जब पोस्ता पहुंचें Governor ने पीया सत्तू का शरबत

सन्मार्ग संवाददाता
कोलकाता : हनुमान जयंती पर राज्यपाल डॉ. सी.वी. आनंदा बोस ने खुद ग्राउंड जीरो से शहर की सुरक्षा व्यवस्था का जायजा लिया। शहर के विभिन्न इलाकों का दौरा किया। इसी के तहत वे पोस्ता भी पहुंचें। राज्यपाल ने जहां मंदिर में पूजा की, लोगों से बातचीत की, सुरक्षा व्यवस्था की समीक्षा की, वहीं उन्होंने शरबत का भी आनंद लिया। पोस्ता इलाके में राज्यपाल हनुमान मंदिर चार चौक गए और वहां के पुजारी एवं भक्तों से बात की। वह सड़क के किनारे प्रतीक्षा कर रही भीड़ की ओर पैदल ही आगे बढ़े। स्थानीय लोगों से बातचीत करते हुए राज्यपाल ने उनसे पूछा कि क्या वे सुरक्षित महसूस कर रहे हैं। वहां ड्यूटी पर तैनात पुलिस अधिकारियों से उन्होंने मौजूदा कानून-व्यवस्था की स्थिति की जानकारी ली। इसके बाद वे एक सत्तू की दुकान पर पहुंचे। दुकानदार से जानना चाहा कि यह पेय कैसे बनाया जाता है। इसके बाद उन्होंने दुकानदार से एक गिलास सत्तू का शरबत पिलाने को कहा। दुकानदार ने राज्यपाल के सामने शरबत तैयार किया। दुकानदार भी राज्यपाल को देखकर खुश हो गया। उसे यकीन नहीं हो रहा था कि राज्यपाल खुद उनकी दुकान में आये हैं। सामान्य ग्राहक की तरह राज्यपाल ने सत्तू का शरबत पीया। उन्होंने दुकानदार को अपनी जेब से निकालकर रुपये दिये।
व्यापारियों से की बात
क्षेत्र के कुछ छोटे व्यापारियों से राज्यपाल ने बात की। उन्होंने उनसे शांति और सद्भाव बनाए रखने की अपील की। किसी भी समस्या में पुलिस से बात करने की बात कही। उस समय राज्यपाल के साथ राज्य पुलिस के कुछ अधिकारी भी थे।
रामनवमी के जुलूस के दौरान हुगली और हावड़ा जिलों के कुछ हिस्सों में हिंसा के बाद हनुमान जयंती के मद्देनजर सुरक्षा बल राज्य भर में कड़ी निगरानी रख रहे हैं।

Visited 107 times, 1 visit(s) today
शेयर करें

मुख्य समाचार

Mahashivratri 2024 Puja Samagri: महाशिवरात्रि में शिवजी की पूजा सामग्री की पूरी लिस्ट, यहां देखें

कोलकाता : महाशिवरात्रि का पर्व भगवान शिव को समर्पित हिंदू धर्म का महत्वपूर्ण पर्व है। इस दिन भगवान शिव की पूजा-अर्चना की जाती है और आगे पढ़ें »

IND vs PAK T20 World Cup: भारत-पाकिस्तान मैच के टिकट का दाम सुनकर चौंक जाएंगे

नई दिल्ली: न्यूयॉर्क में होने वाले ICC टी-20 विश्वकप में भारत और पाकिस्तान की टीमें भिड़ेंगी। अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (ICC) अमेरिका में क्रिकेट को बढ़ावा आगे पढ़ें »

ऊपर
error: Content is protected !!