षिण बंगाल के जिलों में होगी बारिश ?

11 अप्रैल, गुरुवार- उत्तर-दक्षिण 24 परगना, पूर्व और पश्चिम मेदिनीपुर, झाड़ग्राम, बांकुरा और पुरुलिया में गरज के साथ हल्की बारिश की संभावना है, बाकी सभी जिलों में मौसम शुष्क रहने का अनुमान है।

12 अप्रैल, शुक्रवार- उत्तर-दक्षिण 24 परगना, पूर्व और पश्चिम मेदिनीपुर और झाड़ग्राम में गरज के साथ हल्की बारिश होने की संभावना है। मौसम विभाग ने कहा कि बाकी जिलों में मौसम शुष्क रहेगा।

13 अप्रैल, शनिवार- पूर्वी और पश्चिमी मेदिनीपुर, पुरुलिया, बीरभूम में गरज के साथ हल्की बारिश हो सकती है। मौसम वैज्ञानिकों का कहना है कि बाकी जिलों में बारिश की संभावना नहीं है।

ये भी पढ़ें: Kolkata Metro: ईद के दिन मेट्रो की संख्या घटाई गई, पहली और आखिरी ट्रेन कब?

कोलकाता में कैसा रहेगा मौसम?

11 अप्रैल, गुरूवार
न्यूनतम तापमान: 26 डिग्री सेल्सियस
अधिकतम तापमान: 34 डिग्री सेल्सियस
मौसम: आंशिक रूप से बादल छाए रहेंगे और गरज के साथ बौछारें पड़ने की संभावना है।

12 अप्रैल, शुक्रवार
न्यूनतम तापमान: 26 डिग्री सेल्सियस
अधिकतम तापमान: 34 डिग्री सेल्सियस
मौसम: आंशिक रूप से बादल छाए रहेंगे और गरज के साथ बौछारें पड़ने की संभावना है।

13 अप्रैल, शनिवार
न्यूनतम तापमान: 27 डिग्री सेल्सियस
अधिकतम तापमान: 35 डिग्री सेल्सियस
मौसम: आंशिक रूप से बादल छाए रहेंगे।

 

ये भी देखें…

Visited 6,250 times, 1 visit(s) today
शेयर करें

मुख्य समाचार

Kolkata Metro Timing : आज से रात 11 बजे के बाद भी चलेगी मेट्रो !

कोलकाता : इस वक्त की बड़ी खबर आ रही है कि मेट्रो रेलवे आज यानी 24 मई से प्रायोगिक तौर पर रात में ब्लू लाइन आगे पढ़ें »

Weather Update: बंगाल में भीषण गर्मी के बीच आज 3 जिलों में बदलेगा मौसम, कहां-कहां होगी बारिश ?

कोलकाता: बंगाल में लोगों को लू और गर्म हवा का सामना करना पड़ रहा है। मौसम विभाग की मानें तो गर्मी की लहर अभी कम आगे पढ़ें »

ऊपर