पंडालों में सेल्फी के लिए भीड़ न लगायें दर्शनार्थी, जागरूक करेगी पुलिस

प्रतिमा व लाइटिंग के सामने सेल्फी लेने के चक्कर में लगता है जाम

कोलकाता : महानगर के पूजा पंडाल में दुर्गा प्रतिमा को बैकग्राउंड में रखकर सेल्फी लेने का क्रेज लोगों में काफी है। खासतौर पर दुर्गा पूजा के दौरान पंडाल में आने वाले वहां से फेसबुक लाइव कर लोगों में अपना रिच बढ़ाने की कोशिश करते हैं। इसके अलावा कुछ लोग पंडाल की लाइन में काफी देर तक खड़े रहने के बाद पंडाल के अंदर प्रवेश करते ही पंखे की हवा खाने की कोशिश करते हैं। पुलिस का मानना है कि इसके कारण पूजा पंडाल के अंदर लोगों की भीड़ एकत्रित हो जाती है और पंडाल के बाहर में लोगों की लम्बी कतार लग जाती है। वालंटियर्स को इसके प्रति जागरूक करने पर भी कितना लाभ होगा इसे लेकर कोलकाता पुलिस के वरिष्ठ अधिकारियों को संदेह है। इसलिए इस बार पुलिस ने पूजा आयोजकों की मदद से प्रत्येक पूजा पंडालों में जागरूकता फैलाने की योजना बनाई है। कोलकाता पुलिस लोगों से सुबह के समय खाली मंडप में आकर सेल्फी या तस्वीरें लेने या फेसबुक पर लाइव होने का सुझाव देकर सोशल मीडिया पर विज्ञापन देने का भी प्रयास कर रही है। पुलिस के मुताबिक यह समस्या पिछले कुछ सालों से शुरू हुई है। विशेष रूप से शाम से लेकर लगभग सुबह तक देखा जाता है, दर्शनार्थी कोलकाता के बड़े मंडपों में प्रवेश करने के लिए कतार में लगे रहते हैं, लेकिन जितने दर्शक मंडप में प्रवेश करते हैं उतने दर्शक एक साथ बाहर नहीं आते। ऐसे में पंडाल के बाहर दर्शकों की लाइन बढ़ती जाती है। पुलिस अधिकारियों का दावा है कि सेल्फी और ग्रुप तस्वीरें लेने की वजह से भीड़ बढ़ती जाती है। ऊपर से भीड़ में फेसबुक लाइव करना एक ‘ट्रेंड’ बन गया है। अधिकांश दर्शनार्थी अपनी तस्वीर के बैकग्राउंड में दुर्गा प्रतिमा रखना चाहते हैं, कोई मंडप की सजावट को रखना चाहता है। इसके अलावा कुछ लोग सेल्फी लेने लगते हैं तो कुछ दोस्त मिलकर ‘ग्रुपीज’ लेने लगते हैं। पुलिस अधिकारियों का दावा है कि मंडप के अंदर निजी सुरक्षा गार्डों या पूजा समिति के वालंटियर्स द्वारा सेल्फी, ग्रुपी या तस्वीरें लेने के बार-बार अनुरोध के बावजूद उन्माद कम नहीं हो रहा है। कई लोग ‘लाइव’ खत्म किए बिना मंडप से बाहर नहीं जाना चाहते और यही मूल समस्या है। मंडप के अंदर भीड़ जुटी रहती है। उनके बाहर आने तक अन्य दर्शनार्थी मंडप में प्रवेश नहीं कर सकते इसलिए लाइन बाहर बढ़ती है। इस समस्या से बचने के लिए लालबाजार पूजा के दौरान आगंतुकों को विभिन्न तरीकों से जागरूक कर रहा है। सूत्रों के मुताबिक, पुलिस मंडपों के बाहर पूजा आयोजकों की मदद से जागरूकता फैलाने की योजना बना रही है। इस संबंध में सोशल मीडिया पर भी दर्शनार्थियों को जागरूक किया जाएगा। इसलिए, जब सुबह मंडप खाली होगा, तो सेल्फी, ग्रुपी, यहां तक ​​कि फेसबुक लाइव भी कोई समस्या नहीं होगी।

Visited 78 times, 1 visit(s) today
शेयर करें

मुख्य समाचार

Sandeshkhali: ‘शाहजहां शेख को गिरफ्तार करें नहीं तो 72 घंटे में…’

कोलकाता: संदेशखाली मामले को लेकर राज्यपाल सीवी आनंद बोस ने मंगलवार (27 फरवरी) को राज्य सरकार को अल्टीमेटम देते हुए कहा कि मुख्य आरोपी शेख आगे पढ़ें »

City of Joy पहुंचे विद्युत जामवाल

कोलकाता : अपने शानदार अभिनय के लिए दर्शकों के दिलों में अपनी अलग पहचान बनाने वाले मशहूर सुप्रसिद्ध अभिनेता और एक्शन स्टार विद्युत जामवाल अपने आगे पढ़ें »

ऊपर