26 हजार कमाने वाले के पास कैसे आयी करोड़ों की संपत्ति, ईडी अधिकारियों ने पूछे सवाल

शेयर करे

पूर्व पोस्ट मास्टर की संपत्ति देख चौंक गये ईडी अधिकारी
माता-पिता थे दिहाड़ी मजदूर, खरीदा था चारपहिया वाहन
सन्मार्ग संवाददाता
कोलकाता : करोड़ों के गबन के मामले में ईडी अधिकारियों ने पूर्व पोस्टमास्टरलक्ष्मण हेम्ब्रम से शुक्रवार को घंटों पूछताछ की। उन्हें शुक्रवार को तलब किया गया था। तय समय से पहले ही पूर्व पोस्टमास्टर सीजीओ कॉम्प्लेक्स में हाजिर हो गये। इसके बाद उनसे ईडी के अधिकारियों ने पूछताछ शुरू की। उनसे पूछा गया कि कैसे 26 हजार की सैलरी में करोड़ों की संपत्ति कैसे बनायी गयी है। उनके अलावा और कौन-कौन इस गबन के मामले में शामिल है। उल्लेखनीय है कि मंगलवार को छापामारी के दौरान पाशकुंड़ा स्थित एक पूर्व पोस्ट मास्टर की संपत्ति देख ईडी के अधिकारी चौंक गये। पूर्व पोस्ट मास्टर का एक तो ग्रामीण इलाके में आलीशान घर है और दूसरा करोड़ों की संपत्ति के मालिक भी हैं वह।
दो चरणों में हुई पूछताछ
इतनी संपत्ति कैसे बनायी, इसे लेकर ईडी की टीम ने छानबीन शुरू कर दी है। इसके तहत उनसे दाे चरणाें में पूछताछ की गयी है। इसमें उन्हाेंने ईडी अधिकारियों को बताया है कि काफी संपत्ति उन्हें उपहार में मिली है। इधर, ईडी सूत्रों का कहना है कि वर्ष 2018 में प्राथमिक छानबीन में पांशकुड़ा शहर के निवासी लक्ष्मण हेम्ब्रम के खिलाफ रामचन्द्रपुर पोस्ट ऑफिस में 5 करोड़ रुपये के वित्तीय गबन का खुलासा हुआ। कुछ साल पहले पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार भी किया था। हालांकि पुलिस द्वारा उनकी संपत्ति को लेकर कोई खुलासा नहीं किया गया।
ईडी ने ग्राउंड जीरो पर की है तैयारी
मयना के रामचन्द्रपुर डाकघर में स्थानांतरण के बाद लक्ष्मण की संपत्ति में वृद्धि देखी गई। इसे लेकर अधिकारियों ने छापामारी के दौरान उनके पड़ोसियों से भी पूछताछ की। लक्ष्मण के पड़ोसियों ने बताया कि लक्ष्मण का मूल घर पांशकुड़ा -1 ग्राम पंचायत क्षेत्र के नस्करदिघी गांव में है। माता-पिता दोनों दिहाड़ी मजदूर थे। अपने प्रारंभिक जीवन में, लक्ष्मण अपने परिवार का भरण-पोषण करने के लिए ट्यूशन करते थे। फिर उन्हें डाक विभाग में नौकरी मिल गयी। एक 26 हजार की नौकरी करने वाले के पास कैसे कराेड़ों रुपये आ गये, यह एक बड़ा सवाल है, इस बारे में किसी को कुछ नहीं पता था। जब पुलिस ने गिरफ्तार किया तब जाकर सारा भेद खुला है।
आलीशान घर के अलावा खरीदे हैं दो स्थानों पर जमीन
स्थानीय लोगों के अनुसार, रामचन्द्रपुर डाकघर से जुड़ने के बाद लक्ष्मण इलाके में काफी लोकप्रिय हो गये। क्योंकि, उसी समय से लक्ष्मण विभिन्न क्लबों, मंदिर संस्थानों, पूजा समितियों को भरपूर आर्थिक सहयोग देने लगे। मयना में स्थानांतरित होने के बाद, लक्ष्मण ने पांशकुड़ा शहर के वार्ड नंबर 4 में जमीन के दो भूखंड खरीदे और दोनों स्थानों पर एक आलीशान घर बनाया। उन्होंने गांव में एक घर भी बनाया। लक्ष्मण ने मेचग्राम बाईपास के पास राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या 6 के किनारे ढाई बीघा जमीन खरीदी। लक्ष्मण ने एक चार पहिया वाहन भी खरीदा। बाद में उन्होंने इसे बेच दिया। ईडी के अ​धिकारियों ने उनसे इससे संबंधित दर्जनों सवाल पूछे।

Visited 71 times, 1 visit(s) today
0
0

मुख्य समाचार

कोलकाता: दक्षिण बंगाल भीषण गर्मी से झुलस रहा है। लोगों के लिए सुबह-सुबह तेज धूप में निकलना मुश्किल हो गया
मंगाफ: कुवैत के मंगाफ में बुधवार सुबह एक ब्लिडिंग में लगी भीषण आग में 41 लोगों की मौत हो गई
अयोध्या: राम मंदिर के चलते देश-दुनिया में अयोध्या का अपना अलग स्थान है। ऐसे में इसकी सुरक्षा के लिए तमाम
कोलकाता: पश्चिम बंगाल में अब रद्द की जा चुकी शिक्षकों की भर्ती के मामले में प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने उन
नदिया : नदिया जिले की अंतरराष्ट्रीय सीमा पर बांग्लादेशी मवेशी तस्करों ने बीती रात BSF जवानों पर हमला कर दिया। इस
कोलकाता: राज्य के अधिकांश जिले भीषण गर्मी से तप रहा है। दक्षिण बंगाल के लोग भीषण गर्मी से बेहाल हैं।
नई दिल्ली: हिंदू धर्म शास्त्रों में एकादशी तिथि का विशेष महत्व है। हर माह दोनों पक्षों की एकादशी को एकादशी
हावड़ा: बीते दिन रानीगंज के बाद अब कोलकाता से सटे हावड़ा में दिनदहाड़े डकैती की वारदात हुई है। दरअसल, हावड़ा
नई दिल्ली: सुप्रीम कोर्ट ने NEET गड़बड़ी को लेकर सुनवाई के दौरान नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (NTA) को नोटिस जारी किया
हावड़ा : हाल ही में हुई गार्डनरीच की घटना ने हावड़ा निगम की आंखें खोल दीं। इसके बाद निगम की ओर
कोलकाता: पार्क स्ट्रीट के पार्क सेंटर में भीषण आग लग गई है। घटनास्थल पर दमकल की 9 गाड़ियां मौजूद है।
कोलकाता: मोदी कैबिनेट का गठन हो चुका है। अब केंद्र सरकार की ओर से राज्य के लिए बड़ी खुशखबरी है।
ऊपर