Underwater Metro: हावड़ा रेलवे स्टेशन से मेट्रो तक की दूरी होगी कम, जानिए रेलवे का नया प्लान

हावड़ा: रेलवे ने यात्रियों की सुविधा के लिए हावड़ा रेलवे स्टेशन से हावड़ा मेट्रो स्टेशन तक सबवे बनाने की योजना बनाई है। मेट्रो रेल के जीएम पी उदयकुमार रेड्डी ने कहा कि यह योजना इसलिए बनाई गई है ताकि यात्री हावड़ा में लोकल ट्रेनों से उतर सकें और जल्दी से मेट्रो स्टेशन पहुंच सकें। हावड़ा मैदान से एस्प्लेनेड तक गंगा के नीचे मेट्रो सेवा गत 15 मार्च से शुरू हुई। पहले दिन से ही इस मेट्रो को लेकर यात्रियों में काफी उत्साह देखने को मिल रहा है। लेकिन ऐसा लग रहा है कि लोकल ट्रेन के यात्रियों को मेट्रो तक पहुंचने में काफी समय लग रहा है। वापसी में भी वही बात है कि बहुत घूमना पड़ता है। कभी-कभी तो बहुत भीड़ हो जाती है। हालांकि यात्रियों की सुविधा के लिए कुछ साइनेज और आरपीएफ की संख्या बढ़ाई गई है। बावजूद यात्रियों को यात्रा करने में परेशानी हो रही है। हालांकि उक्त योजना मेट्रो से लोकल और लोकल से मेट्रो में उतरने का रास्ता आसान बनाने के लिए है।

ये भी पढ़ें: Kolkata Metro: एस्प्लेनेड-सियालदह के बीच कितना हुआ मेट्रो का काम, कब से होगी शुरुआत ?

वहीं जीएम ने कहा कि यात्री सुविधा के लिए मेट्रो स्टेशनों पर साइनेज बढ़ाए जाएंगे। इसके अलावा यात्रियों को क्यूआर कोड वाले टिकटों को समझने में कोई दिक्कत न हो, इसके लिए भी इसे बढ़ावा दिया जाएगा। रेड्डी ने कहा कि पिछले शुक्रवार से शुरू हुई हावड़ा मैदान से एस्प्लेनेड सेवा में गुरुवार तक लगभग 3,42,000 यात्री थे। लेकिन जैसे-जैसे दिन बीत रहे हैं, मेट्रो में यात्रियों की संख्या कम होती जा रही है। और इसकी वजह स्टेशन से मेट्रो स्टेशन तक आने-जाने में होने वाली परेशानी को माना जा रहा है। मेट्रो सूत्रों के मुताबिक, पहले दिन जहां गंगा तल पर करीब 70 हजार लोगों ने मेट्रो में सफर किया, वहीं बुधवार को यह संख्या घटकर 43 हजार रह गई। यानी पांचवें दिन पहले दिन की तुलना में करीब 27 हजार यात्री कम हो गये। नतीजतन, मेट्रो शुरुआत में यात्रियों की संख्या में गिरावट का कारण खोजने के लिए बेताब है। जीएम ने पूर्व रेलवे के जीएम मिलिंद के देउस्कर के साथ मिलकर गत शुक्रवार को हावड़ा स्टेशन का दौरा किया।

वहां उन्होंने यात्री सुविधा के सभी इंतजामों की जांच करने के बाद हावड़ा के डीआरएम के साथ बैठक की कि और क्या किया जा सकता है। हालांकि, माना जा रहा है कि अगर यह मेट्रो एस्प्लेनेड से सियालदह सेक्शन को कवर करेगी तो इसमें यात्रियों की संख्या कई गुना बढ़ जाएगी। जीएम ने कहा कि यह हिस्सा अक्टूबर में ही पूरा हो सकता है। यह शहरवासियों के लिए किसी उपहार से कम नहीं होगा।

Visited 11,492 times, 1 visit(s) today
शेयर करें

मुख्य समाचार

Kolkata Metro Timing : आज से रात 11 बजे के बाद भी चलेगी मेट्रो !

कोलकाता : इस वक्त की बड़ी खबर आ रही है कि मेट्रो रेलवे आज यानी 24 मई से प्रायोगिक तौर पर रात में ब्लू लाइन आगे पढ़ें »

Weather Update: बंगाल में भीषण गर्मी के बीच आज 3 जिलों में बदलेगा मौसम, कहां-कहां होगी बारिश ?

कोलकाता: बंगाल में लोगों को लू और गर्म हवा का सामना करना पड़ रहा है। मौसम विभाग की मानें तो गर्मी की लहर अभी कम आगे पढ़ें »

ऊपर