अब हर वार्डों में केएमसी बनायेगी आधुनिक महिला शौचालय

कोलकाता : महिलाओं के सुविधा के लिए अब कोलकाता नगर निगम हर वार्डों में आधुनिक शौचालय बनाने की तैयारी में है। इस शौचालय में हर सुविधा उपलब्ध होगी, जिसमें नहाने और कपड़े बदलने के लिए अलग-अलग कमरे होंगे। साथ ही बच्चे को स्तनपान कराने के लिए अलग से कमरा भी होगा। वर्तमान समय में कोलकाता नगर निगम के 144 वार्डों में 383 सार्वजनिक शौचालय हैं। इनमें से अधिकांश शौचालय अनुपयोगी हैं। कहीं दरवाजा टूटा है तो कहीं नल। नियमित रूप से सफाई नहीं होने के कारण वहां गंदगी व बदबू फैल गयी है। इन शौचालयों के रखरखाव का जिम्मा निजी संगठनों को दिया गया था, पर वह उसका देखभाल नहीं कर सके। ऐसे एक बार फिर नगर निगम स्लम विभाग के हर वार्ड में महिलाओं के लिए बन रहे आधुनिक शौचालयों के रखरखाव का जिम्मा निजी क्षेत्र को सौंपेगा। ऐसे में सवाल अब भी वहीं है कि शौचालयों की जिम्मेदारी के तहत विभिन्न संगठनों की वर्तमान भूमिका को देखकर कोलकाता नगर निगम फिर से उसी रास्ते पर क्यों चल रहा है? हालाकि अधिकारियों का दावा है कि निर्माण के बाद नगर निगम शौचालयों की देखरेख करेगी। लिहाजा नगर पालिका के 144 वार्डों में सिर्फ महिलाओं के लिए सार्वजनिक शौचालय होंगे। इसके लिए पार्षदों को पत्र लिखकर जमीन चिन्हित करने को कहा है। उस आधुनिक शौचालय से महिलाओं को सभी सुविधाएं मिलेंगी। सैनिटरी नेपकिन मशीन भी लगेगी।

 

Visited 115 times, 1 visit(s) today
शेयर करें

मुख्य समाचार

Kolkata Metro Timing : आज से रात 11 बजे के बाद भी चलेगी मेट्रो !

कोलकाता : इस वक्त की बड़ी खबर आ रही है कि मेट्रो रेलवे आज यानी 24 मई से प्रायोगिक तौर पर रात में ब्लू लाइन आगे पढ़ें »

Weather Update: बंगाल में भीषण गर्मी के बीच आज 3 जिलों में बदलेगा मौसम, कहां-कहां होगी बारिश ?

कोलकाता: बंगाल में लोगों को लू और गर्म हवा का सामना करना पड़ रहा है। मौसम विभाग की मानें तो गर्मी की लहर अभी कम आगे पढ़ें »

CM ममता के खिलाफ सड़क पर उतरे साधु… 

कोलकाता मेट्रो: यात्रियों के लिए बड़ा तोहफा…

कोलकाता के इन इलाकों में 2 महीने तक लागू रहेगा धारा 144, पुलिस कमिश्नर का ऐलान

Cyclone Remal Update: कोलकाता में दो दिनों तक होगी भारी बारिश, दो जिलों में जारी रेड अलर्ट

अब Flipkart में होगी Google की हिस्सेदारी….

आरक्षण पर कांग्रेस से मोदी का तीखा सवाल, ‘ब्राह्मण-बनिया परिवार में गरीब नहीं होते क्या?

OBC प्रमाणपत्रों को रद्द नहीं होने देंगे, ऊपरी कोर्ट में जाएंगे : ममता

हल्की गिरावट के साथ बंद हुआ शेयर बाजार, Sensex ऑलटाइम हाई से लुढ़का

पैर से ‌लिखकर छात्र ने दी थी 12वीं की परीक्षा, आए इतने % अंक…

वोटिंग डाटा सार्वजनिक करने की मांग कर रहे याचिकाकर्ता को सुप्रीम कोर्ट से झटका

ऊपर