Kolkata News : … तो क्या सिंगल यूज प्लास्टिक का इस्तेमाल कभी नहीं होगा बंद ?

Fallback Image

घोषणा के साल भर हो गये मगर बदस्तूर जारी है सिंगल यूज प्लास्टिक का इस्तेमाल
अब 120 माइक्रोन से नीचे के प्ला​स्टिक पर है रोक
 
कोलकाता : एक साल पहले गत 1 जुलाई 2022 काे राज्य सरकार के प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड की ओर से घोषणा कर 75 माइक्रोन से नीचे यानी सिंगल यूज प्लास्टिक पूरी तरह बैन कर दिया गया था। इसके बाद गत वर्ष दिसम्बर महीने में इसे बढ़ाकर 120 माइक्राेन किया गया यानी अब 120 माइक्रोन से नीचे के प्लास्टिक के इस्तेमाल पर रोक है। हालांकि साल भर बीतने के बाद भी हालात नहीं बदले हैं। अब भी सिंगल यूज प्लास्टिक का इस्तेमाल बाजारों में धड़ल्ले से जारी है। मिठाई दुकानों से लेकर फलों और सब्जियों की दुकानों में, फूल की दुकानों से लेकर अन्य छोटे व्यवसायियों द्वारा बाजारों में सिंगल यूज प्लास्टिक का इस्तेमाल किया जा रहा है।बैन के बावजूद सिंगल यूज प्लास्टिक के इस्तेमाल को लेकर कोलकाता नगर निगम के मेयर फिरहाद हकीम ने कहा था कि केएमसी के लिये शहर के बाजारों में छापेमारी अभियान चलाना काफी मुश्किल है क्योंकि केएमसी के पास संसाधनों की कमी है।
हाल में हुई प्लास्टिक फेडरेशन के साथ बैठक
हाल में प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड की इंडियन प्लास्टिक फेडरेशन के साथ बैठक हुई। इस बैठक में प्लास्टिक वेस्ट को लेकर जारी प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के गाइडलाइन समझाये गये। इसके अलावा 120 माइक्रोन से नीचे के प्लास्टिक का इस्तेमाल नहीं करने की बात भी कही गयी। प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के एक अधिकारी ने बताया कि बोर्ड द्वारा लगातार प्लास्टिक को लेकर अभियान चलाया जा रहा है। राज्य में 100 से अधिक प्लास्टिक बनाने वाली फैक्ट्रियां हैं। लगातार फैक्ट्रियों पर छापेमारी की जा रही है और कई फैक्ट्रियों को बंद भी किया गया है। प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि शहरी विकास व पालिका मामलों की जिम्मेदारी है कि सॉलिड वेस्ट मैनेजमेंट सही ढंग से करे। हमने एक फैक्ट्री को बंद कर दिया है और कई फैक्ट्रियों पर छापेमारी की है। हम पूरी कोशिश कर रहे हैं ताकि सिंगल यूज प्लास्टिक का इस्तेमाल रोक सके।
यह कहना है प्लास्टिक फेडरेशन का
इंडियन प्लास्टिक फेडरेशन के प्रेसिडेंट शिशिर जालान ने सन्मार्ग से कहा, ‘120 माइक्रोन से नीचे का प्लास्टिक बनाने पर उनकी बिक्री नहीं हो पाती है क्योंकि इनकी कीमत प्रति प्लास्टिक 4 से 5 रु. हो जाती है जो छोटे दुकानदारों के लिये काफी अधिक है। वे इतना महंगा प्लास्टिक नहीं खरीदते हैं जबकि 75 माइक्राेन से नीचे के प्लास्टिक की कीमत 2 से ढाई रुपये ही होती है। इसे भी रिसाइकल किया जा सकता है। सबसे अधिक समस्या बिस्कुट और चिप्स के पैकेट्स को लेकर होती है। उन्हें रिसाइकल करना काफी मुश्किल हो जाता है।’
यह कहा पर्यावरण संबंधी संस्था ने
पर्यावरण से जुड़ी संस्था सबूज मंच की ओर से नव दत्ता ने कहा कि मैन्यूफैक्चर्स के साथ बैठक कर केवल प्लास्टिक का इस्तेमाल मना करने को कहने से कुछ नहीं होगा। इसे लेकर कार्रवाई करनी होगी जो नहीं की जा रही है। इस तरह बैन की बात पहले भी हुई है, लेकिन इस बार देखा जा रहा है कि प्लास्टिक का इस्तेमाल और बढ़ गया है। जब तक ईकाइयाें द्वारा उत्पादन बंद नहीं किया जायेगा और कोई वैकल्पिक व्यवस्था नहीं की जायेगी, तब तक ऐसा जारी रहेगा। प्लास्टिक वेस्ट मैनेजमेंट भी सही ढंग से नहीं हो रहा है, इसे ठीक करने की आवश्यकता है।
यह दिये गये प्रस्ताव
सिंगल यूज प्लास्टिक का इस्तेमाल रोकने को लेकर कई प्रस्ताव दिये गये हैं। पर्यावरणविद् व जलवायु से जुड़े मुद्दों पर काम करने वाले राजेश किशनपुरिया की ओर से दिये गये प्रस्तावों में बाजारों में हिन्दी, इंग्लिश और बांग्ला में बोर्ड लगाना, माइक से प्रचार करना, जुर्माना चालू करना आदि शामिल है। उन्होंने कहा कि आजकल सभी सलून व रिटेल दुकानों में छोटी प्लास्टिक बोतलों में पानी दी जाती है जिस कारण प्लास्टिक के बाेतल का इस्तेमाल भी काफी बढ़ गया है। प्लास्टिक बैग, रैपर, कंटेनर जैसी चीजें नालियों को जाम कर देती हैं जिससे पर्यावरण को खतरा हो गया है।

Visited 145 times, 1 visit(s) today
शेयर करें

मुख्य समाचार

Kolkata Metro Timing : आज से रात 11 बजे के बाद भी चलेगी मेट्रो !

कोलकाता : इस वक्त की बड़ी खबर आ रही है कि मेट्रो रेलवे आज यानी 24 मई से प्रायोगिक तौर पर रात में ब्लू लाइन आगे पढ़ें »

Weather Update: बंगाल में भीषण गर्मी के बीच आज 3 जिलों में बदलेगा मौसम, कहां-कहां होगी बारिश ?

कोलकाता: बंगाल में लोगों को लू और गर्म हवा का सामना करना पड़ रहा है। मौसम विभाग की मानें तो गर्मी की लहर अभी कम आगे पढ़ें »

कोलकाता मेट्रो: यात्रियों के लिए बड़ा तोहफा…

कोलकाता के इन इलाकों में 2 महीने तक लागू रहेगा धारा 144, पुलिस कमिश्नर का ऐलान

Cyclone Remal Update: कोलकाता में दो दिनों तक होगी भारी बारिश, दो जिलों में जारी रेड अलर्ट

अब Flipkart में होगी Google की हिस्सेदारी….

आरक्षण पर कांग्रेस से मोदी का तीखा सवाल, ‘ब्राह्मण-बनिया परिवार में गरीब नहीं होते क्या?

OBC प्रमाणपत्रों को रद्द नहीं होने देंगे, ऊपरी कोर्ट में जाएंगे : ममता

हल्की गिरावट के साथ बंद हुआ शेयर बाजार, Sensex ऑलटाइम हाई से लुढ़का

पैर से ‌लिखकर छात्र ने दी थी 12वीं की परीक्षा, आए इतने % अंक…

वोटिंग डाटा सार्वजनिक करने की मांग कर रहे याचिकाकर्ता को सुप्रीम कोर्ट से झटका

सौतेला बाप ही निकला अभिनेत्री लैला खान का हत्यारा, कोर्ट ने सुनाई ऐसी सजा….

ऊपर