Shankh Upay : पैसों से सदा भरी रहेगी घर की तिजोरी, बस एक बार …

कोलकाता : हिंदू धर्म में कार्तिक माह का विशेष महत्व है। इस माह में मां लक्ष्मी और भगवान विष्णु की पूजा से शुभ फलों की प्राप्ति होती है। इस माह में धन की देवी के साथ-साथ शंख की पूजा और कुछ उपाय भी बेहद चमत्कारी सिद्ध होते हैं। देवी की पूजा में शंख बहुत ही पवित्र और मंगलकारी माना गया है। शंख को लगभग सभी देवी-देवताओं ने अपने हाथ में धारण किया हुआ है। शास्त्रों में विष्णु भगवान की पूजा तो शंखनाद से ही शुरू होती है।

ज्योतिष शास्त्र में कहा गया है कि जिस घर में पूजा के समय नियमित रूप से शंख बजाया जाता है उस घर में दुख, दरिद्रता और बाधाएं कभी नहीं आती। मां लक्ष्मी का वास रहता है। धन-धान्य की कोई कमी नहीं रहती। कहते हैं कि शंख को मां लक्ष्मी का भाई माना जाता है। आइए जानते हैं शंख के इन उपायों से सभी समस्याओं को दूर कैसे किया जा सकता है।

शंख से जुड़े उपाय 

– अगर आप आर्थिक तंगी से गुजर रहे हैं, किसी तरह के कर्ज से बचने और मां लक्ष्मी की कृपा पाने के लिए घर में दक्षिणावर्ती शंख को विधिविधान के साथ स्थापित करें। नियमित पूजा करें, ऐसा माना जाता है कि जिस घर में दक्षिणावर्ती शंख होता है वहां हमेशा मां लक्ष्मी का वास होता है। वहीं, अगर आप इसे अपने कार्यस्थल पर रखते हैं तो भी शुभ फलों की प्राप्ति होगी।

– ज्योतिष शास्त्र का कहना है कि शंख की ध्वनि को मंगलकारी माना गया है। कहा जाता है कि जिस घर में शंखनाद होता है, वहां किसी प्रकार की उपरी बाधा या भूत प्रेत घर में नहीं आते। कहते हैं कि शंख बजाने से दरिद्रता और दुख आदि दूर होते हैं।

– शंख को लेकर मान्यता है कि शंख बजाने वाले की लंबी आयु और आरोग्य की प्राप्ति होती है। ऐसा भी कहा जाता है कि शंख बजाने से व्यक्ति के फेफड़े मजबूत होते हैं। इतना ही नहीं, नियमित घर में शंखनाद करने से घर की नकारात्मक शक्तियों का नाश होता है और सकारात्मक ऊर्जा वास करती है।

 

शेयर करें

मुख्य समाचार

Loksabha Elections : 21 राज्यों की 102 सीटों पर 63% वोटिंग

नई दिल्ली : लोकसभा के फर्स्ट फेज में 21 राज्यों-केंद्र शासित प्रदेशों की 102 सीटों पर वोटिंग पूरी हुई है। सुबह 7 बजे से शाम आगे पढ़ें »

चीन की उड़ी नींद! भारत ने फिलीपींस को भेजा ब्रह्मोस क्रूज मिसाइल

नई दिल्ली: भारत ने फिलीपींस को शक्तिशाली ब्रह्मोस सुपरसोनिक क्रूज मिसाइल की पहली खेप भेज दी है। डिफेंस एक्सपोर्ट में भारत ने ये बड़ा कदम आगे पढ़ें »

ऊपर