मुर्शिदाबाद हिंसा: कलकत्ता हाईकोर्ट की टिप्पणी, ‘बहरामपुर में EC चुनाव की तारीख पीछे कर दें’

कोलकाता: मुर्शिदाबाद में रामनवमी शोभायात्रा पर हुई पत्थरबाजी मामले में आज कलकत्ता हाईकोर्ट में सुनवाई हुई। हाईकोर्ट ने मंगलवार(23 अप्रैल) को चेतावनी दी कि वह पश्चिम बंगाल के उन लोकसभा क्षेत्रों में मतदान की अनुमति नहीं देगा, जहां रामनवमी समारोह के दौरान सांप्रदायिक हिंसा हुई थी। बता दें कि रामनवमी पर पत्थरबाजी की घटना 17 अप्रैल को हुई थी।

हाईकोर्ट ने क्या कहा ?

चीफ जस्टिस टीएस शिवगणम की अध्यक्षता वाली पीठ ने कहा क‍ि अगर लोग शांति और सद्भाव में नहीं रह सकते हैं, तो हम कहेंगे कि चुनाव आयोग को इन जिलों में संसदीय चुनाव नहीं करा सकता है। यही एकमात्र तरीका है। हाईकोर्ट के चीफ जस्‍ट‍िस ने कहा क‍ि हम चुनाव आयोग से दरख्‍वास्‍त करेंगे क‍ि बहरामपुर लोकसभा सीट पर चुनाव की तारीख पीछे कर दें। हाईकोर्ट ने यह ट‍िप्‍पणी मुर्श‍िदाबाद में राम नवमी के द‍िन हुई ह‍िंसा मामले की प्राथमिक सुनवाई के दौरान की, जहां लोग 8 घंटे शांति से अपने त्योहार नहीं मना सकते वहां अभी वोट कराने की जरूरत नहीं है।

यह भी पढ़ें: Gold Price Today: देश भर में आज फिर सोना-चांदी हुआ सस्ता, जानें रेट

हाईकोर्ट ने बंगाल सरकार से हिंसा पर मांगी रिपोर्ट

बता दें क‍ि मुर्श‍िदाबाद में रामनवमी के दौरान हुए दंगों की NIA जांच की मांग को लेकर याच‍िका दायर हुई थी। हाईकोर्ट ने इस मामले में राज्य सरकार से र‍िपोर्ट तलब की है और अब मामले की अगली सुनवाई 26 अप्रैल को होगी। हाईकोर्ट ने कहा है क‍ि आदर्श आचार संहिता लागू होने के बावजूद, अगर दो समूह के लोग इस तरह लड़ रहे हैं, तो वे किसी भी निर्वाचित प्रतिनिधि के लायक नहीं हैं।

अदालत ने कहा कि रामनवमी पर कोलकाता में भी इसी तरह के जुलूस निकले थे, लेकिन कोई हिंसा की खबर नहीं आई। पीठ ने कहा क‍ि कोलकाता में भी 23 जगहें हैं जहां जश्न मनाया गया लेकिन कोई अप्रिय घटना नहीं हुई। अगर आचार संहिता लागू होने पर ऐसा होता है, तो राज्य पुलिस क्या करती है? केंद्रीय बल क्या कर रहे हैं? दोनों झड़पों को रोक नहीं सके। पीठ ने राज्य के वकील से पूछा कि हिंसा से संबंधित मामलों में कितने लोगों को गिरफ्तार किया गया है। इस पर राज्य के वकील ने अदालत को सूचित किया कि सीआईडी ने अब जांच अपने हाथ में ले ली है। पीठ ने जवाब दिया क‍ि हमारा प्रस्ताव है कि हम भारत के चुनाव आयोग को एक सिफारिश करेंगे कि जो लोग शांति से जश्न नहीं मना सकते, उन्हें चुनाव में भाग लेने की अनुमति नहीं दी जानी चाहिए।

HC बोला- ‘बहरामपुर में चुनाव की तारीख पीछे कर दें…’
हालांकि हाईकोर्ट ने किसी भी सीट पर चुनाव स्थगित करने पर कोई आदेश जारी नहीं किया, लेकिन उसने कहा कि वह चुनाव आयोग को प्रस्ताव देगा कि बरहामपुर में चुनाव स्थगित कर दिया जाना चाहिए, जो मुर्शिदाबाद के अंतर्गत आता है। हाईकोर्ट ने राज्य पुलिस को सांप्रदायिक झड़पों पर एक रिपोर्ट दाखिल करने का भी निर्देश दिया। अगली सुनवाई शुक्रवार 26 अप्रैल को होगी।

Visited 33 times, 1 visit(s) today
शेयर करें
0
0

मुख्य समाचार

Kolkata Metro Timing : आज से रात 11 बजे के बाद भी चलेगी मेट्रो !

कोलकाता : इस वक्त की बड़ी खबर आ रही है कि मेट्रो रेलवे आज यानी 24 मई से प्रायोगिक तौर पर रात में ब्लू लाइन आगे पढ़ें »

Weather Update: बंगाल में भीषण गर्मी के बीच आज 3 जिलों में बदलेगा मौसम, कहां-कहां होगी बारिश ?

कोलकाता: बंगाल में लोगों को लू और गर्म हवा का सामना करना पड़ रहा है। मौसम विभाग की मानें तो गर्मी की लहर अभी कम आगे पढ़ें »

मोदी हर बार मतगणना से पहले 48 घंटे तक प्रचार पाने के लिए कहीं न कहीं बैठ जाते हैं….ममता

Jio सिनेमा पर IPL के प्रेमियों ने बनाया रिकार्ड…दर्शकों की संख्या बढ़कर 2,600 करोड़….

206 जनसभाएं और रोड शो के बाद आज PM मोदी के चुनावी अभियान का हुआ समापन…आज से PM माेदी करेंगे….

PM मोदी पहुंचे तमिलनाडु, आज से विवेकानंद रॉक मेमोरियल में करेंगे मौन व्रत…

Stock Market: नहीं संभल रहा है शेयर बाजार, Sensex 617 अंक गिरकर बंद

Jyeshtha Amavasya 2024 Kab Hai: ज्येष्ठ माह की वट अमावस्या कब है? जानें पूजा मुहूर्त और महत्व

अभिषेक बजाज फिक्शन शो ‘जुबिली टॉकीज़ – शोहरत, शिद्दत, मोहब्बत’ में आयेंगे नजर

भीषण गर्मी के कारण बेहोश हुआ बंदर…पुलिस अधिकारी ने फौरन….

हिन्दी पत्रकारिता दिवस: कलकत्ता के बड़ा बाजार से हुआ हिन्दी पत्रकारिता का उदय!

NEET UG 2024 Answer Key: नीट यूजी आंसर की जारी, इस Link से करें डाउनलोड

ऊपर