पंचायत चुनाव से पहले तृणमूल का नया कैंपेन ‘तृणमूले नव-ज्वार’

शेयर करे

25 अप्रैल से 2 महीने तक अभिषेक की जनसंयोग यात्रा
जनता जिसे चाहेगी उसे प्रार्थी बनाएगी तृणमूल
लोग गोपनीय तरीके से पसंद का नाम बता सकेंगे
राज्यभर में 60,000 से अधिक ग्रामीण बूथ हैं
सन्मार्ग संवाददाता
कोलकाता : पंचायत चुनाव से पहले तृणमूल कांग्रेस के नये कैंपेन ‘तृणमूले नव-ज्वार’ शुरू करने की घोषणा की गयी। यह अभियान 25 अप्रैल से शुरू होगा जो कि 60 दिनों तक चलेगा। तृणमूल कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव अभिषेक बनर्जी लगातार 60 दिनों तक जनसंयोग यात्रा करेंगे। यह बेहद ही अहम माना जा रहा है। इस कैंपेन के जरिये पार्टी त्रिस्तरीय पंचायत जिला परिषद, पंचायत समिति और ग्राम पंचायत के उम्मीदवारों के रूप में लोगों से प्रार्थी का नाम जानना चाहेगी। गुरुवार को संवाददाताओं को संबोधित करते हुए अभिषेक बनर्जी ने कहा कि ‘तृणमूले नव-ज्वार’ (तृणमूल में नयी लहर) नामक यह कार्यक्रम 25 अप्रैल से शुरू होगा और दो महीने चलेगा। इस कार्यक्रम के तहत लोग पंचायत चुनावों के लिए तृणमूल उम्मीदवारों के नाम के बारे में फैसला करेंगे। उन्होंने कहा कि भारतवर्ष में पहली बार कोई पार्टी इस तरह का कैंपेन कर रही है जहां प्रार्थी चयन में लोगों के सुझाए नामों को प्राथमिकता दी जायेगी। उन्होंने कहा कि हमारा उद्देश्य जनता की पंचायत तैयार करना है।
क्या है पूरा कार्यक्रम
तृणमूले नव-ज्वार कैंपेन में दो भाग हैं। एक जनसंयोग यात्रा और दूसरा ग्राम बांग्ला मतामत। जनसंयोग यात्रा में अभिषेक बनर्जी जिलों में जायेंगे। कूचबिहार से काकद्वीप तक कोई भी जिला बाकी नहीं रहेगा। एक दिन में 3 – 4 सभाएं होंगी। वहीं ग्राम बांग्ला मतामत में प्रार्थी के लिए मत लिया जायेगा। साथ ही ऑनलाइन के लिए पता है www.tnjofficial.com कुल 60 दिनों तक चलेगा, 250 के करीब पब्लिक मीटिंग होगी, 3500 कि.मी. यात्रा तय की जायेगी। 1 करोड़ से अधिक डेली डिजिटल रूप से पहुंच का लक्ष्य रखा गया है।
अगर बीच में पंचायत चुनाव की घोषणा हो गयी तो
यह कैंपेन 60 दिनों तक चलेगा और अगर इसके बीच में पंचायत चुनाव की घोषणा हो जाती है तो वहीं उस कार्यक्रम को सीमित किया जायेगा। जितने नाम लोगों से संग्रह किये जाएंगे उन्हें प्राथमिकता दी जायेगी। अभिषेक बनर्जी ने कहा कि पार्टी स्तर पर तो प्रार्थियों के नाम मिले ही हैं लेकिन हम जनता की राय को प्राथमिकता देना चाहते हैं। जैसा कि बंद कमरे में प्रार्थियों के नामों का चयन होता आया है, लेकिन तृणमूल कांग्रेस आम लोगों से जानता चाहती है कि उनका प्रार्थी कौन होगा, जो उनके सुख दुख में 24 घंटे उनके लिए खड़ा रहे।

Visited 217 times, 1 visit(s) today
0
0

मुख्य समाचार

नई दिल्ली: हर साल 21 जून को इंटरनेशनल योग दिवस मनाते हैं। हमारे ऋषियों-मुनियों द्वारा योग को विकसित किया गया
कोलकाता : मेट्रो रेलवे द्वारा चलाये जा रहे स्पेशल नाइट मेट्रो के समय को 20 मिनट कम कर दिया गया
कोलकाता: पश्चिम बंगाल के न्यू जलपाईगुड़ी के पास 17 जून को हुए ट्रेन हादसे ने देशवासियों को झकझोर कर रख
कोलकाता : अगले दो से तीन घंटों में कोलकाता में हल्की बारिश होने वाली है। शहर के अधिक हिस्सों में
पटना: नीट पेपर लीक मामला पूरे देशभर में छाया हुआ है। बिहार के डिप्टी सीएम विजय सिन्हा ने बड़ा दावा
कोलकाता : मानसून दस्तक देने वाला है। इससे पहले इसे लेकर तैयारियों को पूरा करने का निर्देश शहरी विकास तथा
कोलकाता: मौसम विभाग के पूर्वानुमान पर लोगों का भरोसा खत्म हो गया है। पिछले कुछ दिनों से बारिश का पूर्वानुमान
पटना: नीतीश सरकार को पटना हाईकोर्ट से बड़ा झटका लगा है। बिहार में आरक्षण का दायरा बढ़ाए जाने के नीतीश
नोएडा: देश के उत्तरी हिस्सों में भीषण गर्मी पड़ रही है। नोएडा में अलग-अलग जगहों पर बीते मंगलवार को 14
कोलकाता: बंगाल में लोकसभा चुनाव के नतीजे वाले दिन डेबरा में पुलिस कस्टडी में BJP कार्यकर्ता की मौत हुई थी।
कोलकाता: दक्षिण बंगाल के अधिकांश हिस्सों में आज सुबह से ही आसमान में बादल मंडरा रहा है। धूप नहीं होने
नई दिल्ली: NEET परीक्षा को लेकर दायर कई याचिकाओं पर सुप्रीम कोर्ट ने सुनवाई के दौरान काउंसलिंग रोकने और तत्काल
ऊपर