विस्फोटकों की आपूर्ति : एनआईए ने 2 को गिरफ्तार किया

विकास भवन में एक निजी कम्प्यूटर संस्था के लिए काम करता था मो. नुरुजम्मां
सन्मार्ग संवाददाता
कोलकाता/बीरभूम : राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) ने पश्चिम बंगाल में विस्फोटकों और डेटोनेटर के दो कथित आपूर्तिकर्ताओं को गिरफ्तार किया है। एक अधिकारी ने शनिवार को यह जानकारी दी। एनआईए के एक प्रवक्ता ने कहा कि बोकारो के मेराजुद्दीन अली खान और बीरभूम के मीर मोहम्मद नुरुज्जमां को शुक्रवार को छापे के दौरान रानीगंज और कोलकाता से गिरफ्तार किया गया था। मीर मोहम्मद नुरुज्जमां बीरभूम के मुरारई थाना से कुछ दूरी पर स्थित ऑफिस पाड़ा निवासी है। वह विकास भवन में एक निजी कंप्यूटर संस्था के लिये काम कर रहा था। वहीं शनिवार को मुरारई थाना अंतर्गत ऑफिस पाड़ा स्थित उसके घर जाने पर किसी से मुलाकात नहीं हो पाई। उसके घर में ताला लगा था। वर्ष 2007 में मुरारई कवि नजरूल कॉलेज से उच्च माध्यमिक की परीक्षा पास करने के पश्चात बी.टेक की पढ़ाई के लिये नुरुज्जमां कोलकाता चला गया था। उसी समय से वह कोलकाता में रह रहा था। बीच- बीच में वह मुरारई स्थित अपने घर जाता था। वहीं रामपुरहाट के भांड़शाला पाड़ा निवासी एक फर्टिलाइजर व्यवसायी की बेटी से उसका विवाह हुआ था। इस व्यवसायी का अमोनिया नाइट्रेट का कारोबार था। बाद में इस कारोबार का लाइसेंस मीर मोहम्मद नूरज्जमान के नाम पर ट्रांसफर कर दिया गया। उसके पिता मीर जुमला हुसैन मुरारई कवि नजरूल कॉलेज में भौतिकी विज्ञान के अध्यापक हैं।
उल्लेखीय है कि जून 2022 में, एक एसयूवी को स्पेशल टास्क फोर्स कोलकाता द्वारा इंटरसेप्ट किया गया था और इसे लगभग 81,000 इलेक्ट्रिक डेटोनेटर ले जाते हुए पाया गया था। प्रवक्ता ने बताया कि वाहन के चालक आशीष केवड़ा को गिरफ्तार कर लिया गया और उससे पूछताछ के बाद पुलिस को 27,000 किलोग्राम अमोनियम नाइट्रेट, 1,625 किलोग्राम जिलेटिन की छड़ें और 2,325 और इलेक्ट्रिक डेटोनेटर समेत अवैध रूप से रखे विस्फोटकों का जखीरा मिला। अधिकारी ने कहा कि मामला शुरू में बीरभूम के मोहम्मद बाजार पुलिस थाने में दर्ज किया गया था और पिछले साल सितंबर में एनआईए ने इसे अपने हाथ में ले लिया था। एजेंसी ने मामले में पहली गिरफ्तारी रिंटू शेख को इस साल जनवरी में की थी। प्रवक्ता ने कहा, “नुरुज्जमां ने रिंटू को 27,000 किलोग्राम अमोनियम नाइट्रेट की आपूर्ति की थी, जबकि खान ने उसे इलेक्ट्रिक डेटोनेटर और जिलेटिन स्टिक की आपूर्ति की थी।” प्रवक्ता ने कहा कि विस्फोटकों और अन्य बम बनाने वाली सामग्री, जिसमें डेटोनेटर और जिलेटिन की छड़ें शामिल हैं, की चोरी के स्रोतों को स्थापित करने के लिए आगे की जांच जारी है।

Visited 172 times, 1 visit(s) today
शेयर करें

मुख्य समाचार

Wednesday Mantra : हर संकट से बचाता है बुधवार का यह उपाय, दूर होता है गृह कलेश

कोलकाता : सनातन धर्म में बुधवार का दिन भगवान गणेश को समर्पित है और इस दिन विधि-विधान के साथ गणेश जी की अराधना की जाए आगे पढ़ें »

Sankashti Chaturthi 2024 Date: द्विजप्रिय संकष्टी चतुर्थी कब है, जानें महत्‍व, पूजाविधि और …

कोलकाता : द्विजप्रिय संकष्टी चतुर्थी फाल्‍गुन मास के कृष्‍ण पक्ष की चतुर्थी को कहते हैं। द्विजप्रिय संकष्टी चतुर्थी 28 फरवरी को यानी आज है। इस आगे पढ़ें »

ऊपर